यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

देवरिया कांड को लेकर प्रदर्शन, रीता बहुगुणा का इस्तीफा मांगा


🗒 गुरुवार, अगस्त 09 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

देवरिया प्रकरण की सीबीआइ जांच कराने और संबंधित अधिकारियों पर कार्रवाई के बावजूद जनाक्रोश बढ़ रहा है। कांग्रेस और वाम दलों ने आज जिला केंद्रों पर प्रदर्शन कर कर विभागीय मंत्री का इस्तीफा मांगा है। यूपी के वामगढ़ कानपुर में सियासत गरम रही है। दरअसल चुनावी मोर्चेबंदी के बीच देवरिया संवासिनी गृह में संवासिनियों से उत्पीड़न मामले ने प्रदेश की योगी सरकार के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। इसको लेकर वामपंथी, कांग्रेसी और विभिन्न विपक्षी दलों के लोग सड़क पर उतरे। इस दौरान जिले-जिले धरना प्रदर्शन और नारेबाजी कर सीबीआई जांच और जिम्मेदार लोगों से इस्तीफा मांगा गया।

देवरिया कांड को लेकर प्रदर्शन, रीता बहुगुणा का इस्तीफा मांगा

कांग्रेस का आरोप लगाया कि देवरिया कांड की सीबीआइ जांच का आदेश महज दिखावा है। कांग्रेसियों ने महिला कल्याण विभाग की मंत्री से त्यागपत्र देने की मांग की। प्रमुख सचिव रेणुका कुमार पर भी निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि गत पांच वर्ष प्रमुख सचिव इसी विभाग में तैनात हैं। सरकार ने उन पर कार्रवाई करने के बजाए उनको जांच समिति में रखा है। इस घिनौने कांड पर कांग्रेस खामोश नहीं बैठेगी। गुरुवार को सभी जिला केंद्रों पर प्रदर्शन हुआ और राज्यपाल से हस्तक्षेप करने की मांग के ज्ञापन सौंपे गए।अपना दल भी भाजपा शासनकाल में महिलाओं पर अत्याचार की घटनाओं में वृद्धि पर खफा दिखा और बिहार की तर्ज पर विभागीय मंत्री से इस्तीफा देने की मांग की। वामदलों ने भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर जिला केंद्रों पर प्रदर्शन कर देवरिया कांड पर विरोध जताया। कानपुर में सपा विधायक इरफान सोलंकी ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ धरना प्रदर्शन कर सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। विधायक सोलंकी ने कहा कि सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा तो देती है, लेकिन बहन-बेटियों की सुरक्षा करने में नाकाम साबित हुई है। देवरिया की घटना बहुत चिंताजनक और दुःखद है। इस मामले में दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। केस की सुनवाई फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में कर जल्द फैसला सुनाकर संदेश दिया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने मांग की है कि इस मामले का संज्ञान स्वयं राष्ट्रपति लें और जिम्मेदार योगी सरकार को बर्खास्त करें। चित्रकूट  में वाम दलों ने देवरिया कांड, महंगाई और बढ़ते अपराध के आरोपों के साथ राज्य सरकार के खिलाफ जुलूस निकाला और प्रदेश सरकार से इस्तीफा मांगा। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रक्तदान महादान इसके बारे में प्रचलित भ्रांतियों को दूर करें

» उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने घोषणा की कर्पूरी ठाकुर के नाम पर हर जिले में होगी एक सड़क

» राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डॉ मसूद अहमद ने कहा योगी आदित्यनाथ की स्थिति प्रोटेम मुख्यमंत्री जैसी है, उनकी कोई नहीं सुनता

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 जिलों के राजभरों से कहा गजनवी नहीं सुहेलदेव की तर्ज पर चलेगा देश

» राज्य महिला आयोग अध्यक्ष विमला बाथम ने कहा बालिका और महिला संरक्षण गृहों की निगरानी खुद करें जिलाधिकारी

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रक्तदान महादान इसके बारे में प्रचलित भ्रांतियों को दूर करें

» उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने घोषणा की कर्पूरी ठाकुर के नाम पर हर जिले में होगी एक सड़क

» महराजगंज सोनौली बार्डर से एटीएम हैकर गिरोह का सरगना रोमानिया गिरफ्तार

» प्रतापगढ़ के दो आश्रय गृहों से 26 महिलाएं गायब, जांच शुरू

» देवरिया कांड को लेकर प्रदर्शन, रीता बहुगुणा का इस्तीफा मांगा