उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष चंद्रभूषण पालीवाल का इस्तीफा

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष चंद्रभूषण पालीवाल का इस्तीफा


🗒 मंगलवार, दिसंबर 11 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार के बाद अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष बनाये गए पूर्व आइएएस चंद्र भूषण पालीवाल ने शनिवार रात अपने पद से इस्तीफा दे दिया। इस्तीफे का कारण उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य को बताया है, हालांकि आयोग को लेकर शासन की उपेक्षा से भी वह खुद को काफी दिनों से असहज महसूस कर रहे थे। उनके इस्तीफे के बाद आगामी परीक्षाओं को लेकर आयोग की चुनौतियां बढ़ गई हैं।

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष चंद्रभूषण पालीवाल का इस्तीफा

1981 बैच के आइएएस रहे पालीवाल 22 जनवरी, 2018 को आयोग के अध्यक्ष बनाए गए थे। उनका कार्यकाल अभी एक साल और शेष था और वह भर्ती प्रक्रिया में सुधार की दिशा में कई कदम बढ़ा रहे थे। फिर अचानक उन्होंने इस्तीफा देने का फैसला क्यों लिया इसको लेकर चर्चाओं का बाजार गरम है। माना जा रहा है कि कई मामलों में शासन से अपेक्षित सहयोग न मिलने की वजह से उन्होंने यह फैसला किया। इरादा उन्होंने पहले ही कर लिया था, सहायक लेखाकार-आडीटर परीक्षा-2016 का साक्षात्कार पूरा होने का वह इंतजार कर रहे थे। सोमवार को इस परीक्षा का साक्षात्कार पूरा हुआ। इसके बाद पालीवाल ने देर रात तक कार्यालय में रुककर शेष काम निपटाया और फिर राज्यपाल को अपना इस्तीफा भेज दिया। उन्होंने इस्तीफा भेजने की पुष्टि की और कहा कि इसके पीछे स्वास्थ्य व निजी कारण हैं।गौरतलब है कि पालीवाल की गिनती अपने समय के बेहतर प्रशासनिक अधिकारियों में होती रही है। कल्याण सिंह की सरकार में वह उनके सचिव भी रह चुके हैं। उनके इस्तीफे के बाद आयोग की कई चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। इस समय लगभग दस हजार नियुक्तियों की प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा 22-23 दिसंबर को अभ्यर्थियों के हिसाब से सबसे बड़ी ग्राम पंचायत परीक्षा भी होने वाली है, जिसमें 14 लाख अभ्यर्थी शामिल होंगे। हालांकि पालीवाल इस परीक्षा के आयोजन की पूरी तैयारियां करा चुके हैं। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» आशियाना थाना क्षेत्र में पुलिसकर्मी पर हमले मामले के मुख्य गवाह भाजपा नेता को जान से मारने की कोशिश

» राजधानी मे खुद को PCS अफसर बताकर अधिवक्ता को ऐसे फंसाया, ठगे 20 लाख

» लखनऊ के चौक में पॉलीथिन पर जुर्माने से भड़के व्यापारी, पांच घंटे तक चला बवाल

» राजधानी में टेंट व्यवसायी पर बीच सड़क Attack, पीछे से सिर पर मारी गोली-मौत

» पांच सौ रुपये की घूस, 17 साल बाद म‍िली डेढ़ वर्ष की सजा

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर के किदवई नगर मे 'लुटेरी दुल्हन' के जाल में इस तरह फंस गया एयरफोर्स कर्मी, लाखों लगाया चूना

» अब तक लोकसभा चुनाव में आचार संहिता उल्लंघन के 4349 मामले आए सामने

» जिला चंदौली में भिड़े भाजपा तथा सपा कार्यकर्ता, चुनाव आयोग ने मांगी रिपोर्ट

» महोबा मे तब तक बेरहमी से पीटता रहा जबतक नहीं चली गई मासूम की जान

» कानपुर के चकेरी मे लिफ्ट देकर बनाते थे शिकार, फिल्मी सीन की तरह हत्थे चढ़े लुटेरे