यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का अंतिम संस्‍कार पैतृक गांव में कई घंटे बाद हो सका


🗒 मंगलवार, दिसंबर 04 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

बुलंदशहर हिंसा में मारे गए जैथरा के इंस्पेक्टर का पार्थिव शरीर गांव पहुंच गया था, लेकिन परिजन शहीद का दर्जा दिलाने और इंस्पेक्टर के नाम से इंटर कालेज खुलवाए जाने व मुख्यमंत्री को बुलाने की मांग पर अड़े हुए थे। मौके पर मौजूद फर्रुखाबाद के सांसद और अलीगंज के विधायक के सभी मांगे पूरी कराए जाने के आश्वासन के बाद इंस्पेक्टर का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया।मंगलवार दोपहर पुलिस लाइन में सलामी के बाद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव ले जाया गया।

शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह  का अंतिम संस्‍कार पैतृक गांव में कई घंटे बाद हो सका

परिजनों ने पुलिस लाइन से ही अपनी मांगें उठाना शुरू कर दी थीं। उनका कहना था कि जब तक मुख्यमंत्री नहीं आएंगे तब तक अंत्येष्टि नहीं होने दी जाएगी। यही नहीं परिजनों की मांग जांबाज इंस्पेक्टर को शहीद का दर्जा दिलाए जाने और उनके नाम से गांव में स्कूल खुलवाए जाने की थी। परिजनों ने उनकी सुनियोजित तरीके से गोली मारकर हत्या किए जाने का भी आरोप लगाया था। कई बार उनके पार्थिव शरीर को अंत्येष्टि के लिए ले जाने की तैयारी भी हुई, लेकिन परिजन अपनी मांग पर अड़े रहे। लिहाजा पुलिस प्रशासन को शांत रहना पड़ा। गांव तरिगवां पहुंचे फर्रुखाबाद के सांसद मुकेश राजपूत तथा अलीगंज के विधायक सत्यपाल ङ्क्षसह राठौर ने इंस्पेक्टर के परिजनों को ढांढस बंधाते हुए उनकी सभी मांगें पूरी कराए जाने का आश्वासन दिया। तब कहीं जाकर उनके पार्थिव शरीर की अंत्येष्टि हो सकी।इंस्पेक्टर के भाई ने बुलंदशहर के भाजपा विधायक के बयान की कड़े शब्दों में निंदा की और कहा कि उन्हें यहां आकर माफी मांगनी चाहिए। इंस्पेक्टर की गोली मारकर हत्या की गई है, जबकि विधायक ने हार्टअटैक से मौत होने का बयान दिया है। पुष्पचक्र अर्पित करने के बाद उनके पार्थिव शरीर को अपर पुलिस महानिदेशक आगरा, पुलिस उपमहानिरीक्षक अलीगढ़, जिलाधिकारी आईपी पांडेय, एसएसपी आशीष तिवारी समेत अन्य पुलिस अधिकारियों ने उन्हें कांधा देकर पुलिस वाहन तक पहुंचाया।

एटा से अन्य समाचार व लेख

» एटा जिले मे पांच साल बाद महिला ने खोली ढोंगी तांत्रिक की पोल

» एटा जिले मे निलंबित सिपाही सर्वेश की अनुशासनहीनता जारी, एटा के एसएसी को सौंपा इस्तीफा

» डॉ. प्रवीण भाई तोगडिय़ा ने कहा मुस्लिमों के बिना हिंदुत्व अधूरा

» जिला एटा मे पैसा लेकर शौचालय नहीं बनवाने पर 300 लोगों को जेल में डाला, संकल्प लेकर छोड़ा

» फर्रुखाबाद और एटा के दौरे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा जातिवाद और परिवारवाद की राजनीति और विकास की दुश्मन

 

नवीन समाचार व लेख

» सीएम योगी गौ-गौ-गौ चिल्लाते हैं, मेरे भाई ने जान दे दी

» प्रत्यूष मणि त्रिपाठी की हत्या के बाद भाजपा नेताओं ने की एसएसपी को बर्खास्त करने की मांग

» लखनऊ मे युवा भाजपा नेता की हत्या में दो गिरफ्तार, ठेले वाले की तलाश

» पुलिस के लिए सनसनीखेज लूट के बाद दो बहनों की हत्या का पर्दाफाश चुनौती बनी

» गोरखपुर में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कड़ी मेहनत करें विद्यार्थी, इसका कोई विकल्प नहीं होता