यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

विधानसभा चुनाव आते ही राजस्थान में कांग्रेस में मचा घमासान


🗒 शनिवार, जून 02 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा फेसबुक पर की गई एक टिप्पणी ने प्रदेश में कांग्रेस नेताओं में हलचल बढ़ा दी है। गहलोत ने कहा कि विधानसभा चुनाव में टिकट तय करने का काम पार्टी आलाकमान का होता है। इस बार भी पार्टी आलाकमान ही टिकट तय करेगा। गहलोत ने कहा कि राजस्थान में चल रहे 'मेरा बूथ,मेरा गौरव' कार्यक्रम के आधार पर कांग्रेस में उम्मीदवारों का चयन नहीं होने वाला है। गहलोत ने कांग्रेसजनों से अपील करते हुए कहा कि सब मिलकर मतदाताओं से सम्पर्क करें और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी का संदेश घर-घर तक पहुंचाए।

विधानसभा चुनाव आते ही राजस्थान में कांग्रेस में मचा घमासान

अशोक गहलोत के बयान से नाखुश है सचिन पायलट समर्थक

दरअसल, राजस्थान में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट की अगुवाई में 'मेरा बूथ, मेरा गौरव' कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम में पायलट के साथ ही कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे सहित कई वरिष्ठ नेता शामिल हो रहे है। गहलोत अब तक एक भी कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। चुनावी साल में प्रत्येक जिले और विधानसभा क्षेत्र में हो रहे 'मेरा बूथ,मेरा गौरव' कार्यक्रम की कमान पूरी तरह से सचिन पायलट समर्थकों के हाथ में है। इन कार्यक्रमों में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल भी हो रहे है ।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव डॉ.सी.पी.जोशी सहित कई बड़े नेता सार्वजनिक रूप से कह चुके है कि आगामी विधानसभा चुनाव पीसीसी अध्यक्ष की हैसियत से सचिन पायलट की अगुवाई में ही लड़ा जाएगा। पार्टी के अधिकांश टिकटार्थी विधानसभा चुनाव में टिकट के लिए पायलट से ही उम्मीद लगाए बैठे है। ऐसे समय में गहलोत द्वारा की गई टिप्पणी से पायलट समर्थकों में अंदरूनी नाराजगी है। पायलट समर्थक खुलकर तो नहीं बोल रहे, लेकिन व्यक्तिगत बातचीत में गहलोत के बयान पर नाखुशी जताते है।

प्रदेश कांगेस कमेटी के उपाध्यक्ष भंवरलाल मेघवाल ने गहलोत का नाम लिए बगैर कहा कि आप नेता हो तो आपको भी इन कार्यक्रमों में शामिल होना चाहिए। दैनिक जागरण से बातचीत में मेघवाल ने कहा कि 'मेरा बूथ, मेरा गौरव' कार्यक्रम नेताओं और कार्यकर्ताओं को पोलिंग बूथ प्रबंधन का प्रशिक्षण देने के लिए है, इसमें नेताओं को शामिल होना चाहिए। उल्लेखनीय है कि गहलोत ने कहा था कि दिल्ली में व्यस्तता के चलते इन कार्यक्रमों में शामिल नहीं हो पा रहा हूं, जब भी मुझे अवसर मिलेगा मै अवश्य ही शामिल होऊंगा।

बीकानेर जिले के दो कांग्रेसी नेताओं के समर्थक शुक्रवार को आधी रात बाद आपस में सड़कों पर भीड़ गए।बीकानेर शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल गहलोत और गत विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रहे गोपाल गहलोत के बीच पिछले कई दिनों से आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा था, लेकिन शुक्रवार रात दोनों के बीच आपस में हाथापाई हुई और समर्थकों ने एक-दूसरे को जमकर मारा। इस दौरान कई कांग्रेसियों के कपड़े फट गए। मुख्य सड़क पर हुए इस घटनाक्रम में दोनों नेताओं के समर्थकों ने एक-दूसरे के वाहन भी जला दिए।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले जयपुर के शाहपुरा में 'मेरा बूथ,मेरा गौरव' कार्यक्रम के तहत पिछले सप्ताह गुजरात की पूर्व राज्यपाल कमला बेनीवाल के समर्थकों ने कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता संदीप चौधरी के साथ मारपीट की थी। इस दौरान प्रदेश प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट भी मौजूद थे।

चुनाव से अन्य समाचार व लेख

» मध्य प्रदेश में सपा-बसपा से कांग्रेस मिला सकती है हाथ हो सकता है महागठबंधन

» तबस्सुम हसन का बड़ा बयान योगी आदित्यनाथ का अभिमान और नरेंद्र मोदी का अहंकार तो कैराना में दफन

» समाजवादी पार्टी के नईम उल हसन का नूरपुर में जीत का सेहरा

» कल कैराना समेत लोस की चार और विस की 10 सीटों के आएंगे नतीजे

» उपचुनाव में पुनर्मतदान संपन्न, 58.75 फीसद वोट पड़े

 

नवीन समाचार व लेख

» बाइक सवार युवक के सामने अचानक अज्ञात जानवर आ जाने से बाइक लड़ गई

» महोबा कोतवाली क्षेत्र मे सड़क निर्माण पूरा न होने पर नगर पालिका पर उठाई अवाज

» महोबा जनपद में घर के बाहर सो रहे युबक की हत्या

» इलाहाबाद में रेस्टोरेंट बंद करने में हुई 10 मिनट की देरी तो दरोगा ने कर दी दुकानदार की पिटाई

» मुझे देख दो कदम पीछे हट जाते हैं BJP के सांसद, कहीं उन्हें गले न लगा लूं: राहुल गांधी