यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मॉडल के तर्ज पर तैयार होंगे जिले के अस्पताल


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 06 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

बलरामपुर : सरकारी अस्पताल में बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के लिए लागू की गई कायाकल्प योजना के लिए जिले के ब्लॉक स्तरीय अस्पतालों को नए सिरे से तैयार किया जाएगा। जिससे अस्पताल 75 से अधिक अंक हासिल कर योजना में चयनित होकर पुरस्कार जीत सके। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।

मॉडल के तर्ज पर तैयार होंगे जिले के अस्पताल

कायाकल्प योजना में अंतर्गत जिला व ब्लॉक स्तरीय अस्पताल में साफ-सफाई, स्वच्छता व मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं की समीक्षा की जाती है। मंडलीय टीम की जांच में अस्पताल को 75 या उससे अधिक अंक मिलने पर ऐसे स्वास्थ्य केंद्रों को एक लाख का पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाता है। साथ ही मंडलीय टीम अस्पताल का नाम प्रदेश की कायाकल्प समिति को भेजती है। वहां से प्रदेश टीम दोबारा संबंधित केंद्र का मूल्यांकन करती हैं। इसमें प्रदेश के तीन सर्वाधिक अंक पाने वाले अस्पतालों को दस, आठ व पांच लाख का पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाता है। इस योजना के लिए जिले के स्वास्थ्य महकमे ने तैयारी शुरू कर दी है। सीएमओ ने इस योजना में पुरस्कृत होने वाले गाजियाबाद, नोएडा, ललितपुर के मॉडल अस्पतालों की फोटो चिकित्सा अधीक्षक को भेजी है। उसी के अनुरूप अस्पताल को नए सिरे से तैयार करने का निर्देश भी दिया है। जिससे अस्पताल कायाकल्प योजना में शामिल होकर पुरस्कार जीत सके।

- जिले में संचालित अस्पतालों का चयन कायाकल्प योजना के लिए नहीं हो सका है। यहां के किसी भी अस्पताल को मंडलीय टीम ने ही 50 से अधिक अंक नहीं दिए हैं। इस बार योजना में चयन को लेकर चिकित्सक व अधिकारी एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं।

- कायाकल्य योजना के लिए सभी चिकित्सा अधीक्षक को स्वास्थ्य केंद्रों में आवश्यक सुधार करने का निर्देश जारी कर दिया गया है। उन्हें प्रतियोगिता के लिए निर्धारित ¨बदु भी बताए गए हैं। जिससे वह उनमें सुधार कर योजना में चयनित हो सके। जिला व प्रदेश स्तर पर पुरस्कार जीत कर जिले का मान बढ़ाया जा सके।

- डॉ. घनश्याम ¨सह, सीएमओ।

अस्पताल से अन्य समाचार व लेख

» मेरठ में महिला ने एक साथ जने पांच बच्चे, जच्चा बच्चा स्वस्थ्य

» प्रधानमंत्री मोदी ने स्वीकार की स्वास्थ्य सेवाओं की चुनौतीः अनुप्रिया

» लावारिस शिशुओं के सम्बन्ध में जैविक माता पिता से साक्ष्य आमंत्रित

» गर्भवती को छोड़ ऑपरेशन थियेटर में झगड़ने लगे डॉक्टर, बच्चे की मौत

» इलाहाबाद में दिमागी बुखार ने 15 दिनों में ली छह बच्चों की जान

 

नवीन समाचार व लेख

» अलीगढ मे विश्वविद्यालय की मांग को लेकर हजारो छात्र छात्राओं ने दिया कलेक्ट्रेट पर धरना

» सिर्फ निवेश पर ही नहीं, व्यावहारिक पक्षों पर भी निगाह

» मॉरीशस के पूर्व प्रधानमंत्री ने यूपी से जोड़ी रिश्ते की डोर

» उद्यमी उत्तर प्रदेश में इन्वेस्ट करने और पसीना बहाने को तैयार

» रायबरेली जिलाधिकारी की अध्यक्षता में किसान दिवस सम्पन्न