यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गोरखपुर के बाद फर्रुखाबाद में 49 बच्चों की मौत, CMO व CMS के खिलाफ FIR


🗒 सोमवार, सितंबर 04 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

गोरखपुर के बाद फर्रखाबाद के डॉ. राममनोहर लोहिया जिला अस्पताल में एक माह के अंदर 49 नवजात शिशुओं की मौत के मामले में सरकार ने कड़ा कदम उठाया है। यहां पर बच्चों की मौत के मामले में नगर मजिस्ट्रेट ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी व मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के खिलाफ शहर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

गोरखपुर के बाद फर्रुखाबाद में 49 बच्चों की मौत, CMO व CMS के खिलाफ FIR

जागरण डॉट काम की खबर का प्रदेश के मुख्यमंत्री कार्यालय के संज्ञान लेने के बाद जिलाधिकारी ने मामले की जांच कराई थी। जांच में ऑक्सीजन के अभाव और उपचार में लापरवाही के कारण बच्चों की मौत होने की पुष्टि होने के बाद कार्रवाई की गई। 

दैनिक जागरण ने 28 अगस्त के अंक में 21 जुलाई से 20 अगस्त के बीच डॉ. राममनोहर लोहिया जिला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में 30 बच्चों और डिलीवरी रूम में 19 बच्चों की मौत का समाचार प्रकाशित किया था। जिसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट तलब की थी। मुख्यमंत्री कार्यालय से पत्र आने के बाद जिला प्रशासन हरकत में आया।

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने पहले मुख्य चिकित्सा अधिकारी व लोहिया अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से रिपोर्ट तलब की थी। शुक्रवार को नगर मजिस्ट्रेट जयनेंद्र कुमार जैन व उपजिलाधिकारी सदर अजीत कुमार सिंह को मौके पर भेज जांच कराई। अधिकारियों ने लगभग दो घंटे तक अस्पताल में रुक कर एसएनसीयू वार्ड और महिला जिला चिकित्सालय के अभिलेख खंगाले। मृत शिशुओं के परिजनों से भी बात की। परिवार के लोगों ने बच्चों को आक्सीजन नहीं लगाए जाने व समुचित इलाज नहीं किए जाने की पुष्टि की। जांच रिपोर्ट के आधार पर डीएम ने एफआइआर के आदेश दिए।

कल देर शाम नगर मजिस्ट्रेट ने शहर कोतवाली में तहरीर दी।.

प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि सीएमओ, सीएमएस व लोहिया अस्पताल के अन्य दोषी चिकित्सकों के खिलाफ आइपीसी की धारा 176, 188 व 304 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। उपनिरीक्षक बनी सिंह को मामले की विवेचना सौंपी गई है।

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि लोहिया अस्पताल में बच्चों की मौत के मामले में जांच कराई गई थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की गई है। जांच रिपोर्ट में प्रकाश में बिंदुओं आए अन्य पर भी कार्रवाई की जाएगी।

फर्रूखाबाद से अन्य समाचार व लेख

» सुनील राठी के परिवारीजन फतेहगढ़ सेंट्रल जेल पहुंचे बोले-जेल में सुनील राठी की जान को खतरा

» जनपद फर्रुखाबाद में मजार पर पहुंची महिला से झाडफ़ूंक के बहाने तांत्रिक ने की छेड़छाड़

» फर्रुखाबाद पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ 50 हजार का इनामी, दरोगा को लगी गोली

» अब फतेहगढ़ सेंट्रल जेल आते ही सुनील राठी की अधिकारियों से झड़प

» देर रात फतेहगढ़ सेंट्रल जेल सुनील राठी को कड़ी सुरक्षा में लाया गया

 

नवीन समाचार व लेख

» जिला मुरादाबाद में पूर्व पार्षद ने कनपटी पर तमंचा सटाकर खुद को गोली मारी

» राजधानी लखनऊ में सैकड़ों की संख्या में शिक्षामित्रों ने किया प्रर्दशन, महिलाओं ने भी कराया मुंडन

» कांग्रेस यूपी महागठबंधन में शामिल होने को बेकरार यूपी महागठबंधन में शामिल होने को बेकरार

» संविदा चालक की मौत , मांग को लेकर लगाया जाम

» टीडीपी पीएम मोदी और वित्त मंत्री के खिलाफ ला सकती है विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव