यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि जब तक दाती महाराज दोषी नहीं साबित होते तब तक अखाड़ा परिषद उनके साथ


🗒 मंगलवार, जून 12 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

देश में एक दर्जन से अधिक फर्जी बाबाओं की सूची जारी करने वाला अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद दुष्कर्म के मामले में फंसे दाती महाराज के साथ खड़ा है। परिषद ने साफ कहा है कि अभी तो दाती महाराज पर सिर्फ आरोप लगा है, जब तक वह दोषी साबित नहीं होते हैं, तब तक अखाड़ा परिषद उनके साथ हर मोड़ पर खड़ा है।

 महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि जब तक दाती महाराज दोषी नहीं साबित होते तब तक अखाड़ा परिषद उनके साथ

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के मुखिया महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि जब तक दाती महाराज दोषी नहीं साबित होते तब तक अखाड़ा परिषद उनके साथ खड़ा है। महंत नरेन्द्र गिरि ने कहा कि वह दाती महाराज को बचपन से जानते हैं। उन्होंने आज सुबह फोन कर खुद को बेगुनाह भी बताया है। ऐसे में उनके मामले की गहराई से जांच की जानी चाहिये। अगर किसी भी जांच में दाती महाराज दोषी पाये जाते हैं तो जरूर उन्हें सख्त से सख्त सजा दी जाये।

इस तरह से शनिधाम आश्रम के व्यवस्थापक और महानिर्वाणी अखाड़े के महामंडलेश्वर दाती महाराज को मुश्किल वक्त में साधू संतों की सबसे बड़ी संस्था अखाड़ा परिषद का साथ मिला है। परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि का कहना है कि दाती महाराज पिछले 30 वर्ष से बेटी बचाओ अभियान चला रहे हैं। उन्होंने हजारों बच्चियों को अपनी बेटी की तरह पाला है। राजस्थान में बेटियों को बचाने के लिये दाती महाराज ने बड़ा आंदोलन किया था। जिसका नतीजा है कि आज राजस्थान में बेटियां बची हैं।

इस तरह का अभियान चलाने वाला संत कभी किसी महिला की इज्जत से खिलवाड़ नहीं कर सकता। महंत नरेन्द्र गिरि ने कहा कि दाती महाराज के खिलाफ कोई बड़ी साजिश हुई है और इसी साजिश के तहत उनके खिलाफ फर्जी केस दर्ज कराया गया है। उन्होंने कहा कि वह दाती महाराज को बचपन से जानते हैं। दाती महाराज हमेशा से बेटियों को पढ़ाने व आगे बढ़ाने की सोच रखते हैं। ऐसे में उनके मामले की गहराई से जांच होनी बेहद जरूरी है। जांच पूरी होने तक उनकी गिरफ्तारी भी नहीं होनी चाहिए।उनका कहना है कि अगर दाती महाराज गलत हैं तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन अगर वह बेगुनाह हैं तो उनके खिलाफ हुई साजिश का खुलासा कर उसका पर्दाफाश करना चाहिए। महंत नरेन्द्र गिरि के मुताबिक इस मुश्किल वक्त में अखाड़ों के सभी साधू संत दाती महाराज के साथ हैं। परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि का साफ कहना है कि दाती महाराज को साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। उन पर लगाए गए आरोप साजिश भी हो सकती है इसलिए जांच पूरी होने तक उनकी गिरफ्तारी न की जाए।  

इलाहाबाद से अन्य समाचार व लेख

» भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की कुंभनगरी यात्रा सियासी के बजाय धार्मिक होगी

» इलाहाबाद कुंभ मेले के नाम पर निकाला फर्जी टेंडर, ठगी का शिकार हुआ कारोबारी

» इलाहाबाद के कांग्रेस नेताओं द्वारा जारी किये गए पोस्टर राहुल और PM मोदी के गले लगने पर

» बच्चे छोड़ दो वरना मैं सांसद ही नहीं माफिया डॉन भी हूं बिहार सांसद की धमकी

» उन्नाव गैंगरेप केस की HC में टली सुनवाई, सीबीआई को पेश करनी थी स्‍टेटस रिपोर्ट

 

नवीन समाचार व लेख

» फजलगंज थाना क्षेत्र में डी जी पी के आदेशों को ठेंगा दिखा खुले आम पिलाई जा रही शराब

» भजपा महिला नेता को मकान मालिक ने घर से मारपीट कर निकाला , पुलिस ने कर रही मकान मलिक का सहयोग

» नसा उन्मूलन के लिये संकल्प लेते ग्रामीण

» रायबरेली जिले के लालगंज कोतवाली क्षेत्र मे सड़क हादसा

» क्राइम ब्रांच एएमयू में जिन्ना पर हुए बवाल की जांच करेगी