मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 जिलों के राजभरों से कहा गजनवी नहीं सुहेलदेव की तर्ज पर चलेगा देश

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 जिलों के राजभरों से कहा गजनवी नहीं सुहेलदेव की तर्ज पर चलेगा देश


🗒 बुधवार, अगस्त 08 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सामाजिक सम्मेलनों के जरिये जातियों और उप जातियों को सहेज रही भाजपा ने बुधवार को राजभरों को उनके गौरव का अहसास कराकर रिश्तों की गांठ मजबूत की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजभरों को झकझोरते हुए कहा, 'एक तरफ हम महाराजा सुहेलदेव के वंशज हैं और दूसरी तरफ उन लोगों से गुमराह हो रहे जो महमूद गजनवी और गोरी को आदर्श मानते हैं। तय करना होगा कि महमूद गजनवी नहीं, सुहेलदेव की तर्ज पर देश चलेगा। '

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 जिलों के राजभरों से कहा गजनवी नहीं सुहेलदेव की तर्ज पर चलेगा देश

भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा विश्वेश्वरैया सभागार में आयोजित 'सामाजिक-प्रतिनिधि सम्मेलन ' को मुख्यमंत्री बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस सम्मेलन के जरिये हिंदुत्व पर फोकस किया। कहा, महमूद गजनवी का भांजा गाजी सालार सोमनाथ समेत सभी मंदिरों पर आक्रमण में शामिल था। वह अयोध्या, काशी, मथुरा समेत तमाम मंदिरों को लूटकर एक तरफा राज्य स्थापित करना चाहता था लेकिन, सुहेलदेव ने बहराइच में सेना समेत उसका खात्मा कर दिया। इससे 150 वर्षों तक किसी विदेशी आक्रांता को भारत पर आक्रमण की हिम्मत नहीं पड़ी। योगी ने कहा, सुहेलदेव के इतिहास से तोड़-मरोड़ की गई और बहादुरी का सच सामने नहीं आने दिया गया। उन्होंने चुनौती के अंदाज में कहा, जो लोग कश्मीर की स्वतंत्रता और भारत के विभाजन की बात करते हैं और हिंदू देवी-देवताओं को अपमानित करते हैं, उन्हें हम राष्ट्र की एकता से खिलवाड़ नहीं करने देंगे। योगी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने के लिए मोदी की सराहना करते हुए कांग्रेस, सपा व बसपा पर भी निशाना साधा। योगी ने राजभर समाज और महाराजा सुहेलदेव को सबसे पहले सम्मान देने का श्रेय भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को दिया। योगी ने कहा, सुहेलदेव की जन्मस्थली बहराइच के चित्तौरा में भव्य स्मारक बनना चाहिए। योगी ने अनिल राजभर को जिम्मेदारी दी कि स्मारक के लिए पूरा ब्योरा तैयार कराएं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि राजभर समाज हमेशा कांग्रेस की आंखों में चुभता रहा क्योंकि इनका तेवर विद्रोही रहा है। अन्याय और सामंती व्यवस्था से लडऩे की वजह से कांग्रेस ने इस समाज का उत्थान नहीं होने दिया। जब पं. दीनदयाल उपाध्याय, नानाजी देशमुख और डॉ. लोहिया ने परिवर्तन की लहर चलाई तो राजभर समाज ने ही कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करने का कार्य किया। उन्होंने कांग्रेस, सपा व बसपा पर भी जमकर तीर चलाए। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनने से रोकने के लिए कांग्रेस, सपा और बसपा गठबंधन का खेल खेल रहे हैं लेकिन, 50 फीसद से ज्यादा पिछड़ों का वोट मोदी और कमल पर बरसेगा तो उनको 2019 में दोबारा पीएम बनने से कोई रोक नहीं पाएगा। केशव ने कहा, देश की आजादी के बाद सिर्फ भाजपा ने राजभर और पिछड़ा समाज की चिंता की। सपा, बसपा और कांग्रेस की घबराहट दिख रही है। कहा कि जो अफसर जनता की सेवा नहीं करेगा वह सरकारी कुर्सी पर रह नहीं पाएगा। उन्होंने पिछड़े वर्ग के मोती सहेजकर माला बनाने का आह्वïान किया। सम्मेलन में निगमों के चेयरमैन बाबूराम निषाद व बीएल वर्मा, भाजपा महामंत्री विजय बहादुर पाठक भी मौजूद थे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» राज्य महिला आयोग अध्यक्ष विमला बाथम ने कहा बालिका और महिला संरक्षण गृहों की निगरानी खुद करें जिलाधिकारी

» 2018 की सिपाही भर्ती परीक्षा की द्वितीय पाली की परीक्षा निरस्त, 12 लाख अभ्यर्थी प्रभावित

» लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में स्वास्थ्य मंत्री को देखने में लगा रहा मंत्रियों का तांता

» मंत्री स्वाती सिंह शौचालय में टमाटर की दुकान देख भड़की सचिव की लगी क्लास-दुकानदार को फटकार

» कैबिनेट ने किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में संशोधन प्रस्ताव को मंजूरी दे दी अब एडीशनल प्रोफेसर और प्रतिकुलपति की तैनाती

 

नवीन समाचार व लेख

» राज्य महिला आयोग अध्यक्ष विमला बाथम ने कहा बालिका और महिला संरक्षण गृहों की निगरानी खुद करें जिलाधिकारी

» करुणानिधि का अंतिम संस्कार मरीना बीच पर राजकीय सम्मान के साथ हुआ

» अब देवरिया, मुजफ्फरपुर कांड के बाद केंद्र सरकार अलर्ट, बाल गृहों के सोशल ऑडिट का आदेश

» शाहजहांपुर जिले के स्कूल में शिक्षक की पिटाई से फूटी केजी के छात्र की अांख, पीड़ित परिवार धरने पर बैठा

» बरेली में सामूहिक दुष्कर्म, फिर देह व्यापार में झोंका