यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ मे साइबर जालसाजों ने पूर्व डीजी के खाते से उड़ाए आठ हजार


🗒 शनिवार, जनवरी 12 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

साइबर जालसाजों ने पूर्व डीजी एसवीएम त्रिपाठी को जालसाजी का शिकार बना डाला। बैंक का अधिकारी बताकर क्रेडिट कार्ड दिलाने का झांसा देकर खाते से 8,010 रुपये उड़ा दिए। उन्होंने गोमतीनगर थाने में युवती समेत दो लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

लखनऊ मे साइबर जालसाजों ने पूर्व डीजी के खाते से उड़ाए आठ हजार

गोमतीनगर के विशालखंड तीन निवासी पूर्व डीजीपी एसवीएम त्रिपाठी सीआरपीएफ में डीजी पद पर तैनाती के अतिरिक्त उत्तर प्रदेश मानवाधिकार आयोग के सदस्य भी रहे हैं। पिछले वर्ष 21 जुलाई उनके मोबाइल फोन नंबर पर अनुष्का नाम की युवती की कॉल आई थी। उस युवती ने उनकी बात राकेश नाम के व्यक्ति से भी कराई, जिसने खुद को बैंक का मैनेजर बताया। दोनों ने कार्ड का झांसा देकर उनके मोबाइल फोन पर आया वन टाइम पासवर्ड पूछ लिया और खाते से रुपये उड़ा दिए। जानकारी होने पर रिपोर्ट दर्ज कराई।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» राजधानी में नकली शराब का करोड़ों का कारोबार पचास पैसे में देसी शराब बन रही ब्रांडेड

» एसटीएफ टीम ने नलकूप चालक भर्ती परीक्षा में मेरठ के प्रिंसिपल सहित पांच गिरफ्तार

» मोहनलालगंज के जबरौली में जालसाजों ने नौकरी और शादी अनुदान के नाम पर ठगी, पकड़ाया फर्जी नियुक्ति पत्र

» फरार पूर्व सांसद जवाहर जायसवाल बैंक कर्मी की हत्या के मामले में मध्य प्रदेश से गिरफ्तार

» अमर सिंह ने कहा-यह सपा-बसपा का नहीं बुआ-बबुआ का गठबंधन

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ मे साइबर जालसाजों ने पूर्व डीजी के खाते से उड़ाए आठ हजार

» राजधानी में नकली शराब का करोड़ों का कारोबार पचास पैसे में देसी शराब बन रही ब्रांडेड

» एसटीएफ टीम ने नलकूप चालक भर्ती परीक्षा में मेरठ के प्रिंसिपल सहित पांच गिरफ्तार

» मोहनलालगंज के जबरौली में जालसाजों ने नौकरी और शादी अनुदान के नाम पर ठगी, पकड़ाया फर्जी नियुक्ति पत्र

» फरार पूर्व सांसद जवाहर जायसवाल बैंक कर्मी की हत्या के मामले में मध्य प्रदेश से गिरफ्तार