यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

छात्र दिलीप हत्याकांड में टीटीई विजय निलंबित, विभागीय जांच शुरू


🗒 मंगलवार, फरवरी 13 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

एलएलबी के छात्र दिलीप सरोज की नृशंस हत्या करने वाले दबंग टीटीई विजय शंकर सिंह को निलंबित कर दिया गया है। एसएसपी आकाश कुलहरि ने टीटीई विजय की करतूत और फरारी से संबंधित पत्र वाराणसी मंडल के डीआरएम को भेजा। इस पर वाराणसी मंडल के डीआरएम ने उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए उसके खिलाफ विभागीय जांच बैठा दी। जांच रिपोर्ट आने के बाद बर्खास्तगी की कार्रवाई शुरू होगी। इस बीच आज प्रतापगढ़ में दिलीप सरोज के पिता को ढांढस बंधाने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य पहुंचे और दिलीप के पिता को आश्वस्त किया कि सरकार उसने साथ है। 

छात्र दिलीप हत्याकांड में टीटीई विजय निलंबित, विभागीय जांच शुरू

आरोपी विजय सुलतानपुर जिले के धनपतगंज, कूड़ेभार का रहने वाला है और गाजीपुर में तैनात है। पूर्वोतर रेलवे, वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार के मुताबिक, विजय शंकर सिंह को निलंबित किया जा चुका है। अब उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जा रही है। जांच के लिए एक टीम का गठन किया गया है। बता दें कि आरोपी विजय शंकर सिंह वालीबाल का राष्ट्रीय खिलाड़ी रहा है। उसे रेलवे में नौकरी खेल कोटे से मिली थी। उसकी तलाश में पुलिस टीमें फैजाबाद, सुलतानपुर, आजमगढ़, गाजीपुर और बलिया में कैंप कर रही हैं। 

इलाहाबाद से अन्य समाचार व लेख

» कुंभ मेला: मुख्य सचिव ने लिया तैयारियों का जायजा, दिया 1 हजार नई बसों का आदेश

» बार और बेंच की सहमति से लेंगे पश्चिमी हाईकोर्ट खंडपीठ पर निर्णय

» इंटरमीडिएट की परीक्षा से गायब रहे 1283 परीक्षार्थी, फिर हुआ पेपर लीक

» कार्ति चिदंबरम पर बोले महेंद्र नाथ पांडेय- बीजेपी की साफ सुथरी सरकार में ये हश्र होना ही था

» इलाहाबाद पुलिस लाइन में हुआ दंगा नियंत्रण का रिहर्सल

 

नवीन समाचार व लेख

» वसीम रिजवी के सीने में अचानक हुआ तेज दर्द, आइसीसीयू में भर्ती

» गोरखपुर से भाजपा प्रत्याशी उपेंद्र दत्त का लखनऊ में सफल ऑपरेशन

» मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में घपला, विवाहित जोड़ों की फिर शादी

» गोरखपुर में होली पर खास होती भगवान नरसिंह शोभायात्रा, सीएम योगी भी शामिल

» होली में इस बार मिलेगा विशेष फल, 30 वर्ष बाद बना शुभ संयोग