यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर मे पीएम मोदी ने कहा सिरफिरे लोगों ने कश्मीरी भाइयों के साथ हरकत की, सरकार ने कार्रवाई की


🗒 शुक्रवार, मार्च 08 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश के तूफानी दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के बाद वह पूरब के मैनचेस्टर के नाम से विख्यात कानपुर पहुंचे । पीएम मोदी ने अपने संबोधन के साथ ही जनता को जोड़ा। उन्होंने सभी से तीन बार भारत माता की जया का जयकारा लगवाया।पीएम मोदी ने कहा लखनऊ में कुछ सिरफिरे लोगों ने हमारे कश्मीरी भाइयों के साथ जो हरकत की थी, उस पर यूपी सरकार ने त्वरित कार्रवाई की है। मैं अन्य राज्य सरकारों से भी आग्रह करूंगा कि जहां भी ऐसी हरकत करने की कोई कोशिश करे, उस पर कठोर कार्रवाई की जाए।

कानपुर मे पीएम मोदी ने कहा सिरफिरे लोगों ने कश्मीरी भाइयों के साथ हरकत की, सरकार ने कार्रवाई की

पराक्रमी भारत के लिए - भारत माता की जय। विजयी भारत के लिए - भारत माता की जय। वीर जवानों के लिए - भारत माता की जय। उन्होंने कहा आज मैं कानपुर में मेट्रो की शुरुआत कर रहा हूं। गंगा मैया के किनारे बसे कानपुर की धरती को मैं दिल से नमन करता हूं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कल नागपुर में मेट्रो की विदाई के बाद आज कानपुर में मेट्रो में मेट्रो की शुरुआत की है। गंगा मइया के किनारे बसे कानपुर को नमन है, यह धरती स्वतंत्रता आंदोलन से लेकर आजाद भारत तक कई वीर और वीरांगनाओं की है। यहां से नानाराव पेशवा, तत्याटोपे और रानी लक्ष्मीबाई को प्रेरणा मिली। यहीं से ही पं. दीनदयाल उपाध्याय, अटल बिहारी बाजपेयी, रामनाथ कोविंद को दिशा मिली। यहां के लोगों ने अपनी श्रमशीलता, कर्मठता से मैनचेस्टर की पहचान दी और देश में महत्वपूर्ण नगर बनाया। इस कायम रखने, उद्यम और कारोबार को शक्ति देने के लिए आपके बीच आया हूं। कुछ देर पहले ही कानपुर और प्रदेश के विकास से जुड़े हजारों करोड़ों की योजनाओं का शिलान्यास किया है। इससे यातायात में सुधार आएगा, बिजली के साथ नए उद्यम बढ़ेंगे, गंगा की सफाई और साफ सफाई पर काम होगा। विकास के ये काम यूपी के लोगों के लिए बड़ा बदलाव लाने वाले हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा चुनाव तो आएंगे और जाएंगे लेकिन यह ध्यान  रखना होगा कि किसी गैर जिम्मेदाराना बयानबाजी का दुश्मन लाभ न उठा पाएं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान पर पूरी दुनिया का दबाव है। पाकिस्तान रंगे हाथ पकड़ा गया है और मुंह दिखाने लायक नहीं बचा है। इसके बाद कुछ लोग बयानबाजी से पाकिस्तान की मदद कर रहे हैं, जो शोभा नहीं देता है। आपके बयानों को आधार बनाकर पाकिस्तान देश दुनिया में भ्रम फैला रहा है। कहा, सीमा पार आतंकियों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई में हमारी सरकार एक के बाद एक कदम उठा रही है। आतंकी अपना अंत सामने देख रहे हैं, उनकी बौखलाहट बढ़ रही है। इसी का परिणाम है कि जम्मू में राक्षसी प्रयास किया लेकिन हमारी सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है। पीएम मोदी ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद हमारे देश के वीर सेनानियों ने जो पराक्रम दिखाया, उससे आपका सीना चौड़ा हुआ कि नहीं। लेकिन, विपक्षी दल राजनीतिक स्वार्थ के लिए जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग कर रहे हैं, सरकार पर जो आरोप लगा रहे हैं, उससे देश के दुश्मनों को ताकत मिल रहा है। आज जब पाकिस्तान पर पूरी दुनिया का दबाव है। आतंकवाद पर वो रंगे हाथों पकड़ा गया है। ऐसे समय में हमारे ही लोगों के बयान पाकिस्तान को मदद कर रहे हैं। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ लोग सेना के पराक्रम को नीचा दिखाने का दिन रात प्रयास कर रहे हैं, ऐसे लोगों को शर्म आनी चाहिये लेकिन उनको नहीं आती है। पाकिस्तान को अच्छा लगता है, जो पसंद है, ऐसी बातें देश में बैठे लोग कर रहे हैं, जो वीरों के पराक्रम का अपमान करना है। प्रधानमंत्री ने कहा, कानपुर की धरती से मैं गंभीर आरोप लगा रहा हूं, जो आजादी की जंग के क्रांतिकारियों की भूमि है। स्वार्थ की राजनीति के लिए  जिस प्रकार की बयानबाजी, भाषा और गंदे आरोप सरकार पर लगाए जा रहे हैं, इससे देश के दुश्मनों को बल मिल रहा है और उसका लाभ आतंकियों के सरपरस्त देने वाले उठा रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान को जो अच्छा लगे पाकिस्तान को जो पसंद आए ऐसी बातें हिंदुस्तान में बैठे हुए लोग कर रहे हैं। क्या है यह। क्या आप ऐसे लोगों को माफ कर सकते हैं। यह सेना का अपमान है कि नहीं है। महागठबंधन में महा मिलावट है। वे कहते हैं आओ मोदी को खत्म करें हम कहते हैं और आतंक को खत्म करें, मिलावट को खत्म करें।