यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जनपद अमेठी में तालाब से निकली 'मुगलकालीन' देवी की मूर्ति, दर्शन को उमड़ी भीड़


🗒 बुधवार, जुलाई 11 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मलिक मोहम्मद जायसी कि जन्मस्थली में तालाब की खुदाई के दौरान हजारों साल पुरानी प्राचीन मूर्ति मिलने से मिलने थाना परिसर में मेला लगा हुआ है. हर कोई प्राचीन मूर्ति के दर्शन के लिए दूर-दूर से चला आ रहा है. ये प्राचीन मूर्ति मां दुर्गा की बताई जा रही है. माता के दर्शन के लिए दर्शनार्थियों की भीड़ उमड़ी हुई है. फिलहाल पुलिस ने पुरातत्व विभाग को सूचित कर दिया है. जल्द ही पुरातत्व विभाग इसकी जांच करेगा.अमेठी का जायस कस्बा सूफी संत मलिक मोहम्मद जायसी की जन्मस्थली है. रविवार को जायस में तालाब की खुदाई के दौरान कई सालों पुरानी मां दुर्गा की अत्यंत प्राचीन मूर्ति व उसके अंश मिले. इसके बाद यहां बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों व श्रद्धालुओं का जमावड़ा लगना शुरू हो गया.

जनपद अमेठी में तालाब से निकली 'मुगलकालीन' देवी की मूर्ति, दर्शन को उमड़ी भीड़

वहीं सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन भी हरकत में आया और उच्चाधिकारियों की मौजूदगी में मूर्ति को स्थानीय पुलिस की निगरानी में कोतवाली परिसर के अंदर मौजूद मंदिर परिसर में दर्शन के लिए स्थापित करवा दिया गया है.दरअसल जायस नगर पालिका व स्थानीय कस्बे के लोग कोतवाली के पास तालाब में खुदाई कर रहे थे. इस दौरान मजदूरों को अति प्राचीन अष्ठभुजा मां दुर्गा की मूर्ति मिली. स्थानीय लोगों की सूचना पर प्रशासन ने मजदूरों व नगर पालिका कर्मचारियों कि मदद से मूर्ति निकलवाई. लोग कयास लगा रहे हैं कि मूर्ति मुगलकालीन है.कुछ लोगों का तो यहां तक कहना है कि ये मूर्ति 1191 ई0 की है. उस समय मोहम्मद गौरी ने जब भारत पर आक्रमण किया था, तब तमाम मूर्तियां तोड़ी गई थीं. हो सकता है ये मूर्ति उस समय लोगों ने टूटने से बचाने के लिए जमीन में गाड़ दी हो.बहरहाल, मामले में अमेठी के अपर पुलिस अधीक्षक बीएस दुबे का कहना है कि जायस कोतवाली के ठीक सामने तालाब की खोदाई और उसके सौन्दर्यीकरण का काम चल रहा था. इसी दौरान एक प्रतिमा देवी जी की मिली है. इसे कारीगर ने इतना बेहतर बनाया है लेकिन देखने से ये साफ लग रहा है कि ये मूर्ति काफी प्राचीन है. इसके आंकलन के लिए पुरातत्व विभाग को बताया गया है, जल्द ही पुरातत्व विभाग आकर देखेगा.

अमेठी से अन्य समाचार व लेख

» जनपद अमेठी में मालगाड़ी के डिब्बे पटरी से उतरे, वरुणा एक्सप्रेस सहित कई ट्रेन रद

» अमेठी में संघ ने बढ़ाई अपनी ताकत, गांव-गांव में हुआ संगठन का फैलाव

» किसानों को अपनाना और सरकार पर निशाना: राहुल गांधी

» राहुल गांधी से मिलने के इंतजार में लाइन में लगे दिव्यांग

» अमेठी पहुंचे राहुल गाँधी ने कहा मोदी बुलेट नहीं केवल मैजिक ट्रेन चला सकते, असली बुलेट ट्रेन तो कांग्रेस चलाएगी

 

नवीन समाचार व लेख

» पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का तंज प्रधानमंत्री मोदी ने तो 50 माह में 50 देशों की यात्रा कर डाली

» लखनऊ के गोमतीनगर मे डिजिटल इंडिया की फर्जी वेबसाइट के जरिये ठगे 11 करोड़

» फतेहपुर जिले में लड़की के घरवालों ने की प्रेमी की हत्या, खबर सुनते ही प्रेमिका ने लगा ली फांसी

» जनपद शाहजहांपुर में व्‍यापारी की गोली मारकर हत्‍या, दोस्त पर लगा आरोप

» UP सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दिया विजन डाक्यूमेंट का मसौदा