यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

IPPB का लॉन्च अटल बिहारी वाजपयी के निधन के चलते टला


🗒 शुक्रवार, अगस्त 17 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के लॉन्च को स्थगित कर दिया है। यह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर केंद्र सरकार की ओर से देश में 7 दिन के राष्ट्रीय शोक के ऐलान के चलते किया गया है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को आईपीपीबी को लॉन्च करने वाले थे।

 IPPB का लॉन्च अटल बिहारी वाजपयी के निधन के चलते टला

आधिकारिक सूत्र के मुताबिक, “अटल जी को श्रद्धांजलि देने के चलते आईपीपीबी की लॉन्चिंग का समय बदला जा रहा है। इसकी नई तारीख की घोषणा जल्द की जाएगी।” वाजपेयी पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री रहे जिन्होंने अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा किया। बीते दिन 93 वर्षीय अटलजी ने एम्स में अंतिम सांस ली।

सरकार की देशभर में आईपीपीबी की 650 शाखाएं लॉन्च करने की योजना है। IPPB 1.55 लाख डाकघर शाखाओं के जरिये ग्रामीण इलाकों के लोगों को बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं उपलब्ध कराएगा। इससे देश का सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क अस्तित्व में आएगा जिसकी गांवों के स्तर तक मौजूदगी होगी।

डाकघरों में 3,250 एक्सेस पॉइंट होंगे और साथ ही 11,000 डाकिये होंगे। ये ग्रामीण और शहरी इलाकों दोनों में घर के दरवाजे पर बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराएंगे। IPPB को 17 करोड़ डाक बचत बैंक खाते को अपने खाते से जोड़ने की अनुमति है। इसके जरिए ग्राहकों की सुविधा बढ़ जाएगी और वो कोर बैंकिंग से जुड़ जाएंगे। ग्रामीण इलाकों में तकरीबन 1.30 लाख डाकघरों के जरिये आइपीपीबी की सेवाएं पहुंचेंगी। अभी ग्रामीण इलाकों में केवल 49 हजार बैंक शाखाएं हैं।एक लाख रुपये से अधिक जमा स्वीकार करने के लिए आइपीपीबी को तकरीबन 17 करोड़ डाकघर बचत बैंक (पीओएसबी) खातों से संबद्ध होने की अनुमति मिली है। यह कार्य चरणों में होगा। इससे जब कभी भी जमा रकम एक लाख रुपये को पार करेगी, उसे पोस्ट ऑफिस सेविंग बैंक खातों में हस्तांतरित किया जा सकेगा

बिज़नेस से अन्य समाचार व लेख

» आरबीआई रुपये की गिरती कीमत को ऐसे थाम सकता है

» पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में नहीं चाहते कई राज्य, राजस्व पर बुरा असर पड़ेगा

» समझिए घर की आर्थिक सुरक्षा के लिए होम इंश्योरेंस पालिसी लेना क्यों है जरूरी

» अब विदेश स्थित संपत्तियों पर भी लागू हो सकता है दिवालिया कानून, मामलों का जल्‍द होगा निपटारा

» अब सरकार की इस हेल्थ स्कीम से करोड़ों परिवारों को मिलेगा 5 लाख रुपये तक का बीमा

 

नवीन समाचार व लेख

» UP के आंगनबाड़ी केंद्रों में 14 लाख से ज्यादा फर्जी बच्चे, भोजन वितरण में फर्जीवाड़ा

» केंद्रीय मंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने कहा कि राम मंदिर कभी भी भाजपा का चुनावी मुद्दा नहीं

» पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती पर अनेक कार्यक्रम, प्रयागराज में मैराथन के लिए धावकों का जमावड़ा

» राफेल मामले में हाशिए पर धकेले गए भाजपा के कुछ नेताओं के तेवर को लेकर अटकलें तेज

» आशियाना क्षेत्र में जालसाजों ने रिटायर्ड कर्नल समेत चार के खातों से जालसाजों ने निकाले 1.79 लाख