यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला मुजफ्फरनगर में सांड़ की तेरहवीं में हुआ ब्रह्मभोज, पहुंचे विधायक


🗒 सोमवार, अगस्त 06 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मनुष्य का पशुओं के प्रति लगाव अनंत समय से ही है। ताजा उदाहरण मुजफ्फरनगर जिले के बुढ़ाना तहसील के उकावली गांव में देखने को मिला। यहां आवारा सांड़ के हादसे में मारे जाने के बाद उसकी बाकायदा तेरहवीं की गई और एक बछड़े को पगड़ी पहनाई गई। ब्रह्मभोज हुआ। रस्म पगड़ी में राजनीतिक दलों के लोगों के साथ ही क्षेत्रीय विधायक और सांसद के भाई ने भी पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित की।

जिला मुजफ्फरनगर में सांड़ की तेरहवीं में हुआ ब्रह्मभोज, पहुंचे विधायक

लोगों ने सांड़ का नाम भोला रखा था, जिसकी 24 जुलाई को विद्युत तार टूटने के कारण करंट की चपेट में आकर मौत हो गई थी। सांड़ का हिंदू रीति-रिवाज के साथ अंतिम संस्कार किया गया। गांव के देवस्थल गुंसाई बाबा की समाधि के प्रांगण में सामूहिक रूप से उसकी तेरहवीं का आयोजन हुआ। एक गाय के बछड़े को पगड़ी पहनाई गई। ग्रामीणों ने बताया कि यह बछड़ा मृतक सांड़ का है।रस्म तेरहवीं के लिए बकायदा कार्ड छपवाए गए। इन्हें ग्रामीणों ने आसपास के गांवों के साथ रिश्तेदारों में भी वितरित किया। शोकाकुल परिवार में समस्त ग्रामीण लिखवाया गया।  

मुजफ्फरनगर से अन्य समाचार व लेख

» बुलंदशहर में गोकशी को लेकर हुए बवाल के बाद दो गोकशों को मुठभेड़ में लगी गोली, 100 किलो गोमांस बरामद

» पश्चिमी उत्तर प्रदेश के चर्चित विधायक विक्रम सैनी एक बार फिर विवादित बयान - मुझे मंत्रालय सौंप दीजिए, गद्दारों को बम से उड़ा दूंगा

» जिला मुजफ्फरनगर में हनुमान मंदिर पर दलितों ने किया कब्जा, पुजारी को हटाकर प्रसाद बांटा

» जिला मुजफ्फरनगर में हत्या के मामले में सात लोगों को फांसी की सजा

» BJP के दो विधायकों कपिलदेव और विक्रम सैनी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरठ मे चंद्रशेखर ने कहा- हमें मत छेड़ना, कपड़े की तरह फाड़ देंगे

» जिला जौनपुर में शारदा सहायक नहर में पुलिया तोडकर ट्रक गिरने से दो गंभीर रूप से घायल

» गाजीपुर जिले में ऑनलाइन धोखाधड़ी के शिकार युवक ने खुद को आग के हवाले कर दे दी अपनी जान

» मध्य प्रदेश में फर्जी डिग्री से टवारी बने 12 लोगों पर शिकंजा, दस-दस हजार का इनामं घोषित

» लखनऊ पहुंचे लाखों राज्य कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन के लिए ताकत दिखाई