यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस को समर्थन देने का एलान किया


🗒 बुधवार, दिसंबर 12 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद लखनऊ में मीडिया से बातचीत में 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की। आम चुनाव के संभावित गठबंधन पर कहा कि अभी इस बारे में किसी से बात नहीं की। अभी बूथ स्तर पर सपा को मजबूत करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह जनादेश का स्वागत करते हैं। बोले-हमारा प्रदर्शन खास नहीं रहा लेकिन समर्थन करने के लिए मध्य प्रदेश की जनता का धन्यवाद करते हैं। सपा ने मध्य प्रदेश में कांग्रेस को समर्थन करने का फैसला किया है।

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस को समर्थन देने का एलान किया

अखिलेश यादव ने कहा था कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव परिणामों से साफ हो गया है कि जनता भाजपा की जाति-संप्रदाय की राजनीति से ऊब चुकी है। अब उनके बहकावे में नहीं आने वाली है। अखिलेश ने कहा कि इन राज्यों में जनता की एकजुटता ने भाजपा को सत्ता से बेदखल किया। मतदाताओं ने यह भी जता दिया है कि जब एक और एक मिलकर ग्यारह होते हैं तब बड़े-बड़ों की सत्ता नौ दो ग्यारह हो जाती है।सपा नेता ने कहा कि भाजपा ने चुनावों में समाज को तोड़ने और नफरत फैलाने में ही अपनी सारी ताकत लगा दी थी। उसने जनता के बुनियादी मुद्दों से ध्यान भटकाने की साजिशें कीं। भाजपा सत्ता के अंहकार में इतनी डूबी थी कि उसने किसानों, गरीबों, नौजवानों की आकांक्षाओं को ही कुचलना शुरू कर दिया।  उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि इन चुनावों में जनता ने राज्य के सत्ता प्रतिष्ठानों के साथ केन्द्र और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी नाराजगी जताई है. इन चुनाव नतीजों का असर निश्चित रूप से अगले साल के लोकसभा चुनाव पर पड़ेगा। भाजपा की जनविरोधी, विकास विरोधी एवं साम्प्रदायिक राजनीति को सपा उत्तर प्रदेश में करारी शिकस्त देगी।अखिलेश ने कहा कि मध्य प्रदेश, राजस्थान व छत्तीसगढ़ में भाजपा की हार किसानों व युवाओं की नाराजगी से हुई है। मीडिया को चाहिए कि वह किसानों की समस्या को अपने चैनल पर दिखाए। उन्होंने मोदी की जगह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आगे लाए जाने के सवाल पर हल्के-फुल्के अंदाज में कहा कि उन्होंने तो भगवान की भी जाति बता दी। योगी को बताना चाहिए कि किस भगवान ने उन्हें क्या दिया? ईवीएम से चुनाव करवाने पर उन्होंने कहा कि ये एक मुद्दा है जिसे देखने की जरूरत है। अमेरिका जैसे देशों ने भी ईवीएम को नहीं अपनाया। इस पर आगे बात करते रहेंगे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» सुप्रीम कोर्ट ने तेजबहादुर के नामांकन की जांच के लिए EC को दिए 24 घंटे

» लखनऊ के गणेशगंज में व्यवसायी ने लगाई फांसी, Suicide का गवाह बना CC कैमरा

» मानक नगर थाना क्षेत्र अंतगर्त रोडवेज कर्मी से सादे कागज थमाकर हजारों रूपये टप्पेबाज ले उड़े

» कृष्णा नगर थाना क्षेत्र अंतगर्त गैस सिलेंडर से लगी आग, लाखों के किमती समान हुआ खाक

» लोकबन्धु में टिकाकरण के बाद नवजात की हालत गम्भीर,मौत

 

नवीन समाचार व लेख

» सीएम अरविंद केजरीवाल के रोड शो में हंगामा, ग्रामीणों ने रोका काफिला

» अलीगढ एएमयू के तिब्बिया कॉलेज में बाबू को छत से फेंका

» आगरा मे ताज के पास बालिका से ढाबा मालिक के पुत्र ने किया दुष्कर्म

» बिजनौर के ग्राम मोहलड़वाला में खेत में बुवाई कर रहे क‍िसान को म‍िले 1862 के चांदी के सिक्‍के

» UP के फीरोजाबाद और मैनपुरी में पुलिस पर हमला, पिटाई, गाड़ी तोड़ी