प्रधानमंत्री ने कहा कि कानपुर उद्योगों का शहर है, इसके लिए बिजली बेहद जरूरी है। पहले उप्र में बिजली की क्या व्यवस्था थी लेकिन अब योगी जी की सरकार ने बिजली पर काम किया है। पहले की सरकारों में बिजली को लेकर राजनीति की गई। पनकी पावर प्लांट इसका उदाहरण है, यहां पर एक यूनिट 52 साल पहले और दूसरी यूनिट 42 साल पहले लगी थी। इतने साल तक काम करते हुए मशीनें हांफने लगीं। एक यूनिट बिजली दस रुपये और कोयला की भी ज्यादा खपत है। इसे बदला जाना जरूरी था, इसीलिए  आज से छह हजार करोड़ रुपये पनकी यूनिट का विस्तारीकरण शुरू हो जाएगा। इससे बिजली भी आधे दाम की हो जाएगी और प्रदूषण भी कम होगा।प्रधानमंत्री ने पनकी पावर प्लांट के  विस्तारीकरण को लेकर जनता के बीच कहा कि जिसका शिलान्यास करते हैं, उसका उद्घाटन भी हम करते हैं। तीन साल में काम पूरा होगा तो हम ही आएंगे। हमारी सरकार कारोबार के साथ हर जिले में  बिजली व्यवस्था में सुधार पर काम कर रही है। उज्ज्वला योजना में पौने करोड़ लोगों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिए गए। कानपुर में ही एक लाख पचास हजार लोगों के जीवन से अंधेरा मिटा दिया है। पहले की सरकारों नीयत अंधेरा दूर करने की ही नहीं थी। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले की सरकारों की नीयत में खोट था। बताऊं कैसे, मां गंगा को साफ करने के नाम पर हजारों करोड़ रुपये कहां चले गए, पानी में गए या फिर पॉकेट में गए। तिजोरी तो खाली हो गई लेकिन मां गंगा साफ नहीं हुई। इसके बाद 2014 में यूपी के लोगों ने देश के लोगों ने हमे  काम करने का मौका दिया तब हालात बदले। हमने मां गंगोत्री से गंगासागर तक पूरी तरह समर्पण किया। नमामि  गंगे पर पौने तीन सौ प्रोजेक्ट पर काम किया। इसमें पचास से अधिक प्रोजेक्ट पर यूपी में काम हुआ। कानपुर में मां गंगा की स्थिति को बदल पाने को लोग नामुमकिन कहते थे लेकिन हमने इसके मुमकिन करके देश को विश्वास दिलाया। इसके लिए व्यापक काम  किया, नालों को बंद किया और गंदे पानी को ट्रीट किया। उन्होंने कहा कि एशिया का सबसे बड़ा सीसामऊ नाले का पानी गंगा में जाने से रोकने काम पूरा किया। जाजमऊ की टेनरियों का पानी ट्रीट करने तथा घरों के पानी को ट्रीट करने का काम शुरू होगा, इस काम का शिलान्यास हो गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कानपुर और पूरे यूपी में हमारी सरकार पुराने उद्योगों को संरक्षित कर नए उद्योगों को बढ़ावा दे रही है। डिफेंस कॉरीडोर का सबसे ज्यादा फायदा कानपुर को होगा। यूपी में निवेश इसलिए बढ़ा है क्योंकि अपराधियों पर लगाम लगी है। यहां सड़कों, हाईवे, रेलवे और एयर-वे का जाल बिछाया जा रहा है। मेट्रो पर काम हो रहा है, जिससे बदलाव आएगा। हमारी सरकार कानपुर में हर सुविधा में देने का प्रयास कर रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले की सरकार में सिर्फ 25 लाख आवास दिए गए। लेकिन हमारी सरकार बनने पर अबतक डेढ़ करोड़ पीएम आवास बन चुके हैं। यूपी में भी काफी तेजी पकड़ी है। पहले की सरकारों को गरीबों की परवाह नहीं थी। कानपुर की धरती से फिर वादा दोहरना चाहता हूं कि जिनके  पास घर नहीं हैं उनका अपना मकान होगा। आजादी के 75 साल पूरे होने तक कोई भी परिवार ऐसा नहीं होगा, जिसके पास अपनी छत न हो। काम तेजी से किया जा रहा है, आज नहीं तो कल, कल नहीं आगे सभी को आवास मिलेगा। 2022 के पहले सबको घर मिलने का भरोसा दिलाता हूं, कहा, मोदी है तो मुमकिन है। बातें करने वाली सरकारें बहुत आयीं लकिन काम करने वाली सरकार आपके सामने मौजूद हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, कानपुर के वीरों को याद करना जरूरी है, जिनके बलिदान से देश आगे बढ़ रहा है। पुलवामा में शहीद श्यामबाबू और बडग़ाम में शहीद दीपक पांडेय को कानपुर की धरती से मैं नमन करता हूं। उन्होंने शहीदों अमर रहे के नारे लगवाए। कहा, पुलवामा में हमले के बाद आप लोगों को याद है ना, हमारे वीर सैनिकों ने जो पराक्रम दिखाया, जिससे सीना चौड़ा हो गया और माथा गर्व से ऊंचा हो गया हमारा। भारत में भी दम है, हमारी सेना कर सकती है, इस बात पर आप में भी जोश है विश्वास है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारा प्रयास है कि आतंकी और उनके सरपरस्त, मदद देने वाले बौखला जाएं। हमें एक रहकर राष्ट्र के प्रति दायित्वों का निर्वहन करना होगा, एकता का भाव बनाए रखना होगा। उन्होंने जनता के बीच सवाल किया कि, आतंक की लड़ाई कौन लड़ सकता है, आतंक को जड़मूल से कौन खत्म कर सकता है, आतंकियों को कौन नष्ट कर सकता है। इसपर जनता के बीच से जवाब आया मोदी जी