यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पीस पार्टी और निषाद दल मिलकर लड़ेंगे गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव


🗒 शनिवार, फरवरी 10 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

प्रदेश में अब पीस पार्टी व निषाद दल मिलकर चुनाव लड़ेंगे। इसकी शुरुआत लोकसभा के उपचुनाव से होगी। इसमें गोरखपुर व फूलपुर सीट के लिए दोनों दल साझा उम्मीदवार उतारेंगे। यह घोषणा शनिवार को राजधानी लखनऊ में आयोजित पीस पार्टी के उलमा सम्मेलन में की गई। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय कुमार निषाद ने कहा कि मुसलमानों व निषादों की बीमारी एक जैसी है इसलिए इलाज भी एक जैसा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक होकर ही दुश्मन से लड़ा जा सकता है। इसकी शुरुआत उपचुनाव से की जायेगी। इसके बाद 2019 का लोकसभा चुनाव भी साथ लड़ेंगे। 

पीस पार्टी और निषाद दल मिलकर लड़ेंगे गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव

उलमा सम्मेलन में तय किया गया कि अल्पसंख्यकों के आपसी मसले हों या उन्हें कानूनी सलाह देना इसके लिए एक कानूनी अधिकार मंच बनाया जाए। पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अयूब ने कहा कि यह मंच राष्ट्रीय, प्रादेशिक व जिले तीनों ही स्तर पर गठित किया जाएगा। इसमें उलमा, अधिवक्ता व अवकाश प्राप्त न्यायाधीशों को रखा जाएगा। 

दारुल उलूम नदवा के प्रधानाचार्य सइदुर्रहमान आजमी नदवी ने कहा कि गुमराह करने वाले लोग हमारे अंदर ही मौजूद हैं। हमारे मजहब के लोग ही शरीयत की खामियां हुकूमत के लोगों को बता रहे हैं। शरीयत के अंदर दखलंदाजी हो रही है। आज अचानक इन्हें मुस्लिम औरतों की चिंता क्यों होने लगी। इनका मकसद औरतों को राहत पहुंचाना नहीं बल्कि अल्पसंख्यकों को बदनाम करना है। आज हमारी यह हालत सही नुमाइंदगी न मिल पाने के कारण ही हुई है। 

चुनाव से अन्य समाचार व लेख

» त्रिपुरा में प्रचंड प्रचार से लेफ्ट का किला ढहाने में जुटी भाजपा

» त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: BJP ने सत्तारूढ़ माकपा पर लगाया अफवाह फैलाने का आरोप

» बिहार में यूपीए एक साथ मिलकर लड़ेगा उपचुनावः लालू प्रसाद यादव

» त्रिपुरा में बोले पीएम मोदी- गणतंत्र में नहीं 'गन-तंत्र' में भरोसा करती है कम्‍युनिस्‍ट पार्टी

» कर्नाटक पर किसका होगा कब्जा, कांग्रेस की रणनीति को कुंद करने में जुटी भाजपा