यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजधानी लखनऊ मेँ पुलिस वालों ने कोयला व्‍यापारी के घर में डाली डकैती, दो दारोगा गिरफ्तार


🗒 शनिवार, मार्च 09 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

विवेक तिवारी हत्याकांड में किरकिरी के बाद भी राजधानी पुलिस ने सीख नहीं ली। शनिवार को दो दारोगाओं ने खाकी के दामन को दागदार कर दिया। सुबह असलहों से लैस दारोगा पवन मिश्रा, आशीष तिवारी समेत सात लोगों ने गोसाईगंज क्षेत्र स्थित ओमेक्स रेजीडेंसी में कोयला व्यवसायी अंकित अग्रहरि के फ्लैट पर धावा बोलकर डकैती डाली।

 राजधानी लखनऊ मेँ पुलिस वालों ने कोयला व्‍यापारी के घर में डाली डकैती, दो दारोगा गिरफ्तार

दारोगा समेत सातों ने व्यवसायी के बेड और दीवान में रखे 1.85 करोड़ रुपये लूट लिए। इसके बाद उन्हें जमकर पीटा। पीडि़त की तहरीर पर दोनों दारोगाओं समेत सात लोगों के खिलाफ डकैती समेत अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। दोनों के आवास से 36 लाख रुपये बरामद भी कर लिए गए। निलंबन के बाद दोनों दारोगाओं को गिरफ्तार कर लिया गया। कोयला कारोबारी अंकित ने बताया कि वह मूल रूप से सुल्तानपुर धनपतगंज निवासी हैं। शनिवार सुबह वह अपने साथी अश्विनी पांडेय, बल्दीखेड़ा गोसाईगंज निवासी अभिषेक वर्मा, शिवरतनगंज अमेठी के अभिषेक सिंह, रुदौली फैजाबाद के कुलदीप यादव, ग्वालियर निवासी जीतेंद्र सिंह तोमर व सचिन के साथ फ्लैट पर थे। इस बीच करीब सात बजे कुछ लोगों ने दस्तक दी।  उसने दरवाजा खोला तो अपार्टमेंट के चौकीदार के साथ सात लोग भीतर घुस आए। इनमें से पुलिस की वर्दी पहने थे। उन्होंने असलहा तान दिया और जान से मारने की धमकी दी। उन्होंने कहा कि तुम्हारे यहां ब्लैकमनी रखी है।इसके बाद पुलिसकर्मियों ने बेड बॉक्स और दीवान के बिस्तर उलट दिए। उनमें रखे रुपये निकाल कर झोले और बैग में भरने लगे। उन्हें रोकने की कोशिश की तो लात-घूंसे और डंडों से हमला बोल दिया। उक्त लोगों ने 1.85 लाख रुपये बैग और झोलों में भर लिए। अपने साथ आए हुए लोगों को रुपयों से भरे बैग और झोले देकर भेज दिया। बेड में बचे 1.53 करोड़ रुपये बक्सों में भरे और ब्लैक मनी का हवाला देते हुए थाने लेकर पहुंचे।मामले की जानकारी मिलने पर सीओ मोहनलालगंज राजकुमार शुक्ला पहुंचे। इतना रुपया बरामद होने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। मामले की जानकारी पर एसएसपी कलानिधि नैथानी ने क्राइम ब्रांच को मौके पर पड़ताल के लिए भेजा। जांच एएसपी ग्रामीण विक्रांत वीर को सौंपी गई। पड़ताल हुई तो दोनों दारोगाओं की साजिश का राजफाश हो गया। एएसपी ग्रामीण ने बताया कि दोनों दारोगाओं के आवास पर तलाशी ली गई तो वहां से 36 लाख रुपये बरामद हुए।

एसएसपी ने बताया कि दारोगा पवन, आशीष के अलावा मधुकर मिश्रा व चार अज्ञात के खिलाफ डकैती समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अन्य की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। सीओ के मुताबिक, बेड और दीवान से मिली नकदी में दो हजार, 500, 200, 100 और 10 रुपये की गड्डियां थीं।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ के गुडंबा में इलेक्ट्रिशियन की गला रेतकर हत्या, अंदर से बंद था घर

» मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में कहा पांच साल में मुंबई जैसी होगी यूपी फिल्म इंडस्ट्री

» राजधानी के RK ज्वैलर्स लूट/हत्याकांड का अल्टीमेटम पूरा, एक हफ्तेभर बाद भी बदमाशों का कोई सुराग नहीं

» अब परिवादवाद पर अखिलेश यादव का दो साल बाद U-Turn, पत्नी डिंपल को दिया लोकसभा का टिकट

» राजधानी लखनऊ में PSP के कार्यकर्ताओं का बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर हल्ला बोल

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ के गुडंबा में इलेक्ट्रिशियन की गला रेतकर हत्या, अंदर से बंद था घर

» जिला बरेली में प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या, मौत से पहले बयान का वीडियो वायरल

» राजधानी लखनऊ मेँ पुलिस वालों ने कोयला व्‍यापारी के घर में डाली डकैती, दो दारोगा गिरफ्तार

» मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में कहा पांच साल में मुंबई जैसी होगी यूपी फिल्म इंडस्ट्री

» पीएम नरेंद्र मोदी के प्रयास से संकरी गलियों से मुक्त हुआ काशी का मुक्ति द्वार