यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सीएम योगी आदित्यनाथ से मिले सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव


🗒 बुधवार, मई 16 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट की। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा देश के रक्षा मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव की सीएम योगी आदित्यनाथ से इस भेंट पर काफी कयास लग रहे हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ से मिले सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव

समाजवादी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव आज दोपहर एक बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट करने उनके सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग पहुंचे। यह भेंट पूर्व निर्धारित नहीं थी। अचानक मुलायम सिंह यादव के मुख्यमंत्री से भेंट करने पर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। मुलायम सिंह यादव तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच यह भेंट करीब 20 मिनट की थी। इसके बाद वह वापस अपने आवास चले गए।

समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह यादव के साथ उनके छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव को शामली के कैराना लोकसभा तथा बिजनौर के नूरपुर विधानसभा उप चुनाव में पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूची से बाहर कर दिया है। पार्टी ने सूची चुनाव आयोग को भेज दी है। इस सूची में मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव का नाम शामिल नहीं है। मुलायम और शिवपाल का नाम गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के स्टार प्रचारकों की लिस्ट में भी नहीं था। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ पहुंचे लाखों राज्य कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन के लिए ताकत दिखाई

» लखनऊ के SSP आवास पर महिला ने किया आत्मदाह का प्रयास, मां ने रो-रो कर बताई दास्तां

» जिला बाराबंकी के आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय के लिए दस करोड़ देने की घोषणा

» खनन घोटाले को लेकर पूर्व मंत्री गायत्री पर ईडी का शिकंजा

» बसपा उत्तर प्रदेश से बाहर के क्षेत्रीय दलों से भी गठबंधन करने जा रही

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरठ मे चंद्रशेखर ने कहा- हमें मत छेड़ना, कपड़े की तरह फाड़ देंगे

» जिला जौनपुर में शारदा सहायक नहर में पुलिया तोडकर ट्रक गिरने से दो गंभीर रूप से घायल

» गाजीपुर जिले में ऑनलाइन धोखाधड़ी के शिकार युवक ने खुद को आग के हवाले कर दे दी अपनी जान

» मध्य प्रदेश में फर्जी डिग्री से टवारी बने 12 लोगों पर शिकंजा, दस-दस हजार का इनामं घोषित

» लखनऊ पहुंचे लाखों राज्य कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन के लिए ताकत दिखाई