यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा भाजपा सरकार के दो साल राज्य की जनता के लिए अभिशाप साबित हुए


🗒 मंगलवार, मार्च 19 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

प्रदेश में दो साल पूरे कर चुकी भाजपा सरकार पर हमला करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि यह दो साल राज्य की जनता के लिए अभिशाप साबित हुए हैं। चारों तरफ घोर निराशा और हताशा होने का हवाला देते हुए अखिलेश ने कहा कि हर मोर्चे पर राज्य सरकार की नाकामी ही भाजपा की उपलब्धि मानी जा सकती है।सपा अध्यक्ष ने केंद्र सरकार पर एक भी वादा पूरा न करने और नोटबंदी व जीएसटी से अर्थव्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया तो साथ ही प्रदेश की भाजपा सरकार पर भी दो साल में अपनी कोई योजना लागू न कर पाने का तंज कसा। अखिलेश ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था बद से बदतर होती जा रही है। लोग डरे हुए हैैं और सरकारी सेवाएं भी अस्त-व्यस्त हैं। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में अपराध नियंत्रण के लिए शुरू हुईं यूपी डायल 100 और वीमेन पॉवरलाइन 1090 जैसी योजनाओं को भाजपा सरकार ने बर्बाद कर दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा भाजपा सरकार के दो साल राज्य की जनता के लिए अभिशाप साबित हुए

भाजपा सरकार पर किसानों के साथ छल करने का आरोप लगाते हुए सपा अध्यक्ष ने कहा कि कर्ज में डूबे किसान आत्महत्या कर रहे हैं। नौजवान बेरोजगारी के शिकार हैं। उद्योगपति पलायन कर रहे हैं। प्रदेश में पूंजी निवेश नहीं हो रहा है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा अपने कारनामों से, वादाखिलाफी और फरेबी चालों से जनता के बीच अपनी लोकप्रियता पूरी तरह खो चुकी है। उसके दिन गिने चुने रह गए हैं।सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को ट्विटर के जरिये भी सरकार के दो साल और चौकीदार पर कई सवाल पूछे। उन्होंने ट्वीट किया- 'विकास' पूछ रहा है...उत्तर प्रदेश के ठोकीदार से त्रस्त जनता के लिए राहत का कोई उपाय है क्या? प्रदेश की जनता को भाजपा सरकार के दो साल संकट के सौ साल लग रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने लिखा है-विकास' पूछ रहा है...जनता के बैंक खाते से चोरी-छिपे जो पैसे काटे जा रहे हैं, उससे बचाने के लिए कोई चौकीदार है क्या? एक और ट्वीट किया-'विकास' पूछ रहा है...मंत्रालय जहाज की फाइल चोरी होने के लिए जिम्मेदार लापरवाह चौकीदार को सजा मिली क्या?सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को चौकीदार पर सवाल पूछा तो किसानों की भी समस्या उठाई। उन्होंने ट्वीट किया- 'विकास' पूछ रहा है, खाद की बोरी से चोरी रोकने के लिए भी कोई चौकीदार है क्या..? इसी तरह आगरा के एक किसान द्वारा सम्मान निधि की दो हजार रुपये की रकम सरकार को वापस करके आत्महत्या की अनुमति मांगने पर अखिलेश ने कहा- एक तरफ ढाई लोग और उनके मंत्री नाम बदलने में व्यस्त थे तो दूसरी तरफ एक किसान सरकार से आत्महत्या की आज्ञा लेने को मजबूर हो गया। दिन भर खेतों में मेहनत और चौकीदारी करके किसान अन्नदाता पेट नहीं भर पा रहा है। कितनी शर्म की बात है कि किसान देश का पेट भरे और खुद भूखा मरे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ में फेयर इंटरमीडिएट इन्वेस्टमेंट कंपनी के तीन ठिकानों पर छापा

» लखनऊ के बंथरा क्षेत्र में कैब चालक की गला रेतकर हत्या, कार में पड़ा था लहूलुहान शव

» प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने बनाया प्रोग्रेसिव डेमेक्रोटिक एलायंस, बोले-अब भी कांग्रेस से चल रही बात

» बसपा कांग्रेस से दूरी बनाए रखने में ही फायदा देख रही

» उत्तर प्रदेश सरकार के दो साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले- एक भी दंगा नहीं हुआ

 

नवीन समाचार व लेख

» प्रयागराज मे बैट्री चोरों से पुलिस की मुठभेड़, सरगना को गोली लगी व पांच गिरफ्तार

» वाराणसी के दशाश्वमेध इलाके में दूसरा मुन्‍ना बजरंगी बनने की चाह रखने वाला कुख्‍यात रोशन किट्टू साथी संग गिरफ़तार

» UP के बरेली में एक क्विंटल से ज्यादा तो लखनऊ में 45 किलो पकड़ी गई चांदी

» लखनऊ में फेयर इंटरमीडिएट इन्वेस्टमेंट कंपनी के तीन ठिकानों पर छापा

» लखनऊ के बंथरा क्षेत्र में कैब चालक की गला रेतकर हत्या, कार में पड़ा था लहूलुहान शव