यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पहले राठी और मुन्ना नें एक साथ पी चाय फिर हत्या की सुपारी को लेकर हुआ विवाद तो भून दिया


🗒 सोमवार, जुलाई 09 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 कुख्यात सुनील राठी और मुन्ना बजरंगी की अच्छी दोस्ती थी। यह दोस्ती चंद सेकेंड में दुश्मनी में बदल गई। सुबह छह बजे बैरक खुलने पर पहले एक साथ बैठकर दोनों ने चाय पी। हत्या की सुपारी देने को लेकर हुए विवाद में दोनों में कहासुनी हो गई। इसी बात पर सुनील राठी ने बजरंगी को गोलियों से भून दिया। दस गोलियां चलाई गई। इनमें से नौ गोली बजरंगी को लगी।

पहले राठी और मुन्ना नें एक साथ पी चाय फिर हत्या की सुपारी को लेकर हुआ विवाद तो भून दिया

पुलिस के मुताबिक रविवार रात सवा नौ बजे आने के बाद दोनों ने एक-दूसरे से मुलाकात कर हाल जाना। जेल प्रशासन ने विक्की सुन्हैड़ा की बैरक में मुन्ना बजरंगी को ठहराया। सुबह बैरक खुलने के बाद मुन्ना ने सुनील राठी से मुलाकात की। दोनों ने एक साथ बैठकर चाय पी। बाद में दोनो बैरक के बाहर आकर टहलने लगे। इसी दौरान उनकी पुरानी बातें होने लगी। सुनील ने बजरंगी से कहा कि तूने मेरी हत्या कराने की सुपारी दे रखी है, ऐसा मुझे पता चला है। इस पर उल्टा मुन्ना बजरंगी ने कहा कि मैंने नहीं, तूने मेरी हत्या की सुपारी दे रखी है। इसे लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया। मुन्ना बजरंगी ने एक पूर्व सांसद को गाली दे दी। इससे सुनील राठी को और गुस्सा आ गया।

सुनील राठी अपने साथ पिस्टल लिए हुए था। उसने मुन्ना बजरंगी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। एसपी जय प्रकाश का कहना है कि दोनो अपराधियों ने पहले मुलाकात की। इसी दौरान हत्या की सुपारी देने को लेकर हुए विवाद में सुनील राठी ने कुख्यात मुन्ना बजरंगी की हत्या कर दी। सुनील राठी ने हत्या करना स्वीकार कर लिया है। इस केस में सुनील राठी का अदालत से रिमांड बन गया है।जेल में दस गोलियां चली। पुलिस को मौके से दस खोखा कारतूस बरामद हुए। डॉक्टर के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम किया। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि मुन्ना बजरंगी को नौ गोली मारी गई हैं। तीन गोली सिर और छह गोली सीने में सटाकर मारी गई। टीम को सीने से एक गोली मिली। मुन्ना बजरंगी की बीस साल पूर्व पुलिस मुठभेड़ हुई थी। ऑपरेशन के बाद भी एक गोली उसकी छाती से नहीं निकली थी। आशंका जताई जा रही है कि बीस साल पुरानी गोली ही पोस्टमार्टम के दौरान निकली है। हत्या के दौरान मारी गई सभी गोलियां आर-पार हो गई।

जासं,बागपत: एसपी जय प्रकाश ने बताया कि सर्च अभियान के दौरान जेल के गटर की सफाई कराई गई तो उससे एक पिस्टल, दो मैग्जीन और 22 कारतूस बरामद हुए। घटनास्थल से 32 बोर के दस खोखा कारतूस मिले थे।

कब क्या हुआ

6 : 00 बजे : सुनील राठी और मुन्ना बजरंगी ने चाय पी।

6: 12 बजे : सुनील से मुन्ना बजरंगी का विवाद हुआ।

6: 15 बजे : सुनील ने गोलियां बरसा दी।

6: 30 बजे : पुलिस जेल में पहुंची।

6:45 : बजे मुन्ना बजरंगी का वकील जेल पहुंचा।

8 : 00 बजे : डीएम व एसपी घटनास्थल पर पहुंचे।

12:15 बजे : आगरा से डीआइजी संजीव त्रिपाठी जेल पहुंचे।

1: 10 बजे: पुलिस ने मुन्ना का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

2:15 बजे : मुन्ना बजरंगी की पत्नी परिजनों संग पोस्टमार्टम हाउस पहुंची।

4: 15 बजे : डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम किया।

4: 40 बजे : परिजन शव को लेकर जौनपुर के लिए रवाना हुए  

बागपत से अन्य समाचार व लेख

» जिला बागपत में मानव तस्करी का राजफाश, सात किशोर बरामद

» जनपद बागपत में सांप्रदायिक बवाल, पथराव व फायरिंग में दो सिपाही समेत 11 घायल

» जिला बागपत में लाखों का जुआ लगा हाईवे पर दौड़ाई घोड़ा बुग्गी, हो गया झगड़ा

» रालोद नेता व पूर्व मंत्री कोकब हमीद का निधन

» पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले में चार्जशीट कोर्ट में दाखिल, सुनील राठी समेत कई दोषी

 

नवीन समाचार व लेख

» मोहनलालगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र WHO की टीम के नेतृत्व में कंगारू केयर प्रोजेक्ट की जानकारी पूरे स्टाफ को दी

» मोहनलाल गंज कोतवाली के अंतर्गत भावा खेड़ा के पास डाक कर्मी की अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत

» दिनदहाड़े भरे बाजार से हुई चोरी,व्यापारियों में रोष

» सुदामा कुटी में नौ दिवसीय उत्सव का हुआ आयोजन

» अलीगढ़-:एस एस पी आकाश कुलहरि ने सिविल लाइन थाने का किया औचक निरीक्षण