यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अब ऑल इंडिया परमिट के वाहन एनसीआर में नहीं होंगे संचालित: डिप्टी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर संजय माथुर


🗒 बुधवार, मई 30 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

ऑल इंडिया परमिट के वाहनों का संचालन एनसीआर में नहीं होगा। इन वाहनों का संचालन एनसीआर के बाहर ही होगा। जल्द ही इस मामले को लेकर परिवहन विभाग कार्रवाई करेगा। यह बात मेरठ जोन के डिप्टी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर संजय माथुर ने कही। वह बुधवार को सेक्टर-33 स्थित परिवहन कार्यालय पर समीक्षा बैठक लेने आए हुए थे। इसमें विभाग के क्रमिक राजस्व कलेक्शन को लेकर सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन अरुणेंद्र कुमार पांडेय से विस्तार से बातचीत की। इस दौरान प्रवर्तन अधिकारियों के कार्यालय पर तैनाती नहीं होने की समस्या से भी उन्हें अवगत कराया गया। जिस पर उन्होंने जल्द ही समस्या समाधान होने का आश्वासन दिया।

अब ऑल इंडिया परमिट के वाहन एनसीआर में नहीं होंगे संचालित:  डिप्टी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर संजय माथुर

इस दौरान उन्होंने पत्रकारों को बताया कि एनसीआर में बहुत से वाहन ऑल इंडिया परमिट लेकर संचालित हो रहे है, जबकि इनका संचालन एनसीआर के बाहर होना चाहिए। जल्द ही इसके लिए जांच की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। ऐसे में एनसीआर में इनकी गतिविधियों को रोकने के लिए सड़क पर उतरकर प्रवर्तन अधिकारियों की ओर से कार्रवाई की जाएगी, क्योंकि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) की ओर से स्पष्ट कहा गया है कि एनसीआर में केवल उन्हीं वाहनों को तरजीह दी जाएगी, जो सीएनजी से संचालित है लेकिन ऑल इंडिया परमिट के वाहन डीजल से संचालित होने वाले है। ऐसे में प्रदूषण को रोकने के लिए एनजीटी की ओर से डीजल वाहनों के संचालन पर रोक लगा रखी है। ऐसे में डीजल वाहनों को एनसीआर के बाहर संचालित होने के लिए ही ऑल इंडिया परमिट जारी किया है, लेकिन इसका पालन केवल दिल्ली में हो रहा है। वह भी दिल्ली पुलिस की सख्ती के कारण, लेकिन यह वाहन धड़ल्ले से उत्तर प्रदेश के शहरों में संचालित हो रहे है। जिनके संचालन पर अब अंकुश लगाने का प्रयास शुरू किया जा रहा है। जिससे एनसीआर को प्रदूषण मुक्त किया जा सके।

सेक्टर-33 स्थित उपसंभागीय परिवहन विभाग के कार्यालय में पीटीओ नीलम ने पदभार संभाल लिया है। गौरतलब है कि पीटीओ का तबादला होने के बाद से एआरटीओ कार्यालय में पीटीओ का पद रिक्त पड़ा हुआ था। एआरटीओ प्रशासन एके पाण्डेय ने बताया कि नीलम की पीटीओ के तौर पर कार्यालय में नियुक्ति हुई है। वहीं, बाकि बचे हुए पदों पर भी जल्द तैनाती हो जाएगी।

एआरटीओ प्रवर्तन के तबादलों के बाद शहर में यातायात व्यवस्था काफी बिगड़ गई है। जिसके चलते जिलाधिकारी बीएन ¨सह ने शासन स्तर पर एक पत्र लिखकर जल्द से जल्द शहर में एआरटीओ प्रवर्तन की तैनाती की मांग की है।

गौतमबुद्द नगर से अन्य समाचार व लेख

» ग्रेटर नोएडा में हुए बिल्डिंग हादसे मे अबतक निकाले गए 8 शव, मलबा हटाने में लग सकते हैं दो और दिन

» नोएडा के छापेमारी में पकड़े गए 15 हाईप्रोफाइल जुआरी, 5 लग्जरी कार भी बरामद

» ग्रेटर नोएडा के थाना बिसरख क्षेत्र के शाहबेरी में 6 मंजिला इमारत गिरी, कई लोगों के दबे होने की आशंका

» ग्रेटर नोएडा मे अवैध संबंध छुपाने के लिए मां ने दे दी बेटे की सुपारी

» नोएडा में सैमसंग मे टोकन खरीद कर मोदी व मून ने किया मेट्रो में आम लोगों के साथ यात्रा

 

नवीन समाचार व लेख

» कांग्रेस को शक, लोकसभा में 'कोई' कर रहा है निगरानी; स्पीकर से की शिकायत

» 27 को पूर्ण चंद्र ग्रहण, 12 में से सात राशि वालों को कष्ट

» मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे के खिलाफ कानपुर में मुकदमे की अर्जी

» जनपद इटावा में पुलिस ने पूर्व महिला प्रधान को पीटकर निर्वस्त्र किया, बेटी को छत से फेंका

» इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एसपी प्रतापगढ़ को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया