यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

इलाहाबाद में शुरू हुवास्वच्छ भारत मिशन नहीं होगा खुले में शौच


🗒 शनिवार, अक्टूबर 21 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

शहर को अतिशीघ्र खुले में शौच (ओडीएफ) मुक्त करने के लिए नगर निगम प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी है। ऐसे लोगों को ओडीएफ के प्रति जागरूक करने के लिए 'लोटा' अभियान छेड़ा गया है, जिनके घरों में शौचालय नहीं है। वहीं, उन्हें मुफ्त में शौच की सुविधा मुहैया कराने के लिए माडर्न टॉयलेट (इज्जतघर) बनाने की योजना है। नगर क्षेत्र में कुल ऐसे 35 माडर्न इज्जतघर बनाए जाने हैं, जिसमें से 14 नए बनेंगे। जबकि 21 जर्जर शौचालयों को अपग्रेड किया जाएगा।

इलाहाबाद में शुरू हुवास्वच्छ भारत मिशन नहीं होगा खुले में शौच

स्वच्छ भारत मिशन के तहत केंद्र एवं प्रदेश (दोनों) सरकारों का सारा जोर हर तरह की गंदगी से शहरों और गांवों को मुक्ति दिलाने पर है। इसी क्रम में उन लोगों को इज्जतघर बनवाने के लिए 20 हजार रुपये सरकारी मदद दी जा रही है, जिनके घरों में इज्जतघर नहीं है। हालांकि, शहर की तमाम मलिन बस्तियों में एक-दो कमरों में गुजारा करने वाले लोगों के यहां इज्जतघर बनवाने की जगह भी नहीं है।

निगम प्रशासन ने 13 ऐसे क्षेत्रों का चयन किया है, जहां सामुदायिक इज्जतघर के न होने से भी लोगों को खुले में शौच जाना पड़ता है। बहरहाल, 14 माडर्न इज्जतघर निर्माण की तैयारी अंतिम चरण में है। जल्द ही कार्य भी शुरू हो जाएगा। बता दें कि लोटा मिशन में सफाई एवं खाद्य निरीक्षकों और अवर अभियंताओं की क्षेत्रों में ड्यूटी लगाई गई है।

जो सुबह ऐसे लोगों को चिहिन्त कर उन्हें खुले में शौच न करने और योजना का लाभ लेने के लिए प्रेरित करते हैं। नगर आयुक्त हरिकेश चौरसिया ने बताया कि पहले से शौचालय की राशि भी बढ़ गई है। अधिकारियों की देखरेख में शौचालय बनवाया जा रहा है।

सार्वजनिक स्थल के 21 इज्जतघर होंगे अपग्रेड: निगम 21 ऐसे इज्जतघरों को अपग्रेड करेगा, जो सार्वजनिक स्थलों पर बने हैं, लेकिन जर्जर हालत में हैं। इससे आम शहरियों को फायदा मिलेगा।इन स्थानों पर बनेंगे नए इज्जतघर: न्याय विहार कालोनी शेरवानी लीजेसी (जयरामपुर), रेलवे कालोनी न्याय विहार, करबला फ्लाईओवर के पास, सुलेमसराय फॉसी इमली के पास, छोटा बघाड़ा में एनी बेसेंट स्कूल के पास, बाघंबरी गद्दी रोड, पूरा पड़ाइन गल्ला मंडी, कीडगंज में पंडानी बस्ती, परेड ग्राउंड त्रिवेणी रोड, पत्रकार कालोनी मऊसरैया, भुलई का पुरवा, मिर्जापुर रोड नैनी, गंजिया रोड और करामत की चौकी के पास नए इज्जतघर प्रस्तावित हैं। एक अधिकारी ने बताया कि ग्लोबल पोजीशनिंग सर्वे (जीपीएस) मैपिंग के जरिए इज्जतघरों का सर्वे कराने के बाद ये आंकड़े सामने आए।

यूजर फ्रेंडली होंगे इज्जतघर: प्रत्येक इज्जतघर इनवायरमेंटल और यूजर्स फ्रेंडली होंगे। इज्जतघर ऐसे बनेंगे, जिसका इस्तेमाल बच्चे, बुजुर्ग और दिव्यांग भी आसानी से कर सकें। दिव्यांगों के आसानी से चढ़ने के लिए रैंप बनाए जाएंगे। जबकि बुजुर्गो के लिए कामोड लगेंगे। उन्हें उठने और बैठने में असुविधा न हो, इसके लिए सीट के बगल हैंडल भी लगाए जाएंगे। इज्जतघर या तो सीवर लाइन से जोड़े जाएंगे अथवा सेफ्टी टैंक बनाए जाएंगे। हरेक इज्जतघर में महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग प्रवेश द्वार होंगे। प्रत्येक इज्जतघर के बनने में नौ से 10 लाख रुपये खर्च होने का अनुमान है।

इलाहाबाद से अन्य समाचार व लेख

» पुलिस ने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के बेटे की गाड़ी से उतरवाया पार्टी का झंडा

» यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए अब भी चुनौती बने नकल के कुख्यात जिले

» बड़ा फैसलाः हाईकोर्ट का रोड साइड अतिक्रमण कर बने धर्मस्थल हटाने का निर्देश

» रिटायर्ड टीचरों की पुनर्नियुक्ति पर उठे सवाल, हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से मांगा जवाब

» सीएम योगी आदित्यनाथ को बड़ी राहत, नहीं चलेगा दंगा भड़काने का केस

 

नवीन समाचार व लेख

» गुजरात में राज्यसभा का दंगल फिर रोमांचक, अशोक गहलोत होंगे कांग्रेस उम्मीदवार?

» श्रीदेवी की मौत के मामले में दुबई में जांच पूरी, केस किया गया बंद

» अलीगढ़ जनपद मे मुस्लिम फोरम निदेशक डाॅ॰ जसीम मोहम्मद ने अल्पसंख्यक कल्याण मन्त्री से भेंट की

» राम जन्मभूमि विवाद पर श्रीश्री रविशंकर बोले कि कुछ दुर्योधन एक इंच जमीन भी नहीं छोडऩा चाह रहे

» आम सहमति से बनेगा अयोध्या में श्रीराम मंदिर : श्रीश्री रविशंकर