यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

नरेश अग्रवाल के भाजपा में जाने से सपा को नुकसान नहीं : मुलायम


🗒 मंगलवार, मार्च 13 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

नरेश अग्रवाल के भाजपा में जाने पर जहां पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है कि इससे सपा को कोई नुकसान नहीं होगा, वहीं उनकी बहू अपर्णा यादव ने जया बच्चन के लिए कहे गए शब्दों पर नरेश का बचाव किया है। दूसरी ओर अखिलेश ने ट्वीट किया है कि नरेश ने हर महिला का अपमान किया।

नरेश अग्रवाल के भाजपा में जाने से सपा को नुकसान नहीं : मुलायम

नई दिल्ली में सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि नरेश के जाने से सपा को फायदा ही होगा। दूसरी ओर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नरेश की निंदा करते हुए कहा कि यह फिल्म जगत के साथ ही भारत की हर महिला का भी अपमान है। भाजपा अगर सच में नारी का सम्मान करती है तो तत्काल उनके खिलाफ कदम उठाए। अखिलेश यादव ने महिला आयोग से भी मांग की कि नरेश अग्रवाल पर कार्रवाई की जानी चाहिए। 

इधर, मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा ने कहा-उनके कद के नेता को जया जी के लिए इस तरह के शब्द का उपयोग नहीं करना चाहिए। मुझे लगता है कि वह गुस्से में ऐसा बोल गए अन्यथा वह एक बहुत आगे की सोच रखने वाले व्यक्ति हैैं। उन्होंने लड़कियों की शिक्षा के लिए बहुत काम किया है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» मेयर अभय सेठ को फर्जी एनकाउंटर केस में जमानत

» उत्तर प्रदेश सरकार को अनुपूरक बजट के पहले कर राजस्व वसूली ने दिया सुकून

» अमिताभ ठाकुर से बातचीत की रिकॉर्डिंग में मुलायम सिंह ने माना उनकी ही आवाज

» अब थर्मोकोल व प्लास्टिक के कप-प्लेट व ग्लास पर प्रतिबंध कल से

» सीएमएस के जगदीश गाधी आज मीडिया से करेंगे बात, दो दिनों से जारी है प्रदर्शन

 

नवीन समाचार व लेख

» घंटाघर चौराहे पर प्रान्तीय व्यापार मंडल के तत्वाधान में काली पट्टी बांधकर योगी सरकार का किया विरोध

» सावधान किसी मैसेज को क्लिक करके खोलने से पहले सोचे कहीं आपके अंगूठे का निशान हैंग तो नहीं हौ रहा हैं

» जनपद संतकबीर नगर में रेलवे ट्रैक के किनारे मिला तीन दोस्तों का शव

» वाराणसी मे इयरफोन लगाए ट्रैक्टर चालक की लापरवाही से गई छात्रा की जान

» सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा, 1575 नाबालिगों के उत्पीड़न मामलों में क्या कार्रवाई हुई