आरएसएस कार्यकर्ताओं की सेना से तुलना करने पर मोहन भगवत माफी मांगें : मायावती

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आरएसएस कार्यकर्ताओं की सेना से तुलना करने पर मोहन भगवत माफी मांगें : मायावती


🗒 मंगलवार, फरवरी 13 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत से सेना और आरएसएस कार्यकर्ताओं की तुलना करने पर देश की जनता से माफी मांगने को कहा है। बसपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि सेना की तुलना स्वयंसेवकों से करना सेना के लिए अत्यंत आपत्ति व अपमानजनक है। मंगलवार को जारी बयान में उन्होंने कहा कि भागवत को अपने स्वयंसेवकों पर इतना ही भरोसा है तो वह अपनी सुरक्षा के लिए सरकारी खर्च पर विशेष कमांडों क्यों रखते हैं।

आरएसएस कार्यकर्ताओं की सेना से तुलना करने पर मोहन भगवत माफी मांगें : मायावती

मायावती ने कहा कि भारतीय सेना को विभिन्न प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में आरएसएस प्रमुख का बयान सेना का मनोबल गिराने जैसा है, इसकी इजाजत कतई नहीं दी जा सकती है। मोहन भागवत को अपनी गलत बयानबाजी के लिए देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। मायावती ने कहा कि आरएसएस के बारे यह भ्रम समाप्त हो चुका है कि वह समाजिक संगठन है। आरएसएस बहुत तेजी से राजनीतिक संगठन बनता जा रहा है। संघ के स्वयंसेवक समाज की सेवा को दरकिनार कर भाजपा की चुनावी राजनीति करने में व्यस्त नजर आते हैं।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» बकरीद पर कई जिलों में पुलिस खास अलर्ट

» लखनऊ के लालजी टंडन बिहार और आगरा की बेबी रानी मौर्य अब उत्तराखंड महामहिम होंगे

» यूपी सरकार ने केरल के बाढ़ पीडि़तों के लिए मदद भेजी, भाजपा भी भेजेगी

» नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ कानपुर व वाराणसी में राजद्रोह का मामला दर्ज

» दस कंपनियों को प्रोत्साहन के लिए सरकार देगी रियायत

 

नवीन समाचार व लेख

» सिद्धू नहीं भारत-पाक का रिश्ता है असली मुद्दा: कांग्रेस

» अहमद पटेल नए कोषाध्यक्ष, मोतीलाल वोरा बने महासचिव

» श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में अब पाइप से होगा बाबा विश्वनाथ का जल और दुग्धाभिषेक, थाल-बाल्टी प्रवेश पर रोक

» बकरीद पर कई जिलों में पुलिस खास अलर्ट

» सुप्रीम कोर्ट ने रद की चुनाव आयोग की अधिसूचना राज्यसभा चुनाव में नहीं होगा नोटा का विकल्प