यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ नेता शिव कुमार बेरिया ने कहा अखिलेश ने हमेशा अपमानित किया, जीवित रहते कभी सपा में नहीं जाऊंगा


🗒 शनिवार, दिसंबर 08 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

समाजवादी पार्टी से निष्कासन के बाद पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ नेता शिव कुमार बेरिया ने आखिर शनिवार को समर्थकों के बीच सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के खिलाफ रोष प्रकट कर ही दिया। उन्होंने कहा है कि मात्र कुछ चाटुकारिता करने वाले नेताओं के उकसाने पर अखिलेश मुझे लगातार अपमानित करते रहे हैं। कहा, कार्यकर्ता कहे तो आज ही राजनीति से संन्यास ले लूं लेकिन जीवित रहते अब सपा में नहीं जाऊंगा। 

 पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ नेता शिव कुमार बेरिया ने कहा अखिलेश ने हमेशा अपमानित किया, जीवित रहते कभी सपा में नहीं जाऊंगा

कानपुर देहात के झींझक में पत्रकारों से वार्ता में शिव कुमार बेरिया ने कहा कि मुझे बिना किसी गलती के सपा से निष्कासित किये जाने के बाद कई दलों के नेताओं ने मुझसे संपर्क किया है लेकिन मैं बिना अपने साथियों की सहमति के कोई निर्णय नहीं लूंगा। पूर्व कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मैने मुलायम सिंह के साथ काम किया, उन्होंने मुझे कभी भी अपमानित नहीं किया। जब से पार्टी की कमान अखिलेश के हाथों में आई, वे मुझे लगातार अपमानित कर रहे हैं। वरिष्ठ नेता शिव कुमार बेरिया ने कहा कि उन्होंने पार्टी के लिए अपना जीवन समर्पित किया, वह हमेशा ही हित में कार्य करते रहे। रसूलाबाद में अपराध कराने वाले कुछ चाटुकार नेताओं के कहने पर मुझे पार्टी से निकाला गया है। यह कहते-कहते बेरिया भावुक हो गए और आंखों से आंसू भी छलक आए। इस बीच उन्होंने खुद को संभालते हुए कहा कि नेता व कार्यकर्ता का संबंध पिता-पुत्र का होता है। पुत्र अगर कोई गलती करे तो पिता को सजा देने से पहले पूछना अवश्य चाहिए। मैनें चालीस साल के राजनीतिक जीवन में केवल जनता की सेवा की है। कहा, 10 दिसंबर को सहबाजपुर रसूलाबाद में कार्यकर्ताओं की बैठक करुंगा, जिसमें आपसी विमर्श के बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी। इस दौरान पूर्व चेयरमैन राजकुमार यादव, रामशंकर गुप्त, दीपू यादव रहे । समाजवादी पार्टी से निकाले जाने की बात पूछने पर पूर्व कैबिनेट मंत्री शिव कुमार बेरिया ने कहा कि जिस खजांची के नाम पर मुझे बदनाम किया जा रहा है और मुझे अपमानित कर पार्टी से निकाला गया, मैं उसे जानता भी नहीं। यहां मेरे साथ रसूलाबाद क्षेत्र के कुछ सपा से जुड़े लोग अपराध करते हैं लेकिन मैनें विधायक रहते कभी उनका सहयोग नहीं किया, यह उन्हीं की साजिश है।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर मे राज्यसभा सदस्य अमर सिंह ने कहा- आरएसएस ने मुझे अपना ऋणी कर दिया

» कानपुर-भिवानी कालिंदी एक्सप्रेस में ब्लास्ट, किसी के हताहत होने की खबर नहीं

» घाटमपुर में कानपुर-सागर राजमार्ग में सड़क हादसे में हावड़ा एसीपी के माता-पिता समेत पांच की मौत

» कानपुर के महाराजपुर में स्कॉर्पियो पलटने से कुंभ से लौट रहे पांच साधु घायल

» कानपुर हाईवे पर ट्रकों की भिड़ंत के बाद लगी आग, युवक की जलकर मौत

 

नवीन समाचार व लेख

» पाकिस्‍तान में बदला ले रहे थे मिराज, इनके बैकअप में थे मिग और जगुआर

» लखनऊ के बलरामपुर अस्पताल में एक NRI पर भारी पड़ा नर्स का गुस्सा, गाल पर जड़ा जोरदार थप्पड़

» लखनऊ KGMU में सीटी स्कैन मशीन चुराने की कोशिश, नहीं तोड़ पाए कंसोल तो उड़ा ले गए दो AC

» मथुरा के महावन मे कमल ज्योति अभियान के तहत जलाये गये दीप

» लखनऊ SSP ने पेश की मानवता की मिसाल, गाड़ी रोकर लहुलूहान युवक को भेजा अस्पताल