यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

समझिए घर की आर्थिक सुरक्षा के लिए होम इंश्योरेंस पालिसी लेना क्यों है जरूरी


🗒 शनिवार, अगस्त 18 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 इंसान को अपना जीवन खुशहाल तरीके से जीने के लिए जिन तीन चीजों की सबसे ज्यादा जरुरत होती है, वह है रोटी, कपड़ा और मकान। कई बार एक इंसान अपनी जिंदगी की सारी कमाई खपा देता है लेकिन, अंत तक घर नहीं बनवा पाता। हर शख्स की यह ख्वाहिश होती है कि उसके पास भी एक सपने का घर हो। अगर आपके पास भी अपना घर है तो उसे संभाल कर रखें। यह आपकी जिंदगी की असली पूंजी है।

समझिए घर की आर्थिक सुरक्षा के लिए होम इंश्योरेंस पालिसी लेना क्यों है जरूरी

एक नया घर बनाने या खरीदने के दौरान कई खर्चे भी होते हैं, जिनमें होम इंश्योरेंस प्रमुख रुप से शामिल है। कई लोग इसे अतिरिक्त खर्चा मानते हैं लेकिन, यह आपके घर के लिए बेहद जरूरी है। देश में कई बैंक और वित्तीय संस्थान ऐसे हैं जो होम लोन देते हैं। आज के समय में होम लोन देने वाली कई कंपनियां और बैंक होम इंश्योरेंस पॉलिसी की मांग करती हैं। इसलिए अगर आप होम लेने ले रहे हैं तो आपको इसके साथ होम इंश्योरेंस पॉलिसी लेने के लिए कहा जाएगा।होम इंश्योरेंस पॉलिसी लेना आपके लिए कई तरह से फायदेमंद हैं। यह एक प्रभावी टूल होता है जो किसी भी संभावित आपदा से आपके घर को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करता है। यह न केवल आपके घर के स्ट्रक्चर के लिए होता है बल्कि घर के अंदर रखे सामनों को भी सुरक्षा प्रदान करता है।

पिछले कुछ वर्षों में देखा गया है कि बाढ़ और चक्रवात के चलते कई राज्यों को नुकसान होता है। हाल ही में केरल में हालात दयनीय बने हुए हैं। ऐसे में होम इंश्योरेंस होना बेहद जरूरी है। अगर आपने होम इंश्योरेंस ले रखा है तो इससे आपको भूकंप, चक्रवात, बाढ़, भूस्खलन जैसी कई प्राकृतिक आपदाओं से निपटने में मदद मिलेगी। ऐसी आपदाओं के दौरान अगर आपके घर को कोई भी नुकसान पहुंचता है तो इंश्योरेंस कंपनी इसके खर्चे उठाएगी।अगर आपने होम इंश्योरेंस ले रखा है और आपके घर में आग लग जाती है या विस्फोट से घर को नुकसान पहुंचता है तो भी इंश्योरेंस कंपनी ही इसके खर्चे वहन करेगी। इसके अलावा होम इंश्योरेंस कंपनी आतंकवादी हमला, दंगे आदि घटनाओं के दौरान भी जोखिम कवर करती है।

घर का ढांचा: होम इंश्योरेंस ​​देने वाली कंपनी आपदा के तहत आपके घर में हुए किसी भी नुकसान पर घर की मरम्मत या पुनर्निर्माण से संबंधित सभी खर्चे उठाती है। इसलिए घर खरीदते समय होम इंश्योरेंस का ऐसा प्लान चुनें जिससे आपके घर की पर्याप्त सुरक्षा कवर हो जाती हो।

आपका जरूरी सामान: होम इंश्योरेंस में अगर आपका व्यक्तिगत सामान आग से, चोरी से या तूफान से नष्ट हो जाता है तो इसे भी कवर किया जाता है। जैसे फर्नीचर, कपड़े, घरेलू उपकरण और अन्य व्यक्तिगत सामानों के नुकसान पर इंश्योरेंस कंपनी इसका जोखिम उठाती है। इसके अलावा गहने, चांदी के बने सामान सहित कई महंगी वस्तुओं को भी कुछ हद तक कवर किया जाता है।

कुछ होम इंश्योरेंस पैकेज में दुर्घटना के कारण अगर आपको कोई नुकसान पहुंचा है तो आप इसके लिए भी दावा कर सकते हैं। इससे होने वाली आंशिक या स्थायी अक्षमता के लिए आप मुआवजे की भी मांग कर सकते हैं।

प्रीमियम और लागत: होम इंश्योरेंस पॉलिसी प्रीमियम की राशि आमतौर पर आपकी ओर से चुने गए स्ट्रक्चर या जिन सामानों को आपने बीमा के तहत चुना है उसपर निर्भर करता है। आपके सामान का मूल्य वर्तमान बाजार मूल्य द्वारा निर्धारित किया जाता है।

बिज़नेस से अन्य समाचार व लेख

» अब विदेश स्थित संपत्तियों पर भी लागू हो सकता है दिवालिया कानून, मामलों का जल्‍द होगा निपटारा

» IPPB का लॉन्च अटल बिहारी वाजपयी के निधन के चलते टला

» अब सरकार की इस हेल्थ स्कीम से करोड़ों परिवारों को मिलेगा 5 लाख रुपये तक का बीमा

» एरिक्सन और आरकॉम के बीच डील हुई पक्की, 8 करोड़ डॉलर में हुआ सेटलमेंट

» PNB ने घोटाले रोकने को अपनाई आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तकनीक

 

नवीन समाचार व लेख

» हलीम मुस्लिम कालेज में बिजली पानी की समस्या को लेकर किया बवाल , एनसीसी कैडेट परेड के दौरान गश खाकर गिरे

» अब विदेश स्थित संपत्तियों पर भी लागू हो सकता है दिवालिया कानून, मामलों का जल्‍द होगा निपटारा

» इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा जीवित व्यक्ति का पुतला फूंकना प्रथम दृष्टया अपराध नहीं

» अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार के एक ही दिन में नौ करोड़ पौधरोपण पर निशाना साधा कहा भाजपा का नया झूठ

» नशेड़ी पति ने घरेलू विवाद के चलते पत्नी की जीभ काटी , हालत गम्भीर