यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कन्नौज में सीबीआइ की बड़ी कार्रवाई, चाइल्ड अब्यूज रैकेट का भंडाफोड़


🗒 गुरुवार, फरवरी 22 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सीबीआइ ने आज कन्नौज में एक बड़ी कार्रवाई कर सोशल मीडिया पर चाइल्ड पोर्न ग्रुप संचालन का भंडाफोड़ किया। इस सिलसिले ग्रुप में संचालक को गिरफ्तार कर उस ग्रुप के 129 सदस्यों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

कन्नौज में सीबीआइ की बड़ी कार्रवाई, चाइल्ड अब्यूज रैकेट का भंडाफोड़

गुरुवार देर शाम कन्नौज सदर कोतवाली क्षेत्र के एक मोहल्ले में पहुंच इलाके की पुलिस की मदद से छापा मारा गया। इस मामले के सामने आने के बाद अब बड़े देह व्यापार गैंग के खुलने की संभावना है। एसपी हरीश चंदर ने बताया कि सीबीआइ टीम अपना काम कर रही है। पुलिस उनकी मदद करेगी।

सीबीआइ टीम के प्रभारी निरीक्षक जुगल किशोर टीम समेत सदर कोतवाली पहुँचे। यहां से पुलिस लेकर शहर के मोहल्ला हरदेवगंज पहुंचे। टीम ने यहां निखिल वर्मा उर्फ़ कुनाल को उसके घर से पकड़ लिया। उससे चाइल्ड पोर्न ग्रुप के माध्यम से सोशल साइट्स पर युवाओं व किशोरों को चंगुल में फंसाने को लेकर कड़ी पूछताछ की। इसके बाद सीबीआइ आरोपी को मेडिकल परीक्षण के लिए लेकर पहुंची है। सदर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक एके सिंह ने बताया कि आरोपी को दिल्ली सीबीआइ कोर्ट में पेश कर उसे रिमांड पर लिया जायेगा। इसके साथ उसके गैंग में शामिल सभी 129 सदस्यों का पता लगाकर गिरफ्तार किया जाएगा।

पुलिस व सीबीआइ सूत्रों के मुताबिक निखिल की उम्र करीब 20 वर्ष है। बीकॉम की पढ़ाई करने के बाद से वह बेरोजगार है। इसके बाद उसने चाइल्ड पोर्न वीडियो बनाने व बेचने को लेकर सोशल साइट्स पर कई ग्रुप बना लिए। उसके वाट्सअप ग्रुप में फिलहाल 129 सदस्यों की जानकारी मिली है। बाकी पड़ताल कराई जा रही है।वाट्सअप ग्रुप पर चल रहे चाइल्ड अश्लीलता वाले वीडियो बनाने के बाद खरीदने व बेचने को लेकर ग्राहकों की तलाश होती थी। ग्रुप के सभी सदस्य अलग अलग तरह से चाइल्ड पोर्न ग्रुप में अपनी भूमिका निभाते थे। अभी सीबीआई अपने पत्ते नहीं खोल रही लेकिन ग्रुप को करीब दो से तीन साल से संचालित करने की बात सामने आई है। ग्रुप के एडमिन निखिल से पूछताछ के बाद कई रहस्य सामने आएंगे। इसीलिए सीबीआइ ने आरोपी से बंद कमरे में घंटो पूछताछ की। उससे ग्रुप में शामिल सदस्यों की पड़ताल की जा रही है। पुलिस सूत्र बताते हैं कि एक-एक वीडियो की खरीद हज़ारों रुपये तक में होती थी।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक चाइल्ड पोर्न ग्रुप के एडमिन निखिल का जुड़ाव बड़े देह व्यापार गैंग से होने की आशंका है। सीबीआइ को इसके क्लू दिल्ली से मिलने की चर्चाएं हैं। बताया गया कि सीबीआई को ग्रुप के शिकार कुछ लोगों की शिकायत से ही जांच आगे बढ़ी। ठीक ढंग से जांच पूरी होने के बाद बड़े गैंग का पर्दाफाश होने की संभावना है। सीबीआइ कई पहलुओं पर पूरे मामले पर निगाह बनाए हुए है। पूरी जांच होने के बाद परत दर परत मामला सामने आना तय है।

 

आगरा से अन्य समाचार व लेख

» जिला आगरा में देर रात सिलेंडर फटने से पांच लोगों की मौत, एक दर्जन घायल

» आगरा में युवक ने गोली मारकर की आत्‍महत्‍या, परिजनों में मचा कोहराम

» ताजमहल का दीदार करने इस साल हजारों की संख्या बढ़ रहे पर्यटक

» पदमभूषण कवि गोपालदास नीरज अब नहीं रहे

» कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पूरी तरह से भारतीय: अखिलेश यादव

 

नवीन समाचार व लेख

» पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का तंज प्रधानमंत्री मोदी ने तो 50 माह में 50 देशों की यात्रा कर डाली

» लखनऊ के गोमतीनगर मे डिजिटल इंडिया की फर्जी वेबसाइट के जरिये ठगे 11 करोड़

» फतेहपुर जिले में लड़की के घरवालों ने की प्रेमी की हत्या, खबर सुनते ही प्रेमिका ने लगा ली फांसी

» जनपद शाहजहांपुर में व्‍यापारी की गोली मारकर हत्‍या, दोस्त पर लगा आरोप

» UP सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दिया विजन डाक्यूमेंट का मसौदा