यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आरबीआई, की 5-6 दिसंबर को होगी अगली MPC बैठक ब्याज दरों को बरकरार रख सकता है


🗒 सोमवार, दिसंबर 04 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी), जो अगले सप्ताह बैठक करने वाली है नीतिगत ब्याज दरों को वर्तमान दर पर ही बरकरार रख सकती है। मौजूदा समय में रेपो रेट 6 फीसद है। यह अनुमान इक्रा की ओर से की गई एक स्टडी में लगाया गया है। आपको बता दें कि खुदरा महंगाई (मुद्रास्फीति) या उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई दर अक्टूबर में सात महीने के उच्चतम स्तर के साथ 3.58 फीसद पर पहुंच गई थी, जो कि सितंबर महीने में 3.28 फीसद रही थी।

आरबीआई, की 5-6 दिसंबर को होगी अगली MPC बैठक ब्याज दरों को बरकरार रख सकता है

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की ओर से पॉलिसी रिव्यू के फैसलों को 6 दिसंबर को पेश किया जाएगा। अगली एमपीसी बैठक की शुरुआत 5 दिसंबर को हो रही है। रेटिंग एजेंसी इक्रा का कहना है कि हालांकि अक्टूबर के लिए सीपीआई मुद्रास्फीति वित्त वर्ष 2018 की दूसरी छमाही में 4.2-4.6% की सीमा से कम है जिसके बारे में एमपीसी ने अपनी पिछली बैठक में पूर्वानुमान लगाया था। वहीं वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) दरों में हालिया संशोधन कीमतों पर दबाव बनाएगा जो कि मुद्रास्फीति के जोखिमों को बरकरार रख सकता है।

क्या कहा इक्रा ने: इक्रा के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव नरेश टक्कर ने बताया, “सीपीआई आधारित मुद्रास्फीति के दूसरी छमाही में भी बढ़ने के आसार हैं और मार्च 2018 तक यह आंकड़ा 4.5 फीसद का हो सकता है। ऐसे में दिसंबर में होने वाली मौद्रिक नीति समिति की बैठक में ब्याज दरों पर आरबीआई की ओर से यथास्थिति बरकरार रखी जा सकती है।”

बिज़नेस से अन्य समाचार व लेख

» भारतीय अर्थव्यवस्था बदलाव की ओर अग्रसर, इन 10 क्षेत्रों में हुए सुधार

» नीरव की तीन कंपनियों ने दी दिवालिया की अर्जी दी

» 80 C ही नहीं अन्य धाराएं भी आपके निवेश पर बचा सकती हैं टैक्स

» कंपनी के दिवालिया होने पर क्या होता है, पढ़ें आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब

» इनकम टैक्स बचाना चाहते हैं तो आपको ये बातें मालूम होनी चाहिए

 

नवीन समाचार व लेख

» दिल्ली, मुंबई समेत प्रमुख शहरों में हड़ताल पर जाएंगे ओला, उबर के ड्राइवर

» हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मप्र समेत पांच राज्यों से 4 सप्ताह में मांगा जवाब

» दिल्ली अदालत में नेशनल हेराल्ड केस की सुनवाई आज

» अभिनेत्री मोनिका बेदी को हाईकोर्ट से झटका, नहीं मिलेगा 10 साल के लिए पासपोर्ट

» केंद्र की योजनाएं परखने आई नीति आयोग की टीम