यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दक्षिणक्षेत्र में टप्पेबाजो ने बेटे की जान का खतरा बता जेवर उड़ाये व नगदी ।


🗒 सोमवार, अप्रैल 16 2018
🖋 चित्रभान केशव अग्निहोत्री, ब्यूरो प्रमुख कानपुर

कानपुर - नौबस्ता थानाक्षेत्र के अंतर्गत बेटे बेटे की जान का खतरा बता महिला को न केवल डराया बल्कि तंत्रमंत्र का झांसा देकर लाखों के जेवर व नगदी मंगा लेकर भाग निकले । बजरंग नगर चौराहा निवासी पान दुकानदार रमाकांत मिश्रा की पत्नी सुधा रविवार दोपहर घर से कुछ ही दूरी पर भाई संजय की साड़ी की दुकान जारही थी । तभी दो मोटरसाईकिल सवार युवक पता पूछने के बहाने रोका ऒर परेशान दिखने की बात कहते हुए भविष्य बताने लगे । कि तुम्हारे ऊपर काल का साया है । तम्हारे बेटे की जान का खतरा है उसकी पूजा करनी होगी । इसके लिये घर से पूरे जेवर व सारे रुपये लाने होंगे जान के डर से महिला तप्पेबाजौ के झांसे में आगई घर से नगदी व जेवर उठा कर टप्पेबाजों के हवाले कर दिया । फिर उन्होंने महिला से आँखें बंद कर ध्यान लगाने को कह जेवर व नगदी लेकर फरार हो गये । इंसपेक्टर नौबस्ता संतोष सिंह ने बताया तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायगी । 

दक्षिणक्षेत्र में टप्पेबाजो ने बेटे की जान का खतरा बता जेवर उड़ाये व नगदी ।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर मे महासचिव प्रियंक वाड्रा ने कहा भाजपा के पास गरीबों को नहीं उद्योगपतियों को देने के लिए हैं रुपये

» पिंक मोबाइल मे तैनात महिला सिपाही से की शोहदे ने अभद्रता , एक गिरफ्तार

» शिवराजपुर पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान 1kilo500gram चरस समेत दो को किया गिरफ्तार ।

» कानपुर मे टैम्पो मे शीट को लेकर विवाद मे महिला का सर फटा

» बिठूर थाना क्षेत्र के नारामऊ इलाके में शादी के एक दिन पहले युवती की निर्मम हत्या

 

नवीन समाचार व लेख

» राजस्थान के राजगढ़ से कांग्रेस विधायक जौहरीलाल मीणा पर दुष्कर्म का आरोप, केस दर्ज

» किम जोंग-उन की निगरानी में उत्तर कोरिया ने एक नए सामरिक निर्देशित हथियार का परीक्षण किया

» रूस का कहना है कि क्यूबा और वेनेज़ुएला के विरुद्ध नए अमरीकी प्रतिबंध पूरी तरह से ग़ैर क़ानूनी

» एमएलसी दीपक सिंह ने कहा वाराणसी से चुनाव लड़ेंगी प्रियंका गांंधी

» लोकसभा चुनाव 2019 मे तीसरे चरण के समीकरणों ने बढ़ाई पुलिस की चिंता, कई दिग्गज मैदान में होने से बढ़ी संवेदनशीलता