यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर मे शराब के लिए पत्नी से मांग रहा था पैसे, न देने पर रेत दिया गला


🗒 सोमवार, जनवरी 07 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

तुलसियापुर गांव में शराब के लिए पैसे न देने पर भट्ठा मजदूर ने पत्‍‌नी की नृशंस हत्या कर दी। पहले हथौड़ी से सिर पर वार किए, फिर हंसिया से गर्दन रेतकर फरार हो गया। बचाने आए रंजिता के चचेरे भाई विकास पर भी हमला किया। सीओ घाटमपुर ने मौके पर पहुंचकर जांच की। फोरेंसिक टीम ने हथौड़ी और हंसिया को कब्जे में ले लिया है। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।

कानपुर मे शराब के लिए पत्नी से मांग रहा था पैसे, न देने पर रेत दिया गला

बिधनू के तुलसियापुर गांव में रहने वाला रविकांत गांव के किनारे स्थित ईट-भट्टे पर मजदूरी करता था। नशे का आदी होने के चलते पैसों के लेन-देन को लेकर उसका आए दिन पत्‍‌नी से विवाद होता था। दो दिन पहले ही वह वेतन के चार हजार रुपये लेकर आया और शराब में उड़ा दिए। शनिवार की शाम वह फिर पत्‍‌नी रंजिता (27) से कुछ रुपये मांगने लगा। रंजिता ने विरोध किया तो रविकांत ने गालीगलौज करते हुए घर में रखी हथौड़ी से रंजिता के सिर पर ताबड़तोड़ वार कर दिए।चीखपुकार सुनकर अंदर कमरे में आराम कर रहा रंजिता का चचेरा भाई विकास बचाने दौड़ा तो उसे भी हथौड़ी मार दी। विकास शोर मचाता हुआ मदद के लिए बाहर भागा तो रविकांत ने अंदर से दरवाजा बंद कर लिया। इसके बाद हंसिया से पत्नी के गले पर वार कर हत्या कर दी। जब तक पड़ोसी पहुंचे वह फरार हो चुका था। फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाकर हथौड़ी व हंसिया कब्जे में ले लिया है। सीओ शैलेंद्र ¨सह व बिधनू इंस्पेक्टर द्रविड़ कुमार ने विकास से पूछताछ की। शाम को रंजिता के भाई की तहरीर पर रविकांत के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। सीओ ने बताया कि हत्यारोपित की तलाश में तीन टीमें लगी हैं। जल्द उसे पकड़ लिया जाएगा।साथ देता परिवार तो बच जाती जान 
रविकांत के पिता जगतपाल, मां शकुना व भाई रामशरण बगल वाले मकान में रहते हैं। विकास ने बताया कि बहनोई को हमला करते देख वह मदद के लिए सबसे पहले उनके घर गया लेकिन उन्होंने अनसुना कर दिया। इसके बाद वह भी मकान में ताला डालकर भाग गए। 
दो मासूमों के सिर से उठा मां का आंचल 
रंजिता के दो बच्चे पांच साल का साकार व तीन साल का आरव है। घटना के वक्त दोनों घर के बाहर ही खेल रहे थे। बाद में पड़ोसियों ने मासूमों को संभाला और रंजिता के मायके वांगीपुरवा से आए पिता कैलाश व मुन्नी देवी के सुपुर्द कर दिया।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर मे रंग खेलकर नहाते समय पांच दोस्त गंगा में डूबे, गोताखोर कर रहे तीन की तलाश

» पुलिस कंट्रोल रूम में शांतिनिकेतन स्वीट्स को बम से उड़ाने की धमकी

» कानपुर मे दो बेटों के सिर से डंपर ने छीन लिया माता-पिता का साया

» कानपुर मे शराब कांड मे नौवीं मौत से ग्रामीणों का भड़का गुस्सा, शराब ठेके में तोडफ़ोड़ कर लगाई आग

» कानपुर शहर में लुटेरों की धमाचौकड़ी, विधायक आवास के सामने लूट से मची सनसनी

 

नवीन समाचार व लेख

» हमीरपुर मे रंग खेलने को लेकर हुए विवाद में बड़े ने खेल डाली छोटे भाई के खून की होली

» जिला हाथरस में ट्रैक्टर-ट्रॉली से रोडवेज बस भिड़ी, सिपाही सहित छह की मौत

» गोरखपुर मे योगी आदित्यनाथ ने उड़ाया अबीर-गुलाल, उल्लास से सराबोर हुए लोग

» लखीमपुर सदर से भाजपा विधायक योगेश वर्मा को होली के दौरान मारी गई गोली, जख्मी

» एटा में नेताजी की कार में मिला कैश, साध गए चुप्पी, नहीं दिखा पाए कोई कागजात