यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला गोरखपुर में रेलवे ट्रैक पर फंसी कार और सामने से आती नजर आई ट्रेन


🗒 शनिवार, दिसंबर 08 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 डुप्लीकेट पंजाब मेल की जनरल बोगी में शनिवार सुबह आग लगने से खलबली मच गई। मुरादाबाद में यात्रियों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन रोक दी। इसके बाद आगे की दौड़धूप के बाद आग बुझाने का काम शुरू हुआ। गोरखपुर और रायबरेली में भी बड़े ट्रेन हादसे होने से बच गए। हादसों की आहट से रेल संचालन प्रभावित हुआ।

जिला गोरखपुर में रेलवे ट्रैक पर फंसी कार और सामने से आती नजर आई ट्रेन

रेलवे ट्रैक पार करते समय कार फंस गई और उसमें सवार युवक ट्रैक पर ही कार छोड़कर फरार हो गए। ट्रैक पर कार देख आसपास के ग्रामीण इकट्ठा हो गए और उन्होंने इसी दौरान गुजरने वाली गोंडा-गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन को लालटेन दिखाकर रोका। ट्रेन रुकने के बाद कार हटाई गई। ट्रैक पर ट्रेन करीब 45 मिनट खड़ी रही। ट्रेन संख्या 15528 रात करीब 8:30 बजे सहजनवां रेलवे स्टेशन पर पहुंचती है। रात को गोंडा से चलने के बाद ट्रेन रास्ते में लेट होती गई। इसी बीच लखनऊ की तरफ से आ रही कार संख्या यूपी 52 एएम 0345 में सवार युवक रात करीब पौने 10 बजे कार को फोरलेन के बजाय सर्विस लेन में उतर कर सीहापार ओवर ब्रिज के नीचे लेकर चले गए। वहां वे कार को रेलवे ट्रैक पर चढ़ाकर पार करने लगे, लेकिन सुरक्षा के लिए लगायी गई रेङ्क्षलग से टकराकर कार ट्रैक पर फंस गई। ट्रैक पर कार फंसने के बाद उसमें सवार युवकों ने उसे निकालने का प्रयास किया, मगर सफलता न मिलने पर कार छोड़कर भाग गए। कार में सवार युवकों के बारे में कुछ पता नहीं चल रहा है, मगर कार देवरिया के संजय कुमार के नाम से पंजीकृत है। सहजनवां रेलवे स्टेशन के अधीक्षक विनय कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि रेल ट्रैक पर कार खड़ी होने पैसेंजर ट्रेन 45 करीब मिनट खड़ी रही। रेलवे ट्रैक पार करते समय कार फंस गई और उसमें सवार युवक ट्रैक पर ही कार छोड़कर फरार हो गए। ट्रैक पर कार देख आसपास के ग्रामीण इकट्ठा हो गए और उन्होंने इसी दौरान गुजरने वाली गोंडा-गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन को लालटेन दिखाकर रोका। ट्रेन रुकने के बाद कार हटाई गई। ट्रैक पर ट्रेन करीब 45 मिनट खड़ी रही। ट्रेन संख्या 15528 रात करीब 8:30 बजे सहजनवां रेलवे स्टेशन पर पहुंचती है। रात को गोंडा से चलने के बाद ट्रेन रास्ते में लेट होती गई। इसी बीच लखनऊ की तरफ से आ रही कार संख्या यूपी 52 एएम 0345 में सवार युवक रात करीब पौने 10 बजे कार को फोरलेन के बजाय सर्विस लेन में उतर कर सीहापार ओवर ब्रिज के नीचे लेकर चले गए। वहां वे कार को रेलवे ट्रैक पर चढ़ाकर पार करने लगे, लेकिन सुरक्षा के लिए लगायी गई रेङ्क्षलग से टकराकर कार ट्रैक पर फंस गई। ट्रैक पर कार फंसने के बाद उसमें सवार युवकों ने उसे निकालने का प्रयास किया, मगर सफलता न मिलने पर कार छोड़कर भाग गए। कार में सवार युवकों के बारे में कुछ पता नहीं चल रहा है, मगर कार देवरिया के संजय कुमार के नाम से पंजीकृत है। सहजनवां रेलवे स्टेशन के अधीक्षक विनय कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि रेल ट्रैक पर कार खड़ी होने पैसेंजर ट्रेन 45 करीब मिनट खड़ी रही। 

थोड़ी सी सतर्कता से रायबरेली के डलमऊ शनिवार को एक बड़ी दुर्घटना का गवाह बनते-बनते बच गया। रेल की पटरी टूटी हुई थी और ट्रेन आ गई। मगर, समय रहते ही ट्रेन को रोक लिया या।  डलमऊ और राधाबालमपुर रेलवे स्टेशन के बीच नसीरपुर गांव पड़ता है। यहां एक जगह रेलवे लाइन की एक पटरी टूटी हुई थी। सुबह शौच के लिए उधर आए ग्रामीणों ने देखा तो उनके होश उड़ गए। इसी बीच रायबरेली से कानपुर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन 54211 आती दिखी। लोगों ने उसे रोकने की कवायद शुरू की। लाल कपड़ा लेकर खड़े हुए और ट्रैक पर आग लगा दी। ताकि ट्रेन के लोको पायलट इशारों को आसानी से समझ सके। लोको पायलट ब्रजेंद्र कुमार ने यह सब देख आनन-फानन इमरजेंसी ब्रेक लगाकर समय रहते ट्रेन रोक दी। इसके बाद सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई। ग्रामीणों और लोको पायलट की इस सूझबूझ से ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त होते-होते बची। ट्रेन तब तक आगे नहीं बढ़ी, जब तक पटरी दुरुस्त नहीं हुई। इसमें करीब डेढ़ घंटे का समय लग गया। इससे यात्री परेशान हुए। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» अब एक और धर्मसभा के लिए तैयार हो रही उत्तर प्रदेश के रामभक्तों की फौज

» 16 दिसंबर को प्रयागराज कुंभ कार्यों का लोकार्पण करने आएंगे प्रधानमंत्री : सीएम

» अब सरकार ही नहीं अखिलेश को भी ताकत दिखाएंगे शिवपाल यादव

» राजधानी मे होटल में ठहरी युवती से मिलने से रोका तो कर दी हत्या, तीन हिरासत में

» बुलंदशहर हिंसा मे सीओ, चौकी इंचार्ज के बाद SSP को भी हटाया गया

 

नवीन समाचार व लेख

» वाराणसी मे मनीषा कोइराला ने काशी विश्‍वनाथ और विंध्‍यवासिनी दरबार में किया दर्शन पूजन

» जिला गोरखपुर में रेलवे ट्रैक पर फंसी कार और सामने से आती नजर आई ट्रेन

» अब एक और धर्मसभा के लिए तैयार हो रही उत्तर प्रदेश के रामभक्तों की फौज

» नौ दिसंबर को गोरखपुर में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, राज्यपाल और मुख्यमंत्री करेंगे अगवानी

» 16 दिसंबर को प्रयागराज कुंभ कार्यों का लोकार्पण करने आएंगे प्रधानमंत्री : सीएम