यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गौतमबुद्धनगर मे प्रत्याशी घोषित होने के बाद कांग्रेस में घमासान


🗒 बुधवार, मार्च 20 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

हाईकमान के तमाम प्रयास के बाद भी कांग्रेस में डॉ अरविंद सिंह चौहान का विरोध थम नहीं रहा है। पार्टी हाईकमान की ओर से पर्यवेक्षक भेजने के बाद भी असंतोष जारी है। जिले के वरिष्ठ नेता रघुराज सिंह ने प्रेस वार्ता कर साफ कह दिया है कि यदि प्रत्याशी कांग्रेसी नहीं होगा तो वह उसका साथ नहीं देंगे।उन्होंने कहा कि यदि पार्टी उसके बाद भी अरविंद सिहं को चुनाव लड़ाती है तो वह हर तरह के प्रचार प्रसार से दूर रहेंगे। सिर्फ वोट डालने ही जाएंगे। बुधवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुराज सिंह ने कहा कि उनकी तीन पीढि़यों ने पार्टी को मजबूत बनाने के लिए जिले में दिन रात काम किया। एक मजबूत संगठन तैयार किया। वह गैर कांग्रेसी को प्रत्याशी के रूप में स्वीकार नहीं कर सकते।रघुराज सिंह ने कहा कि मंगलवार को कांग्रेस हाईकमान ने अपना प्रतिनिधि हमारे बीच भेजा था। उन्होंने हमारी बात सुनी और हमने अपना पक्ष भी रखा। अब फैसला हाईकमान को करना है। वह कांग्रेस पार्टी के विरोध में नहीं है। वह अपना मत भी पार्टी को ही देंगे, लेकिन प्रत्याशी का प्रचार नहीं करेंगे। रघुराज सिंह के इस बयान ने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में हलचल कर दी है। अब भी पार्टी का एक धड़ अपने वरिष्ठ नेता को मनाने में लगा है।

गौतमबुद्धनगर मे प्रत्याशी घोषित होने के बाद कांग्रेस में घमासान

उधर, डॉ अरविंद सिंह चौहान ने फेसबुक लाइव कर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि पैसे देकर टिकट लेने का आरोप निराधार है। अगर यह आरोप साबित हो गया तो राजनीति से छोड़ दूंगा। इसके अलावा उन्होंने केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि देश के संस्कृति मंत्री का इस तरह की भाषा का प्रयोग करना बहुत शर्मनाक है। क्षेत्र की जनता उनके इस व्यवहार का जवाब चुनाव में देगी। भाजपा की हमेशा से अमर्यादित भाषा प्रयोग करनी की परंपरा रही है। उनको इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए। इसको लेकर उन्हें जनता के बीच आकर माफी मांगनी चाहिए।रघुराज सिंह ने कहा कि यदि पार्टी हाईकमान अपना फैसला नहीं बदलती है, तो उनका ये विरोध का तरीका भी बदल सकता है। ये विरोध किस तरह का होगा ये हाईकमान के फैसले के बाद ही तय किया जाएगा। इसके लिए अभी लोगों को इंतजार करना होगा। रणनीति अभी नहीं बताई जा सकती।पार्टी के वरिष्ठ नेता होने के बाद भी रघुराज सिंह के साथ इस विरोध में बुधवार को उनके साथ कोई खड़ा नहीं दिखा। वह अकेले ही सवालों का जवाब देते दिखे। उनके अकेले इस तरह मैदान में खड़े होने से ये अंदाजा लगाया जा रहा है कि अधिकतर कार्यकर्ता पार्टी हाईकमान के फैसले से सहमत हैं। हालांकि अभी पार्टी के फैसले का इंतजार किया जा रहा है।अरविंद सिंह ने टिकट खरीदने के आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए वीडियो में कहा कि यदि कोई भी इस आरोप को साबित कर देता है तो वह राजनीति छोड़ देंगे। साथ ही कहा कि उन्हें ये टिकट उनकी काबिलियत पर मिला है। उन्होंने पार्टी में आवेदन किया था जहां जांच परख कर ये फैसला पार्टी ने लिया। एक युवा को टिकट मिलना कुछ लोगों को हजम नहीं हो रहा है। उनका जिले से काफी पुराना रिश्ता है। कक्षा नौवीं से वह यहां रह रहे हैं। इस जिले को वह काफी करीब से जानते और समझते हैं।

गौतमबुद्द नगर से अन्य समाचार व लेख

» स्कूल में नौकरी देने के नाम पर संचालक ने किया दुष्कर्म, आरोपित जेल में

» जहाँगीरपुर में निकाली मतदाता जागरूकता अभियान रैली

» जहांगीरपुर श्मशान घाट का निर्माण कार्य शुरू

» नगर पंचायत के टेक्स कलेक्टर/लिपिक मोहनलाल गुप्ता व् ठा0 चत्रवीर सिंह के सेवानिवृत पर दी विदाई

» साक्षी अग्रवाल मिस फेयरवेल व् अमन जादौन मि0 फेयरवेल चुने

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरठ एसटीएफ की टीम ने गुजरात में सराफ कारोबारी की हत्या करने में शामिल मुख्य आरोपी को दबोचा

» आशियाना क्षेत्र मे स्कूल परिसर में छात्र पर ब्लेड से ताबड़तोड़ कई प्रहार

» लखनऊ में सीबीआइ ने कई राज्यों में करोड़ों की जालसाजी करने के आरोपित को पकड़ा

» फर्रुखाबाद मे मिट्टी धसकने से 48 घंटे बाद भी नहीं निकाल पाए बोरवेल में फंसी बच्ची

» सहारनपुर में कांग्रेस उम्मीदवार इमरान मसूद बयान ऐसी भाषा का प्रयोग पीएम की बौखलाहट