आगरा में फ्लाइट लेफ्टिनेंट का शव सरकारी आवास में फंदे से लटका मिला

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आगरा में फ्लाइट लेफ्टिनेंट का शव सरकारी आवास में फंदे से लटका मिला


🗒 शुक्रवार, अगस्त 10 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

एयरफोर्स स्टेशन परिसर में स्थित आवास में गुरुवार सुबह फ्लाइट लेफ्टिनेंट का शव फंदे से लटका मिला। उनकी बहन ने वरिष्ठ अधिकारी पर उत्पीडऩ का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। इसके लिए वे राष्ट्रपति से मिलकर शिकायत भी करेंगी। 

आगरा में फ्लाइट लेफ्टिनेंट का शव सरकारी आवास में फंदे से लटका मिला

बिहार के बेगूसराय निवासी 29 वर्षीय चमन कुमार पुत्र देवेंद्र फ्लाइट लेफ्टिनेंट के पद पर आगरा एयरफोर्स स्टेशन में दो साल से तैनात थे। गुरुवार को सुबह वे परेड में गए थे। वहां से लौटकर शेविंग कर तैयार हुए। पुलिस के मुताबिक वह इसके बाद ब्रेकफास्ट करने नहीं पहुंचे थे। उनके साथी तलाश में आवास में पहुंचे। दरवाजा खटखटाया, लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। इसके बाद वे कुंडी तोड़कर अंदर पहुंचे। उनका शव पंखे के सहारे फंदे पर लटक रहा था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतारा। गले में डिश केबिल का फंदा लगा था। एयरफोर्स के अधिकारियों ने चमन के भाई सुमन सौरभ को सूचना दी। वे रायपुर में आयकर अधिकारी हैं। चमन की बहन प्रियंका झा ग्रेटर नोएडा में रहती हैं। गुरुवार शाम को प्रियंका अपने पति कर्नल झा के साथ पोस्टमार्टम हाउस पहुंचीं। बहन ने आरोप लगाया कि चमन का उनके एक वरिष्ठ अधिकारी उत्पीडऩ कर रहे थे। इसकी शिकायत चमन ने फरवरी में अधिकारियों से की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

फ्लाइट लेफ्टिनेंट चमन कुमार होनहार थे। एयरफोर्स में भर्ती होने के बाद भी आगे बढऩे की कोशिश में थे। कुछ दिन पहले उनका नेशनल डिफेंस एकेडमी एनडीए में इंस्ट्रक्टर के रूप में चयन हो गया था। उनकी बहन ने इसमें भी वरिष्ठ अधिकारी पर बाधक बनने का आरोप लगाया है। बहन प्रियंका ने बताया कि चमन बहुत होनहार थे। उन्होंने प्रेसिडेंट फ्लाइंग की ट्रेनिंग ले रखी थी। अब वह नेशनल डिफेंस एकेडमी में ट्रेनिंग देने के लिए तैयारी कर रहा था। कुछ दिन पहले उसका एकेडमी में इंस्ट्रक्टर के पद पर चयन हो गया था। मगर, वरिष्ठ अधिकारी ने इसमें ऐसी बाधा डाली कि अब उनका वहां जाना लगभग रद हो गया था। अधिकारी उसका कॅरियर बर्बाद करने की कोशिश कर रहा था। एयरफोर्स के फ्लाइट लेफ्टिनेंट की मौत को पुलिस और एयरफोर्स के अधिकारी खुदकशी मान रहे हैं। मगर, परिजन अभी इस पर चुप्पी साधे हैं। देर रात तक उन्होंने इस संबंध में कोई मुकदमा भी दर्ज नहीं कराया था।

आगरा से अन्य समाचार व लेख

» आगरा मे एंबुलेंस न मिलने से 15 किमी चलकर बीमार पति को ठेले पर लेकर पहुंची अस्पताल

» आगरा मे वर्दी बनी मजाक दारोगा की वर्दी पहने चाय वाले की फोटो वायरल

» अागरा की एसपी ट्रैफिक अाइपीएस में प्रमोशन न होने से दिया इस्तीफा

» अागरा- लखनऊ एक्सप्रेस वे की सर्विस रोड धंसने से 50 फिट गहरी खाईं में गिरी बोलेरो कार

» आगरा मे बच्चे न होने पर करंट लगाकर मार दी विवाहिता

 

नवीन समाचार व लेख

» आगरा में फ्लाइट लेफ्टिनेंट का शव सरकारी आवास में फंदे से लटका मिला

» जनपद गाजीपुर में संवासिनी गृह पर छापेमारी, दो महिलाओं सहित तीन गिरफ्तार

» विधानसभा मार्ग स्थित भाजपा मुख्यालय पर बीटीसी प्रशिक्षुओं ने बेसिक शिक्षामंत्री का आवास घेरा, पुलिस ने लाठी लेकर दौड़ाया

» डीएम के रोकने के बाद भी पुलिस संस्था में लगातार भेजती रही बच्चे

» राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष प्रो रामशंकर कठेरिया ने कहा एएमयू के जवाब से संतुष्ट नहीं एसटी आयोग