यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सीतापुर मे शहीदो न भूलते हुए उनकी याद में मोमबत्ती जलाकर उन्हे श्रदांजलि दी


🗒 बुधवार, फरवरी 07 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सीतापुर- भारतीय मानवाधिकार एसोसिएसन द्वारा एक शाम शहीदो के नाम कार्यक्रम के तहत  स्थानीय ट्रांसपोर्ट चैराहा से लेकर लालबाग चैराहे तक कैंडल मार्च निकालकर संगठन के पदाधिकारियो ने शहीदो को श्रद्धांजलि अर्पित किया। इस अवसर पर संगठन पदाधिकारिओ ने अमर शहीदो की कुरबानी याद याद रखेगा हर हिंदुस्थानी के जमकर  नारे भी लगाये। रास्टीय कल्याण सचिव अनिल शर्मा ने कहा अनुरोध करता हुू सभी नगर वासिओ से कि वे सैनिक जिन्होंने देश के लिए सहादत दी है उन शहीदो न भूलते हुए उनकी याद में मोमबत्ती जलाकर उन्हे श्रदांजलि दे। इस मौके पर मुख्य रूप से अनिल शर्मा, संजय शर्मा, प्रदीप गुप्ता, आकाश राय, आशतोष शुक्ल, डॉ वीरेंद्र आर्य, भानु दीक्षित, विनीत दीक्षित, श्रवण बाजपई, सुनील टंडन, राम नरेश बाजपाई, महेंद्र कुमार दीक्षित, वीरेंद्र गुप्ता, उमेश बाजपेई, वेद बाजपेई, महावीर विश्वकर्मा, कमलेश राठौर,आशीष बाजपई, आशीष शुक्ल, विनोद गुप्ता, दिनेश कुमार परासर, उमेश बाजपई, गिरजा शंकर शुक्ला, सोमदत्त बाजपेई, ज्ञानू दीक्षित आदि उपस्थित रहें।  

सीतापुर मे शहीदो न भूलते हुए उनकी याद में मोमबत्ती जलाकर उन्हे श्रदांजलि दी

समाचार से अन्य समाचार व लेख

» बरेली के कोटक महिंद्रा बैंक में सामने आया 1.32 करोड़ का फर्जीवाड़ा

» बस्ती जनपद मे पेड़ से टकराई बारातियों से भरी पिकअप, तीन की मौत

» बहराइच में बेटे के प्रेम प्रसंग में बाप की हत्या

» अलीगढ़ में सेल्समैन को धमकाकर पेट्रोल पंप से 1.66 लाख लूटे

» फैजाबाद में मुन्ना बजरंगी गैंग के दो शार्प शूटर गिरफ्तार

 

नवीन समाचार व लेख

» बिजुआ ब्लाक में योगी शासन का नही दिख रहा ख़ौफ़ केवल स्वच्छता अभियान का स्लोगन लिख कर इत्रश्री करते बिजुआ ब्लाक का स्वास्थ्य महकमा

» डॉ बी0 के0 स्नेही ने समापन समारोह पर साशन का संदेश पुनः पढ़कर उपस्थित मरीजो ओर स्टाफ को सुनाया

» पलिया विधायक रोमी साहनी ने जरूरतमंदो को दिये 30000 तीस हजार रुपये।

» नाव संचालन बंद होने से ग्रामीणों को अपनी फसलें बचाने में हो रही है परेशानी ग्रामीणों ने की नाव संचालन कराने की मांग।

» संसद से तीन तलाक व नागरिकता बिल पास नहीं करा सकी मोदी सरकार