यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कुशीनगर और आगरा में धर्मांतरण कराने के आरोप में दस दबोचे


🗒 बुधवार, मार्च 29 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 धर्मांतरण कराने की कोशिश ईसाई मिशनरियों से जुड़े लोगों के लिए आज काफी महंगी पड़ गई। कुशीनगर और आगरा में धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश में लगे दस मिशनरी दबोच लिए गए। उनके खिलाफ धर्मांतरण से जुड़े कानून के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया। इनमें में दो पादरी समेत चार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। हिंंदू संगठनों खासकर हिंदू युवा वाहिनी और बजरंग दल ने दोनों शहरों में मिशनरियों के खिलाफ कड़ा प्रतिरोध दर्ज कराया। 

कुशीनगर और आगरा में धर्मांतरण कराने के आरोप में दस दबोचे

कुशीनगर के खड्डा क्षेत्र के सुकरौली गांव में धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इसमें दो व्यक्ति महाराष्ट्र के पादरी बताए जा रहे हैं। महाराष्ट्र से दो व्यक्ति सोमवार को गांव में उमेश के घर आए। आज सुबह उमेश के दरवाजे पर एक धार्मिक अनुष्ठान में दर्जनों लोग शामिल हुए। इसी बीच किसी ग्रामीण ने पूजन-अर्चन की आड़ में धर्मांतरण कराए जाने की सूचना हिंदू युवा वाहिनी (हियुवा) कार्यकर्ताओं को दी। धर्मांतरण की खबर पर पहुंचे हियुवा कार्यकर्ताओं हंगामा कर दिया। पूजन-अर्चन को बंद करा पुलिस को सूचना दी। हालांकि आयोजकों ने हियुवा कार्यकर्ताओं का विरोध किया। सूचना पर पहुंचे एसओ गजेंद्र राय ने उमेश व विजयमल से पूछताछ की। जहां दोनों ने घर में बीमार युवक के स्वस्थ होने को लेकर धार्मिक अनुष्ठान कराने की बात बताई। एसओ ने अनुष्ठान करा रहे महाराष्ट्र के गोरेगांव निवासी पोलराज और गोरेगांव के सिम्फोनी कस्बा निवासी दिलीप और गांव के उमेश तथा विजयमल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

धर्म परिवर्तन की कोशिश कराने के आरोप में छह मिशनरी प्रचारक बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने दबोच लिए। ये प्रचारक एक घर मेंं प्रेत बाधा दूर करने के नाम पर प्रार्थना करा रहे थे। दो प्रचारक खिसकने में सफल हो गए।आगरा के शमसाबाद के गोपालपुरा में सुनीता के घर  दोपहर एक बजे आठ युवक पहुंचे। वहां प्रार्थना करने लगे। गड़बड़ी की आशंका पर सुनीता के देवर बबलू ने बजरंगदल कार्यकर्ताओं को खबर कर दी। बजरंगियों के पहुंचने पर दो युवक भाग गए, जबकि छह को पकड़ लिया। थाने में इन युवकों ने बताया कि वे आगरा स्थित एक चर्च में रहते हैं। सुनीता की बेटी की अप्रैल में शादी है। प्रेत बाधा दूर करने के लिए उनके घर में प्रार्थना की जा रही थी। सीओ फतेहाबाद अशोक सिंह ने बताया कि बबलू की तहरीर पर सूरज, संजय, माइकल, महेश चंद, ब्रजेश, सुन्दर सिंह के खिलाफ धार्मिक सद्भाव बिगाडऩे की कोशिश का मुकदमा दर्ज किया गया है।

कुशीनगर से अन्य समाचार व लेख

» जनपद कुशीनगर में पत्नी व दो बच्चों की हत्या के बाद फार्मासिस्ट ने की आत्महत्या

» जनपद कुशीनगर में दो बेटियों संग पिता ने फंदे से झूलकर दी जान

» कुशीनगर मे CBI ने FCI के दो अधिकारियों को घूस लेते रंगे हाथों दबोचा

» कुशीनगर मे कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर का बयान हर मतदाता को मिलना चाहिए 5000 रुपए मासिक पेंशन

» कुशीनगर हादसा मे पोस्टमार्टम के बाद डॉक्टरों ने खुला छोड़ा बच्चों का शव

 

नवीन समाचार व लेख

» यूनियन बैंक में रूपये जमा आये युवक का पर्स चोरी ,सूचना पर 100 पुलिस मौके पर

» मेरठ जिला कारागार में बंद बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने कहा जेल में हो रहा सौतेला व्यवहार, समय आने पर सिखाऊंगा सबक

» मेरठ मे विरोध के बीच 800 मीटर सड़क पर एमडीए ने किया कब्जा

» जिला मीरजापुर में घरों में दौड़ा हाईवोल्टेज करेंट, एक महिला की मौत

» अमरोहा जिला के के गजरौला में हैवान बना बाप, महज 10 रुपये के लिए मासूमों को उलटा लटकाकर पीटा