यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शिवपाल यादव का बड़ा बयानः गेस्ट हाउस कांड में कुछ था ही नहीं


🗒 रविवार, अप्रैल 15 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

कई वर्षों तक सपा-बसपा के बीच द्वेष का सबसे बड़ा कारण रहे गेस्ट हाउस कांड को पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने खारिज ही कर दिया है। उनका कहना है कि गेस्ट हाउस कांड में कुछ हुआ ही नहीं था। कुछ कुछ गलतफहमियां थीं जिन्हें भाजपा ने राजनीतिक लाभ के लिए तूल देकर बढ़ा चढ़ा दिया। भाजपा तो सपा-बसपा गठबंधन से घबराकर उसे बार-बार दोहराती रहती है।

शिवपाल यादव का बड़ा बयानः गेस्ट हाउस कांड में कुछ था ही नहीं

भाजपा पूरी तरह साफ होगी

आज कानपुर में विभिन्न कार्यक्रमों में आए शिवपाल यादव मीडिया से बातचीत कर रहे थे। भाजपा द्वारा गेस्ट हाउस कांड को जोरदार तरीके से उठाए जाने के सवाल पर बोले, उस कांड में सिर्फ कुछ गलतफहमियां थीं। तब भी भाजपा उसे तूल दिया और फिर वही कर रहे हैं। शिवपाल का कहना था कि गठबंधन लोकसभा चुनाव में भाजपा को पूरी तरह साफ कर देगा। उन्नाव कांड पर कहा कि प्रदेश में वही हो रहा है, जो योगी सरकार में होना था। वैसे मामले में कार्रवाई हो गई है, इसलिए अब कुछ कहने की जरूरत नहीं है। हां, इतना जरूर है कि हाईकोर्ट द्वारा संज्ञान लेने के बाद सरकार जाग रही है। अपनी आगे की रणनीति के सवाल पर इतना ही बोले कि इसके लिए इंतजार कीजिए।

कानपुर से शुरू होकर 46 जिलों में फैल चुके 'शिवपाल यादव फैंस एसोसिएशन' को ब्लॉक और बूथ तक ले जाने की खुली घोषणा रविवार को उन्होंने की। इसी संगठन के जरिये 'बेईमानों' से लडऩे की हुंकार कई बार भरी और समाजवादी पार्टी का जिक्र तक नहीं किया। कानपुर में शिवपाल यादव फैंस एसोसिएशन का सम्मेलन था। इस संगठन के कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए शिवपाल यादव पहुंचे। सड़क से लेकर अंदर कार्यक्रम स्थल तक लाल टोपीधारी युवाओं की अच्छी-खासी भीड़ इशारा कर रही थी कि समाजवाद कुनबे में से ही पूर्व मंत्री ने अपनी अलग ब्रिगेड को मजबूती से खड़ा कर लिया है। 

46 जिलों में फैले इस संगठन को देख शिवपाल ने कहा कि अब हम हमारी टीम तैयार है। इसी के माध्यम से हम बेईमान और भ्रष्टाचारियों से लड़ेंगे। केंद्र सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए। युवा रोजगार के लिए परेशान हैं। किसी वर्ग का सम्मान नहीं बचा है। भरोसा दिलाता हूं कि जीत हमारी ही होगी। कहा कि इस संगठन को अब ब्लॉक और बूथ स्तर तक खड़ा करना है। इस बीच उन्होंने एक बार भी सपा का नाम तक नहीं लिया। अब कयास लगाए जा रहे हैं कि यदि शिवपाल यादव नई पार्टी बनाते हैं, तो यही उनका निजी नेटवर्क पार्टी का आधार बनेगा। कानपुर से एसोसिएशन के गठन की शुरुआत करने वाले प्रदेशाध्यक्ष आशीष चौबे ने बताया कि संगठन अब 46 जिलों में पहुंच चुका है। इसके लगभग एक लाख सदस्य हो चुके हैं। इसकी रिपोर्ट पूर्व मंत्री को दे दी गई है। वह लगातार कार्यक्रमों में भाग लेकर युवाओं से मुलाकात भी कर रहे हैं।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» शहर भर में ई -रिक्शा कर रहे यातयात व्यवस्था ध्वस्त जगह जगह लग रहा जाम ।

» गांधीग्राम में नाला चोक रोड पर गंदगी का अम्बार सफाई के नाम पर सभासद करती है नौटंकी

» अब मदरसों ने बढ़ाया कदम, मुस्लिम छात्राएं भी बनेंगी मौलवी तथा आलिम-कारी

» जनता की गाढ़ी कमाई के करोड़ों लेकर एक और कम्पनी भागी

» कानपुर मे कलयुगी बेटे ने अपनी बुजुर्ग मां को मार मार कर घर से निकाला

 

नवीन समाचार व लेख

» गांधीग्राम में नाला चोक रोड पर गंदगी का अम्बार सफाई के नाम पर सभासद करती है नौटंकी

» रामदेव की टिप्पणी से आहत उमा बोलीं- चालाकी, चापलूसी और साजिश नहीं आती

» सुप्रीम कोर्ट के सिर्फ आधे जजों ने घोषित की अपनी संपत्ति

» महोबा मे एक युवक गांजे के साथ गिरफ्तार

» महोबा पुलिस ने BTC की छात्रा का ट्यूशन शिक्षक से माफी मांगने के वायरल वीडियो का किया खंडन