तो उन्होंने कहा कि मोदी नहीं देश के सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी। आपकी एकता, सद्भाव और भाईचारा चाहिये, इसी से मोदी को ताकत मिलेगी और आतंकवाद को कुचल देगा। आपका साथ चाहिये और यह विश्वास रखिये भारत जीतेगा। प्रधानमंत्री ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी की तारीफ की। कहा, लखनऊ में कश्मीरी भाइयों के साथ हुई हरकत पर सरकार ने तुरंत कार्रवाई की। उन्होंने अन्य राज्यों की सरकारों से भी इसी तरह कार्रवाई करने की अपील की। प्रधानमंत्री ने विरोधियों पर तंज कसते हुए कहा कि भ्रष्टाचार, वंशवाद को बचाने के लिए लोग महामिलावट की राजनीति कर रहे हैं। इन्हें शहीद जवानों, गरीबों, मध्यमवर्गीय, उद्योगों और गंगा की याद सिर्फ  उस वक्त आती है, जब वोट लेने होते हैं। इसीलिए इन्हें आतंक, भ्रष्टाचार और गरीबी के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लडऩे वाला मोदी खल रहा है। लोग कहते हैं आओ मिलावट करें कि राजनीति करने वाले लोग जेल में बंद लोगों को जोड़ रहे हैं, जो जेल जाने वाले हैं या जमानत पर हैं उन्हें भी जोड़ रहे हैं। वे कहते हैं कि मोदी को खत्म करें और हम कहते हैं कि आतंक को खत्म करें। प्रधानमंत्री ने कहा, मैं जानता हूं कि यूपी समेत देश का हर व्यक्ति देश के विकास में साथ खड़ा है। यहां बहुत से लोग आए हैं। मेरी नजर जहां तक जा रही हैं वहां लोग ही लोग हैं। इसके लिए कानपुर का धन्यवाद। पीएम मोदी ने पीएम आवास योजना के लाभार्थियों को उनके आवास की चाभी देने के साथ लखनऊ मेट्रो का शुभारंभ किया। उन्होंने कानपुर में 17 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। निराला नगर मैदान पर रैली के मंच पर सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 59 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। प्रमुख रूप से 6880 करोड़ रुपये के लखनऊ मेट्रो प्रोजेक्ट का लोकार्पण और 8379.62 करोड़ रुपये से आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट और 5816 करोड़ रुपये के पनकी पावर प्लांट का शिलान्यास।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जन कल्याणकारी योजनाओं को गिनाते हुए अपना संबोधन मोदी हैं तो मुमकिन है से शुरू किया। उन्होंने कहा कि हमारी नीति किसी जाति या मजहब विशेष के लिए नहीं है, हमारी नीति गांव के किसानों, गरीबों और सभी जरूरतमंदों के लिए हैं। इन सभी के चेहरों पर खुशी लाने के लिए हैं। कानपुर की पहचान औद्योगिक क्षेत्र के रूप में रही है। पिछली सरकारों की उपेक्षा से कानपुर उद्योगविहीन हो गया लेकिन मोदी जी ने योजनाएं देकर कानपुर ही नहीं उप्र के विकास को बढ़ावा दिया है। कानपुर की धरती से प्रधानमंत्री पनकी पावर प्रोजेक्ट, कानपुर, आगरा और लखनऊ के लिए मेट्रो की सौगात दी है। पिछली सरकारों में पीएम आवास से गरीब वंचित थे लेकिन मोदी जी के नेतृत्व में 23 लाख परिवारों को आवास मिले। सीएम ने कहा कि कानपुर शहर मां गंगा के किनारे का शहर और प्रधानमंत्री ने नमामि गंगे प्रोजेक्ट देकर पूरी तरह समर्पित रहे। इस देश में आजादी के बाद पहली बार किसी  प्रधानमंत्री ने मां गंगा के प्रति आस्था और अविरलता के लिए प्रोजेक्ट दिया और यह प्रयास एक आंदोलन बन गया। गंगा की निर्मलता और अविरलता पर प्रयागराज में हुए सफल कुंभ में चाहे संत हों, साधु या फिर श्रद्धालु और चाहे दूसरे देशों से आए लोग किसी ने भी अंगुली नहीं बल्कि निर्मलता और अविरलता पर प्रयासों की सराहना की। बहुत कम लोग प्रधानमंत्री बनने के बाद उपहार दान करते हैं लेकिन मोदी जी ने उपहार में मिले 12 करोड़ रुपये नमामि गंगे प्रोजेक्ट को दान कर दिए। बहुत कम लोग जानते होंगे कि दुनिया का सबसे बड़ा शांति पुरस्कार के सवा करोड़ रुपये भी प्रोजेक्ट को दिए। इस पर हमे गौरवान्वित हैं।उन्होंने कहा कि देश में 2014 के बाद ऐसा कौन सा चमत्कार हो गया जो हर गरीब को सिर ढकने के लिए छत उपलब्ध होने लग गई 9.5 करोड़ परिवारों को शौचालय उपलब्ध हो गए। यह सब मुमकिन हो सका पीएम मोदी की मेहनत तथा दृढ़निश्चय से। सब काम अब लोगों को अपने लगने लगे हैं। पीएम मोदी सारी अधूरी परियोजना को पूरा करा रहे हैं, क्योंकि इसमें जनता का पैसा लगा है और उसको सुविधा लेने का अधिकार भी है। इस बार प्रयागराज कुंभ में देश दुनिया से जो भी श्रद्धालु आए उन्होंने मां गंगा की अविरलता और निर्मलता की सराहना की। यह सब मुमकिन हो गया, क्योंकि मोदी है तो मुमकिन है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मोदी हैं तो मुमकिन है। आजादी के बाद गंगा की निर्मलता पर पहली बार किसी पीएम ने इनता ध्यान दिया। सबको निर्बाध बिजली की सुविधा दी। नागरिकों के जीवन में खुशहाली आई है।

मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मोदी हैं तो मुमकिन है। आजादी के बाद गंगा की निर्मलता पर पहली बार किसी पीएम ने इनता ध्यान दिया। सबको निर्बाध बिजली की सुविधा दी। नागरिकों के जीवन में खुशहाली आई है। देश के अंदर विकास को एक एजेंडा बनाकर प्रत्येक तबके तक पहुंचाने का कार्य सरकार ने किया है। 14 से 19 तक के परिणाम हमारे सामने हैं। साढ़ नौ करोड़ परिवारों को शौचालय दिया, 12 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन। किसी मजहब को ध्यान में रखकर हमारी सरकार योजनाएं नहीं बनाती। मोदी जी की योजनाएं गांव और गरीब के लिए हैं। उन्होंने कहा कि हमारी नीति किसी जाति या मजहब विशेष के लिए नहीं है, हमारी नीति गांव के किसानों, गरीबों और सभी जरूरतमंदों के लिए हैं। इन सभी के चेहरों पर खुशी लाने के लिए हैं। कानपुर की पहचान औद्योगिक क्षेत्र के रूप में रही है। पिछली सरकारों की उपेक्षा से कानपुर उद्योगविहीन हो गया लेकिन मोदी जी ने योजनाएं देकर कानपुर ही नहीं उप्र के विकास को बढ़ावा दिया है। कानपुर की धरती से प्रधानमंत्री पनकी पावर प्रोजेक्ट, कानपुर, आगरा और लखनऊ के लिए मेट्रो की सौगात दी है। पिछली सरकारों में पीएम आवास से गरीब वंचित थे लेकिन मोदी जी के नेतृत्व में 23 लाख परिवारों को आवास मिले। सीएम ने कहा कि कानपुर शहर मां गंगा के किनारे का शहर और प्रधानमंत्री ने नमामि गंगे प्रोजेक्ट देकर पूरी तरह समर्पित रहे। इस देश में आजादी के बाद पहली बार किसी  प्रधानमंत्री ने मां गंगा के प्रति आस्था और अविरलता के लिए प्रोजेक्ट दिया और यह प्रयास एक आंदोलन बन गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत कानपुर के सांसद डॉ. मुरलीमनोहर जोशी ने किया। उन्होंने कहा कि यह हमारे देश का सौभाग्य है कि हमको नरेंद्र भाई मोदी के रूप में अद्वितीय काम करने वाला प्रधानमंत्री मिला है। आज सुबह छह बजे से नई दिल्ली से चले हैं, अब रात आठ बजे तक पहुंचेंगे। देश के लिए समर्पण से काम करने के साथ ही अन्य जरूरी काम करने का उनके पास ऐसा अभ्यास है कि नौजवान भी फेल हो जाते हैं। उनके नेतृत्व में भारत की अर्थव्यवस्था इतनी तेजी से बढ़ रही है कि हम चीन को पीछे छोडऩे के करीब है। उन्होंने कहा कि अब प्रश्न उठता है कि यह पहले क्यों नहीं हो सका। बीते चार से साढ़े चार वर्ष में ही क्यों हो रहा है। इसका एक ही जवाब है। अब देश को मिला है काबिल प्रधानमंत्री। अब तो लगता है कि नरेंद्र भाई मोदी ही लंबे समय तक देश के प्रधानमंत्री रहें। 

सांसद मुरली मनोहर जोशी ने कहा पूर्व की सरकार में बैठे लोग नपुंसक थे उनमें इतनी सामर्थ्य नहीं थी कि वह शत्रु की सीमा में जाकर उनका नाश कर सकें। मोदी ने विश्व में हिमालय की ऊंचाइयों तक भारत को  पहुंचाया और जिन्होंने ऐसे एक साथ अनेक काम किए हैं जिनका विचार भी दूसरी सरकार नहीं कर सकती थी। देश में इतनी ऊर्जा और देश में इतना विश्वास पैदा हुआ उसका कारण नरेंद्र भाई की नीतियां हैं।डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अपने संबोधन में अतिथियों का स्वागत करते हुए लोगों से भारत माता की जय और  जय श्रीराम के नारे लगवाकर संबोधन शुरू  किया। उन्होंने कहा कि भारत ही नहीं  पूरी दुनिया के सबसे शक्तिशाली नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानपुर आए है। चुनाव से पहले आचार संहिता लागू होने से पहले विकास की सौगात देंगे। उन्होंने विरोधी दलों पर तंज कसते हुए कहा कि विकास रूपी लक्ष्मी जी न तो हाथ के पंजे  पर आती है, न ही सपा की साइकिल पर आती हैं और न ही बसपा के हाथी  पर आती हैं। लक्ष्मी जी सिर्फ कमल के फूल पर ही बैठकर आती हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह 2014 का चुनाव जीता था अब उसी तरह 2019 का लोकसभा चुनाव भी प्रधानमंत्री के नेतृत्व जीतना है। उन्होंने रैली में मौजूद कार्यकर्ताओं से हाथ उठवाकर जीत के लिए नारे लगवाए।प्रधानमंत्री वाराणसी से हेलीकाप्टर द्वारा रेलवे मैदान निराला नगर स्थित सभा स्थल पर पहुंचे। हेलीपैड पर कानपुर के विधायकों ने उनका स्वागत किया और मंच तक ले गये। हालांकि यहां से जाते वक्त वह पहले हेलीकाप्टर से चकेरी एयरपोर्ट गए, जहां से विमान के जरिये गाजियाबाद रवाना हो गए।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर में सीएम योगी ने पीएम मोदी के दौरे की तैयारियां परखीं, रैली स्थल पर ही मीटिंग

