यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

केजीएमयू अब कैदियों का भी करेगा इलाज, अलग से बनाया गया अस्पताल


🗒 शुक्रवार, मार्च 09 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 केजीएमयू अब कैदियों का भी इलाज करेगा, लेकिन इन कैदियों को इसके लिए केजीएमयू में नहीं आना पड़ेगा। टेलीमेडिसिन के विशेषज्ञ कैदियों का इलाज करेंगे। इसे लेकर गुरुवार को केजीएमयू के अफसरों से जेल अधिकारियों ने भेंट की। वहीं, टेलीमेडिसिन से इलाज उपलब्ध कराने की जानकारी भी दी।

केजीएमयू अब कैदियों का भी करेगा इलाज, अलग से बनाया गया अस्पताल

कैदियों के लिए अलग से बनाया गया अस्पताल

राजधानी की जिला जेल में तकरीबन 3500 से ज्यादा कैदी हैं। इन कैदियों के इलाज के लिए अलग से अस्पताल बनाया गया है। इनमें ओपीडी के साथ कैदियों के भर्ती का इंतजाम है। अधिकतर कैदियों को विशेषज्ञों के इलाज की जरूरत पड़ती है। इसकी वजह से उन्हें केजीएमयू जैसे संस्थानों में लाना पड़ता है। केजीएमयू के सीएमएस डॉ. एसएन शखवार ने बताया कि जेल अस्पताल में सरकारी डॉक्टर होते हैं। केजीएमयू में पहले से टेलीमेडिसिन सेंटर है। जेल अस्पताल के डॉक्टर केजीएमयू के विशेषज्ञों से संपर्क कर सकते है और वह स्क्रीन पर मरीज व उसकी रिपोर्ट देखकर अपनी सलाह दे पाएंगे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» मथुरा में फर्जी शिक्षकों की भर्ती के मामले में निलंबित बीएसए सहित अन्य से पूछताछ

» एटीएस ने आतंकी फंडिंग नेटवर्क के मास्टर माइंड रमेश शाह को गिरफ्तार किया अब उठेगा टेरर फंडिंग नेटवर्क से परदा

» अब नार्मल डिलीवरी के लिए गर्भवती को मिलेगी लेबर रूम में अपनों को साथ ले जाने की सुविधा

» लखनऊ पुलिस का दावा, व्यापारी ने ही करवाया था खुद पर हमला

» फिर राज बब्बर ने गठित की प्रदेश कांग्रेस कमेटी की चार सदस्यीय कमेटी

 

नवीन समाचार व लेख

» चोरों ने ग्राम प्रधान के घर से लगभग नौ लाख की सम्पत्ति पर किया हाथ साफ

» जिला स्तरीय स्थायी समिति की बैठक सम्पन्न

» अलीगढ़ वरिष्ठ कोषाधिकारी ने भारतीय रिजर्व बैंक के ई-कुबेरप्रणाली की दिया प्रशिक्षण

» अलीगढ़ जिलाधिकारी ने जनसुनवाई में सुनी 45 फरियादियों की शिकायतें

» गंगा दशहरा पर यमुना में हजारों श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी