यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अब कपिल सिब्बल के साथ आजम खां ने उठाए सवाल


🗒 मंगलवार, दिसंबर 04 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

बुलंदशहर के स्याना में कल गोवंश अवशेष मिलने के बाद हिंसा में इंस्पेक्टर के साथ एक युवक की मौत के बाद राजनीति भी तेज हो गई है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के साथ ही समाजवादी पार्टी के फायरब्रांड नेता आजम खां ने हिंसा पर सवाल उठाया है। इस मामले ने विपक्ष को सरकार पर हमला करने का एक और मौका दे दिया है राज्य के साथ केंद्र में भाजपा की सरकार है। घटना में पुलिस इंस्पेक्टर की मौत ने सियासी रंग ले लिया है।

अब कपिल सिब्बल के साथ आजम खां ने उठाए सवाल

गांव महाव में कल की हिंसा के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जगह उगलने का गंभीर आरोप लगाया है। सिब्बल ने कहा कि योगी आदित्यनाथ जहर उगल रहे हैं, जिसके कारण उत्तर प्रदेश में इन दिनों माहौल बेहद खराब है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने सीएम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कठघरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि यह एक बेहद चौंकाने वाली घटना है कि कैसे भीड़ ने अखलाख खां के मामले की जांच कर रहे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की हत्या कर दी। किसने इन लोगों को कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार दिया। सिब्बल ने कहा कि अपने राज्य की देखभाल करने की बजाए योगी आदित्यनाथ तेलंगाना जा रहे हैं और वहां जहर उगल रहे हैं।अखिलेश यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे आजम खां ने कहा कि जिस स्थान पर हिंसा हुई है वहां पर तो अल्पसंख्यक आबादी है ही नहीं। इस घटना पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खां ने भी सवाल खड़े किए हैं। उनका कहना है कि इस मामले की जांच होनी चाहिए क्योंकि उस क्षेत्र में अल्पसंख्यक समुदाय नहीं रहता है। यदि यह सच में पशु अवशेष का मामला है तो पुलिस को इस गंभीर मामले की जांच करनी चाहिए कि उन अवशेषों को वहां कौन लेकर आया। उस विशिष्ट क्षेत्र में कोई अल्पसंख्यक आबादी नहीं रहती है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर में हुई हिंसा पर दुख जताते हुए इस घटना में शहीद हुए पुलिस इंस्पेक्टर के परिजन को कुल 50 लाख रूपये की सहायता का ऐलान किया। मुख्यमंत्री ने दो दिन के अंदर मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश भी दिया है। फिलहाल इलाके में धारा 144 लागू है। दरअसल बुलंदशहर के गांव चिंगरावठी गोवंश के अवशेष मिले थे, जिसकी सूचना स्याना के इंस्पेक्टर को दी गई थी। इसके बाद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे थे। उन्होंने ग्रामीणों को समझाया-बुझाया। इसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने गोवंश के अवशेष को लेकर पुलिस स्टेशन को घेर लिया और जाम लगा दिया। एक बार फिर समझाया गया, ग्रामीण पहले तो सहमत हो गए. बाद में ग्रामीणों ने पुलिस चौकी पर पथराव शुरू कर दिया और सुबोध सिंह को मौत के घाट उतार दिया। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» प्रत्यूष मणि त्रिपाठी की हत्या के बाद भाजपा नेताओं ने की एसएसपी को बर्खास्त करने की मांग

» लखनऊ मे युवा भाजपा नेता की हत्या में दो गिरफ्तार, ठेले वाले की तलाश

» सीएम योगी आदित्यनाथ प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था पर बेहद गंभीर, बुलाई आपात बैठक

» इंस्‍पेक्‍टर के परिजनों को 50 लाख, परिवार के एक सदस्‍य को नौकरी की घोषणा

» राजधानी मे युवा BJP नेता की चाकू घोंपकर हत्या, SSP को हटाने की मांग- हंगामा

 

नवीन समाचार व लेख

» सीएम योगी गौ-गौ-गौ चिल्लाते हैं, मेरे भाई ने जान दे दी

» प्रत्यूष मणि त्रिपाठी की हत्या के बाद भाजपा नेताओं ने की एसएसपी को बर्खास्त करने की मांग

» लखनऊ मे युवा भाजपा नेता की हत्या में दो गिरफ्तार, ठेले वाले की तलाश

» पुलिस के लिए सनसनीखेज लूट के बाद दो बहनों की हत्या का पर्दाफाश चुनौती बनी

» गोरखपुर में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कड़ी मेहनत करें विद्यार्थी, इसका कोई विकल्प नहीं होता