यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जन-धन खातों में जमा रकम का आंकड़ा 64,564 करोड़ रुपये तक पहुंचा


🗒 सोमवार, जुलाई 17 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

जन धन खातों में जमाराशि नए उच्चतम स्तर के साथ 64,564 करोड़ रुपये हो गई है। इसमें से 300 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम तो नोटबंदी के पहले सात महीने में ही जमा हो गई थी। यह जानकारी एक सरकारी डेटा के जरिए सामने आई है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने नोटबंदी का फैसला बीते साल 8 नवंबर को लिया था।

जन-धन खातों में जमा रकम का आंकड़ा 64,564 करोड़ रुपये तक पहुंचा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रमुख योजनाओं में एक समझी जाने वाली प्रधानमंत्री जन धन योजना वित्तीय समावेशन की एक पहल है। इसका उद्देश्य अब तक बैंकिंग सेवाओं से वंचित लोगों को औपचारिक बैंकिंग प्रणाली के दायरे में लाना है। इस योजना के तहत जीरो बैलेंस सुविधा वाले खाते खोले जाते हैं।

पीटीआई भाषा के एक संवाददाता की ओर से दाखिल की गई आरटीआई पर वित्त मंत्रालय ने यह जानकारी दी है। इसके अनुसार 14 जून, 2017 तक 28.9 करोड़ जनधन खाते थे। इनमें से 23.27 करोड़ खाते सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में जबकि 4.7 करोड़ क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों में और 92.7 लाख निजी बैंकों में हैं। मंत्रालय का कहना है कि इन खातों में कुल 64,564 करोड़ रुपये जमा है। उनमें 50,800 करोड़ रुपए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के जनधन खातों में हैं जबकि 11,683.42 करोड़ रुपये क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और 2,080.62 करोड़ रुपये निजी बैंकों में हैं।

जानकारी के मुताबिक 16 नवंबर 2016 प्रधानमंत्री जनधन खातों की संख्या 25.58 करोड़ थी, जिनमें 64,252.15 करोड़ रुपये जमा थे। वित्त राज्य मंत्री संतोष गंगवार ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी थी।

नयी दिल्ली से अन्य समाचार व लेख

» वियतनाम के राष्‍ट्रपति का भारत दौरा, दोनों देशों के हुए तीन समझौते

» बाहरी एजेंसी करेगी फोर्टिस घपले की जांच

» सरकारी बैंकों की 35 विदेशी शाखाएं और कार्यालय बंद

» 'आप' के पूर्व विधायक से पूछे गए 50 सावल, बोले- नहीं हुई मारपीट, कमरे में थे मौजूद

» पैसा लेकर भागने पर जब्त होगी देश-विदेश की संपत्ति

 

नवीन समाचार व लेख

» बांदा जिले मे होली के दिन दलित परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश

» मेरठ मे प्रेमी को बचाने के लिए महिला खिलाड़ी ने खुद पर फ‍िंकवाया था तेजाब

» यूपी में रंग खेलते समय कई जगह खूनी संघर्ष, उन्नाव में दारोगा के धकियाने से बवाल

» 2019 में भाजपा का प्रदर्शन 2014 से भी अच्छा रहेगा : महेंद्र नाथ पाण्डेय

» देवरिया में डबल मर्डर, पिता व पुत्र की हत्या