प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए किलेबंदी करेगी समाजवादी पार्टी

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए किलेबंदी करेगी समाजवादी पार्टी


🗒 शुक्रवार, दिसंबर 14 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के चुनाव से फुर्सत पाने के बाद समाजवादी पार्टी ने अब प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए अपनी किलेबंदी शुरू कर दी है। इसके लिए उसका सबसे अधिक ध्यान अति पिछड़ों पर है। 18 दिसंबर को पार्टी मुख्यालय में होने वाली बैठक में पिछड़ा वर्ग के सभी विधानसभा क्षेत्र के प्रमुख नेताओं को बुलाया गया है। पार्टी शनिवार से राजधानी में चार दिवसीय समाजवादी विजन एवं विकास पदयात्रा भी शुरू करेगी।

प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए किलेबंदी करेगी समाजवादी पार्टी

संगठनात्मक स्तर पर भी समाजवादी पार्टी ने पिछड़ा वर्ग को काफी महत्व दिया है। इसके साथ ही पार्टी मुख्यालय में अलग-अलग वर्र्गों के कार्यकर्ता सम्मेलन भी हो चुके हैं। इसी कड़ी में 18 दिसंबर की बैठक भी है। इस बैठक में बूथ स्तरीय तैयारियों को अंतिम रूप देने के साथ ही जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने के लिए कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जाएगा। पार्टी चुनाव से पहले पिछड़ों में उपेक्षित अति पिछड़ों की सत्रह जातियों का मुद्दा भी उभार सकती है।सपा ने जिलों में पद यात्राएं भी शुरू की है। इसके जरिए लोगों तक सपा के डेवलपमेंट विजन को सामने रखते हुए भाजपा की घेराबंदी की जाएगा। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी के अनुसार राजधानी लखनऊ में चार दिवसीय समाजवादी विजन एवं विकास पदयात्रा 15 दिसंबर से शुरू होगी। पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव सपा कार्यालय से इसे रवाना करेंगे। इस यात्रा में लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्रनेताओं समेत युवाओं की बड़ा समूह शामिल होगा। 18 दिसंबर तक इस यात्रा में शामिल कार्यकर्ता लखनऊ के सभी क्षेत्रों में जाकर पार्टी का विजन लोगों के सामने रखेंगे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» आइपी सिंह के खिलाफ भाजपा का एक्शन, छह वर्ष तक रहेंगे बाहर

» राजधानी लखनऊ में कपड़ा व्यापारी पर हमला, तमंचा सटाकर मारी गोली

» लखनऊ मे संदिग्ध परिस्थितियों में महिला की मौत, पति पर हत्या का आरोप

» बहुचर्चित संजली हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल

» आय से अधिक संपत्ति मामले में बढ़ सकती हैं मुलायम-अखिलेश की मुश्किल, सुप्रीम कोर्ट ने CBI से मांगा जवाब

 

नवीन समाचार व लेख

» SC ने पूछा, कोर्ट आदेश देता है तो उसे मानने में चुनाव आयोग को क्या दिक्कत है?

» मथुरा में मुख्यमंत्री याेगी आदित्य नाथ ने कहा तबाही का नाम है कांग्रेस, आतंकवादियों की सरपरस्‍त

» मेरठ मे छात्रा से छेड़छाड़ कर वीडियो वायरल करने वाले तीनों आरोपित गिरफ्तार

» प्रयागराज मे एसटीएफ के रडार पर है मप्र की दस्यु सुंदरी साधना पटेल

» जिला गोरखपुर में धारदार हथियार से ऑटो चालक की गला रेतकर हत्या