यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

केजीएमयू अब कैदियों का भी करेगा इलाज, अलग से बनाया गया अस्पताल


🗒 शुक्रवार, मार्च 09 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 केजीएमयू अब कैदियों का भी इलाज करेगा, लेकिन इन कैदियों को इसके लिए केजीएमयू में नहीं आना पड़ेगा। टेलीमेडिसिन के विशेषज्ञ कैदियों का इलाज करेंगे। इसे लेकर गुरुवार को केजीएमयू के अफसरों से जेल अधिकारियों ने भेंट की। वहीं, टेलीमेडिसिन से इलाज उपलब्ध कराने की जानकारी भी दी।

केजीएमयू अब कैदियों का भी करेगा इलाज, अलग से बनाया गया अस्पताल

कैदियों के लिए अलग से बनाया गया अस्पताल

राजधानी की जिला जेल में तकरीबन 3500 से ज्यादा कैदी हैं। इन कैदियों के इलाज के लिए अलग से अस्पताल बनाया गया है। इनमें ओपीडी के साथ कैदियों के भर्ती का इंतजाम है। अधिकतर कैदियों को विशेषज्ञों के इलाज की जरूरत पड़ती है। इसकी वजह से उन्हें केजीएमयू जैसे संस्थानों में लाना पड़ता है। केजीएमयू के सीएमएस डॉ. एसएन शखवार ने बताया कि जेल अस्पताल में सरकारी डॉक्टर होते हैं। केजीएमयू में पहले से टेलीमेडिसिन सेंटर है। जेल अस्पताल के डॉक्टर केजीएमयू के विशेषज्ञों से संपर्क कर सकते है और वह स्क्रीन पर मरीज व उसकी रिपोर्ट देखकर अपनी सलाह दे पाएंगे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» सीएम योगी ने माब लिंचिंग को लेकर चल रहे बवाल पर कहा मनुष्य और गाय दोनों ही महत्वपूर्ण

» मुख्यमंत्री योगी का प्रशिक्षु आरक्षियों को पहली वर्चुअल क्लास में अनुशासन पाठ

» निदेशक बेसिक शिक्षा इस्लामिया स्कूल मामले में अल्पसंख्यक आयोग में तलब

» एक बार फिर अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना में बड़ा घपला, प्रारंभिक जांच में छह हजार डुप्लीकेट छात्र

» UP कोआपरेटिव बैंक लिमिटेड पर काबिज होने में जुटी भाजपा

 

नवीन समाचार व लेख

» मुरसान में पांच घन्टे से लगातार हो रही बारिश से घरों में भरा पानी

» रामपुर मे चार घरों से डेढ़ लाख का माल चोरी

» रेल ट्रैक फ्रैक्चर से यात्रा 12 घंटे तक रुकी

» बाइक सवार युवक के सामने अचानक अज्ञात जानवर आ जाने से बाइक लड़ गई

» महोबा कोतवाली क्षेत्र मे सड़क निर्माण पूरा न होने पर नगर पालिका पर उठाई अवाज