यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजधानी में नकली शराब का करोड़ों का कारोबार पचास पैसे में देसी शराब बन रही ब्रांडेड


🗒 शनिवार, जनवरी 12 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

देसी शराब को ब्रांडेड बनाकर शौकीनों को पिलाया जा रहा है। पारा में पकड़ी गयी शराब शहर में कई दुकानों पर बेची जा रही थी। एसटीएफ के खुलासे के बाद अब प्रशासन ने दुकानों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। राजधानी में नकली शराब का करोड़ों का कारोबार है।

राजधानी में नकली शराब का करोड़ों का कारोबार पचास पैसे में देसी शराब बन रही ब्रांडेड

कारोबार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि जो शराब एसटीएफ ने पकड़ी है वह तो ऊंट के मुंह में जीरा है। इससे कई गुना अधिक शराब बाजार में खपाकर करोड़ों रुपये अंदर किए जा रहे हैं। अंग्रेजी दुकानों में जिन ब्रांड के क्वार्टर 175 और 200 रुपये में मिलते हैं वह महज 90 से 100 रुपये में मिल रहा है। आधी कीमत देखकर लोग इसे धड़ल्ले से खरीद भी रहे हैं। एसटीएफ के अफसरों का कहना है कि लखनऊ से कानपुर तक शराब तस्करों का जाल फैला है। पचास पैसे के स्‍टीकर से देसी शराब को बड़े ब्रांडों के नाम पर बेचा जा रहा है। लखनऊ में इससे पहले भी अरुणाचल की शराब बरामद हो चुकी है।शहर में लगातार प्रतिबंधित और नकली शराब की बिक्री से आबकारी विभाग पर भी सवाल उठे हैं। एसटीएफ ने छापा मारकर शराब बरामद कर ली, लेकिन आबकारी विभाग के निरीक्षक और सिपाहियों को खबर नहीं लगी। दरअसल शराब माफिया की मिलीभगत के चलते आबकारी विभाग को नकली शराब का कारोबार नजर नहीं आता है।शहर में बड़े पैमाने पर प्रतिबंधित शराब पकड़े जाने के बाद एडीएम संतोष वैश्य ने दुकानों की रेंडम जांच करने के निर्देश दिए हैं। एडीएम ने सभी एसडीएम और एसीएम से दुकानों की नियमित जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ मे साइबर जालसाजों ने पूर्व डीजी के खाते से उड़ाए आठ हजार

» एसटीएफ टीम ने नलकूप चालक भर्ती परीक्षा में मेरठ के प्रिंसिपल सहित पांच गिरफ्तार

» मोहनलालगंज के जबरौली में जालसाजों ने नौकरी और शादी अनुदान के नाम पर ठगी, पकड़ाया फर्जी नियुक्ति पत्र

» फरार पूर्व सांसद जवाहर जायसवाल बैंक कर्मी की हत्या के मामले में मध्य प्रदेश से गिरफ्तार

» अमर सिंह ने कहा-यह सपा-बसपा का नहीं बुआ-बबुआ का गठबंधन

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ मे साइबर जालसाजों ने पूर्व डीजी के खाते से उड़ाए आठ हजार

» राजधानी में नकली शराब का करोड़ों का कारोबार पचास पैसे में देसी शराब बन रही ब्रांडेड

» एसटीएफ टीम ने नलकूप चालक भर्ती परीक्षा में मेरठ के प्रिंसिपल सहित पांच गिरफ्तार

» मोहनलालगंज के जबरौली में जालसाजों ने नौकरी और शादी अनुदान के नाम पर ठगी, पकड़ाया फर्जी नियुक्ति पत्र

» फरार पूर्व सांसद जवाहर जायसवाल बैंक कर्मी की हत्या के मामले में मध्य प्रदेश से गिरफ्तार