यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

12 साल से कम आयु की बच्ची से शर्मनाक घटना में सीधे मौत की सजाः मेनका गांधी


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 13 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने जम्मू कश्मीर के कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म निंदनीय घटना है। देश के किसी कोने में 12 साल या इससे कम आयु की बच्ची के साथ ऐसी शर्मनाक घटना होती है तो पाक्सो एक्ट के बजाय सीधे मौत की सजा का प्रावधान हो।

12 साल से कम आयु की बच्ची से शर्मनाक घटना में सीधे मौत की सजाः मेनका गांधी

सरकार के समक्ष ये प्रस्ताव रखेंगी। उन्नाव कांड पर कहा प्रदेश व केंद्र सरकार इस मामले को लेकर गंभीर है। इस मामले में कठोर कार्रवाई की जाएगी। ऐसे मामले में सरकार को कटघरे में खड़ा करना गलत है । इसके पूर्व उन्होने जिले के पिछड़ेपन से उबरने के लिए अधिकारियों संग बैठक की। अधिकारियों को जमीनी स्तर पर कार्य करने को कहा। इसके लिये क्या-क्या करना है इसकी भी जानकारी ली गई।

चंदौली से अन्य समाचार व लेख

» मुगलसराय रेलवे शेड में दो दर्जन मृत सांपों के मिलने से खलबली

» चंदौली से एटीएस ने माओवादी कम्युनिस्ट सेंटर के नक्सली को किया गिरफ्तार

» चंदौली जनपद मे पुलिस छापेमारी में भारी विस्फोटक सामग्री के साथ दो युवक गिरफ्तार

» नक्सलियों की उत्तर प्रदेश में चहलकदमी, ग्राम प्रधान से मांगा चंदा

» बिना गार्ड के दौड़ी सिकंदराबाद एक्सप्रेस, गार्ड का सिग्नल न मिलने पर सच्चाई उजागर

 

नवीन समाचार व लेख

» लखीमपुर खीरी में निगरानी में लगी वन विभाग की टीम ने पकड़ा बाघ

» 12 साल से कम आयु की बच्ची से शर्मनाक घटना में सीधे मौत की सजाः मेनका गांधी

» समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पर राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की

» बुदेलखंड की धरती नहीं रहेगी प्यासी, तैयार की जा रही ठोस कार्ययोजनाः योगी

» बॉलीवुड ने उन्नाव, कठुआ मामले में न्याय की मांग की