यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

तीनों लोकों से न्यारी गोवर्धन पुलिसिया रे। चौकी इंचार्ज अडींग के आगे डीजीपी के आदेश बौने डीजीपी यूपी के आदेश मानना जरूरी प्रतीत नही होता दरोगाओं को


🗒 बुधवार, मार्च 20 2019
🖋 विजय सिंघल, Danik ब्यूरो चीफ मथुरा

ब्यूरो चीफ विजय सिंघल मथुरा के गोवर्धन में वैसे तो उत्तर प्रदेश पुलिस की अपनी एक अलग ही पहचान है कि कैसे रस्सी को सांप और सांप को रस्सी बना दे लेकिन इस बार राजनीति के सबसे बड़े लोकतंत्र पर्व ( चुनावों ) के नाम पर गोवर्धन पुलिस ने एक दलाल विशेष के इशारे पर नाबालिग लड़के के साथ एक अडींग निवासी सम्भ्रांत पत्रकार के अलावा पढ़ने वाले छात्रों के साथ  सैकड़ों लोगों को शांति भंग करने की आशंका में पावन्द कर के अपनी पीठ थपथपाई , जानकारी होने पर पचासियों लोगों ने तहसील पहुँच कर एस डी एम गोवर्धन और सीओ गोवर्धन को पुलिस की कारगुजारियों से अवगत कराया ।

तीनों लोकों से न्यारी गोवर्धन पुलिसिया रे।  चौकी इंचार्ज अडींग के आगे डीजीपी के आदेश बौने    डीजीपी यूपी के आदेश मानना जरूरी प्रतीत नही होता दरोगाओं को

मामला जनपद मथुरा के गोबर्धन थानांतर्गत पुलिस चौकी अडींग का है जहां तैनात चौकी इंचार्ज ने चौकी पर बैठे बैठे ही 350 से अधिक लोगों को 107/116 व 116(3)  सीआरपीसी में पाबन्द कर के अपनी पीठ अपने आप थपथपाई  । चौकी इंचार्ज अडींग ने सम्भ्रांत पत्रकार दिलीप यादव के अलावा एक नाबालिग लड़के मोनू पुत्र यादराम को पावन्द करने के अलावा दर्जनों 18 से 22 साल तक के पड़ने वाले बच्चों को भी पावन्द कर दिया जिनमे से बहुत से बच्चे तो दिल्ली व अन्य जगह रहकर पढ़ाई कर रहे हैं।

जिसकी होने पर अडींग निवासी लोगो एकत्र होकर भाजपा नेता ज्ञानेंद्र राणा व भाजपा नेता और अधिवक्ता रामपाल के साथ आज गोवर्धन तहसील पहुँच कर एसडीएम गोवर्धन को बस्तु स्थिति से अवगत करा रहे थे तभी सीओ गोबर्धन कैलाश चंद पाण्डे भी तहसील पहुँच गये। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि चौकी इंचार्ज अड़िग दलालों की सुनते हैं और उनके कहने पर ही सब उल्टा सीधा किया है जिन लोगों पर अनेकों मुकद्दमे दर्ज है उनको पाबंद नही किया गया है निर्दोषों को पाबंद किया गया है इस बारे में जब सीओ गोबर्धन द्वारा ग्रामीणों से चौकी के दलालों के नाम पूछा तो ग्रामीणों ने गजेन्द्र यादव उर्फ गज्जू यादव का नाम लेते हुए गज्जू यादव पर चौकी में दलाली करने की बात रखी । इस सम्बंध में एक अनोखी बात यह भी सामने आती है कि अभी उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक द्वारा चुनावों में किसी भी पत्रकार मीडिया कर्मी को दुर्भाबना के तहत परेशान या पावन्द नही किया जाए लेकिन चौकी इंचार्ज अडींग के आगे शायद पुलिस महानिदेशक के आदेशों की कोई औकात नही है तभी तो दिलीप यादव जैसे निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकार को भी पावन्द कर दिया गया। अधिकारीद्वय ने ग्रामीणों  की बात सुनकर समस्या को सुनकर समस्या का निराकरण करने का आश्वासन दिया।

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» मथुरा में प्रचार के दौरान अब नहीं मिलते बच्चों को झंडा बिल्ला

» मथुरा के मांट में मतदान से एक घण्टे पूर्व होगा मॉक पोल

» मथुरा के मांट में पुलिस ने किया पैदल मार्च

» मथुरा के मांट में भारतीय स्टेट बैंक ने मनाया होली मिलन समारोह

» मथुरा के बलदेव में एसएसपी ने किया हुरंगा की तैयारियो का निरीक्षण

 

नवीन समाचार व लेख

» मथुरा के मांट में मतदान से एक घण्टे पूर्व होगा मॉक पोल

» मथुरा के मांट में पुलिस ने किया पैदल मार्च

» मथुरा के मांट में भारतीय स्टेट बैंक ने मनाया होली मिलन समारोह

» मथुरा के बलदेव में एसएसपी ने किया हुरंगा की तैयारियो का निरीक्षण

» मथुरा के वलदेव दाऊजी के मंदिर में अनहोनी से निपटने के लिए तीसरी आंख के रूप में सीसीटीवी कैमरों की गयी व्यवस्था