» इटावा-कानपुर हाईवे पर ईवीएम हटाने की मांग लेकर हाईवे पर जाम, पथराव करते लोगों पर चलीं पुलिस की लाठियां

» कांग्रेस किसानों की कर्ज माफी के नाम पर कर रही है राजनीति : केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा

» प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली कानपुर में आठ को, तैयारी जोरों पर

» कानपुर के पास शिवराजपुर रेलवे स्टेशन पर कालिंदी एक्सप्रेस में 'लो- एक्सप्लोसिव' से हुआ था धमाका

 

नवीन समाचार व लेख

» राजधानी के हजरतगंज कोतवाली में मची खलबली : कोई बल्ली लेकर भागा, तो कोई कूड़े पर डालने लगा मैट

» राजधानी लखनऊ में मेट्रो का नया युग, PM मोदी ने कानपुर से रिमोट का बटन दबाकर किया रवाना

» लखनऊ में मंत्री नितिन गडकरी ने कहा जल परिवहन विकसित किया जाए तो गंगा बनेगी यूपी का ग्रोथ इंजन

» कानपुर मे पीएम मोदी ने कहा सिरफिरे लोगों ने कश्मीरी भाइयों के साथ हरकत की, सरकार ने कार्रवाई की

» वाराणसी मे पीएम मोदी ने कहा- हमारी सरकार महिला सशक्तिकरण पर पूरी तरह से समर्पित