यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पीएनबी घोटाला: रिजर्व बैंक ने शुरू किया सरकारी बैंकों का विशेष ऑडिट, ट्रेड फाइनैंसिंग पर होगा मुख्य ध्यान


🗒 रविवार, मार्च 11 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

बैंकिंग धोखाधड़ी से परेशान भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने सरकारी बैंकों की विशेष ऑडिट प्रक्रिया शुरू कर दी है। आरबीआई की इस ऑडिट प्रक्रिया में मुख्य ध्यान ट्रेड फाइनैंसिंग गतिविधियों, विशेषकर बैंक की ओर से जारी किए जाने वाले गारंटी पत्र (एलओयू) पर दिया जाएगा। यह जानकारी एक बैंकिंग सूत्र के जरिए सामने आई है।

पीएनबी घोटाला: रिजर्व बैंक ने शुरू किया सरकारी बैंकों का विशेष ऑडिट, ट्रेड फाइनैंसिंग पर होगा मुख्य ध्यान

इसके अलावा आरबीआई ने सभी बैंकों से उन एलओयू के संबंध में विवरण देने को कहा है जो उनकी ओर से उपलब्ध करवाए गए थे, इसके अलावा इसमें बैंकों को बकाया राशि की जानकारी भी देनी होगी। साथ ही केंद्रीय बैंक ने पूछा है कि क्या बैंकों के पास पूर्व अनुमोदित क्रेडिट सीमा थी और क्या गारंटी पत्र जारी करने से पहले बैंकों के पास पर्याप्त नकद मार्जिन उपलब्ध था या नहीं। हाल ही के दिनों में जिन बड़े बैंकिंग धोखाधड़ियों का पता चला था, इनमें नीरव मोदी और उनके सहयोगियों की ओर से किया गया फ्रॉड का मामला भी शामिल है, जो उनके व्यापार से संबंधित था। इसके अलावा कई विलफुल डिफॉल्टर्स के मामले भी सामने आए हैं।

12,646 करोड़ के हालिया पीएनबी घोटाले को बैंकिंग स्टाफ की मदद से एलओयू के जरिए अंजाम दिया गया था। इसे ध्यान में रखते हुए आरबीआई इस ऑडिट में इनसे जुड़े मामलों की भी जांच करेगा। सूत्रों के मुताबिक आरबीआई ट्रेड फाइनैंस से जुड़े उस मामले की जांच करेगा जिसमें लेटर ऑफ क्रेडिट और लेटर ऑफ अंडरटेकिंग जारी करना शामिल है। आपको बता दें कि नीरव मोदी का हाई प्रोफाइल मामला सामने आने के कुछ दिन बाद ही ओरिंएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और बैंक ऑफ महाराष्ट्र से जुड़ा बैंकिंग घोटाला भी उजागर हो गया था।

नयी दिल्ली से अन्य समाचार व लेख

» राज्यसभा में तत्काल तीन तलाक नहीं पेश हो सका विधेयक, अब अध्यादेश लाने की तैयारी

» संसद के उच्‍च सदन राज्‍यसभा में सोनिया गांधी बोलीं हमारी स्थिति है साफ.

» एससी-एसटी विधेयक राज्यसभा से भी पारित, पलट गया सुप्रीम कोर्ट का फैसला

» अब देवरिया, मुजफ्फरपुर कांड के बाद केंद्र सरकार अलर्ट, बाल गृहों के सोशल ऑडिट का आदेश

» देवरिया महिला शेल्टर होम कांड पर राज्यसभा में हंगामा

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने की तैयारी कार रहे शिवपाल फैन्स एसोसियेशन के प्रदेश अध्यक्ष समेत सैकड़ों कार्यकर्ता गिरफ्तार

» 68500 पदों की शिक्षक भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित, 41556 अभ्यर्थी उत्तीर्ण

» कल से रेलवे की नई समय-सारिणी बदल जाएगा सैकड़ों ट्रेनों का समय

» भाजपा सरकार में जनता की सुनवाई नहीं जनता में आक्रोश

» बैकुंठपुर में मेडिकल स्टोर से मुखबिर की सूचना पर नशीली दवावो का जखीरा किया बरामद , पुलिस को मिली बड़ी सफलता