यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बहराइच जिले मे ऑपरेशन के दौरान डॉक्टर ने पेट में ही छोड़ दी तौलिया, अल्ट्रासाउंड में सामने आई हकीकत


🗒 मंगलवार, जुलाई 10 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

बहराइच जिले के एक नर्सिंग होम से ऐसा ही मामला सामने आया है. जिसमें एक डॉक्टर ने ऑपरेशन के दौरान प्रसूता के पेट में तौलिया छोड़ दिया और टांका लगाकर महिला को डिस्चार्ज कर दिया. डिलीवरी के बाद करीब एक महीने तक महिला दर्द से परेशान रही.डोक्टर उसे बदल-बदल कर दवाएं देते रहे. लेकिन फायदा नहीं हुआ. हालत ज्यादा नाजुक होने पर महिला ने दूसरी जगह इलाज के लिये दिखाया.

बहराइच जिले मे ऑपरेशन के दौरान डॉक्टर ने पेट में ही छोड़ दी तौलिया, अल्ट्रासाउंड में सामने आई हकीकत

तब अल्ट्रासाउंड और सीटी स्कैन जांच में पता चला कि महिला के पेट में तौलिया पड़ी हुई है. तब दूसरे अस्पताल के डॉक्टर ने महिला का दोबारा ऑपरेशन कर तौलिया बाहर निकाल दिया. इस मामले में पीड़ित परिवारीजनों ने स्वास्थ्य विभाग के उच्चाधिकारियों से शिकायत की है. इस मामले पर सीएमओ डॉ. अरुण कुमार पाण्डेय ने बताया कि मामले की जांच के आदेश दिये हैं. जांच पूरी होने के बाद आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.घटना बलरामपुर जिले के श्रीनगर कटुआ के शिवपुरा गांव की है. यहां की निवासी मीरा देवी को एक महीने पहले प्रसव पीड़ा हुई थी. इस पर पति वंशीराम पांडेय ने महिला को बलरामपुर में दिखाया. जहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन की बात कही. इस पर वंशीराम पत्नी को लेकर बहराइच जिला महिला अस्पताल चला आया. अस्पताल में मिली दो महिला दलालों ने उसे बहराइच शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवा दिया. वहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर डिलीवरी तो करवा दी. लेकिन डॉक्टरों की लापरवाही के चलते महिला के पेट में एक तौलिया छोड़ दिया.पेट में पड़े कपड़े की वजह से महिला को पेट दर्द की शिकायत शुरू हो गयी और हालत बिगड़ने लगी. महिला की हालत बिगड़ती देख ऑपरेशन करने वाले आरोपी डॉक्टर ने लखनऊ स्थित अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया. वहां पर भी लाभ न होने पर वंशीराम ने पत्नी को बहराइच जिले की महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. सुषमा मिश्रा को दिखाया. जिसके बाद अल्ट्रासाउंड और सीटी स्कैन में ये पुष्टि हुई कि महिला के पेट में कपड़ा है. दूसरे अस्पताल के डॉक्टर ने ऑपरेशन किया तो बीमार महिला के पेट से काफी बड़ा कपड़े का टुकड़ा निकला. फिलहाल महिला की हालत गम्भीर है.पीड़ित महिला के पति बंशीराम पाण्डेय का कहना है कि निजी अस्पताल के डॉक्टरों ने उससे डिलीवरी और इलाज के नाम पर मोटी रकम वसूल की थी. फिलहाल महिला के पति ने मुख्य चिकित्साधिकारी अरुण पाण्डेय और एसपी को प्रार्थनापत्र देकर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

बहराइच से अन्य समाचार व लेख

» युवाओं में बढ़ रही नशे की प्रवृत्ति समाज के लिए घातक: कीर्ति प्रकाश भारती

» कृषि मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही ने कृषि विज्ञान केन्द्र नानपारा का किया भूमि पूजन

» प्रदेश उपाध्यक्ष व बलहा विधायक बने फरियादी

» बहराइच मे शराबी महिला का लाइव ड्रामा

» बहराइच जिले मे अपहरण के बाद बंधक बनाकर नाबालिग लड़की से गैंगरेप