यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यूपी पुलिस को उन्मादी हिंसा में कड़े निर्देश, विशेष टास्क फोर्स बनेगी


🗒 शुक्रवार, जुलाई 27 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

उन्मादी हिंसा (मॉब लिंचिंग) और हत्या की बढ़ती घटनाओं के दृष्टिगत यूपी पुलिस ने ऐसी जघन्य घटनाओं की रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए हैं। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर डीजीपी ओपी सिंह ने उन्मादी हिंसा को लेकर गाइड लाइन जारी की है। साथ ही ऐसी घटनाओं में आरोपितों से पूरी सख्ती से निपटने के निर्देश दिए गए हैं। जिले में एसएसपी/एसपी ऐसे घटनाओं की रोकथाम के लिए नोडल अधिकारी होंगे, जबकि उनकी सहायता के लिए हर जिले में एक डिप्टी एसपी को नामित किया जाएगा।

यूपी पुलिस को उन्मादी हिंसा में कड़े निर्देश, विशेष टास्क फोर्स बनेगी

कुछ और भी निर्देश 

  • सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों पर इस प्रकार की आपत्तिजनक सूचनाएं प्रसारित करने तथा दूसरों को उकसाने वालों पर शिकंजा कसा जाए। 
  • नोडल अधिकारी ऐसी घटना में पीडि़त पक्ष अथवा वर्ग के खिलाफ नफरत का वातावरण खत्म कराने के लिए आवश्यक कार्रवाई करेंगे। 
  • पूर्व में जहां ऐसी घटनायें हुई हों, वहां प्रभावी पेट्रोलिंग भी की जाये।  
  • रेडियो, दूरदर्शन व मीडिया के जरिये ऐसे मामलों में कठोर कार्रवाई का संदेश भी दिया जाए। 
  • सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक संदेश प्रसारित करने वालों पर शिकंजा कसा जाए। डिप्टी एसपी पर भीड़ के द्वारा की जाने वाली हिंसा को रोकने के लिए प्रभावी कार्रवाई की जिम्मेदारी होगी। नोडल अधिकारी हर जिले में विशेष टास्क फोर्स का भी गठन करेंगे। टास्क फोर्स ऐसे व्यक्तियों की सूचनाएं जुटाएगी जो ऐसी घटनाएं कर सकते हैं अथवा लोगों को उकसाने के लिए भड़काऊ भाषण देने तथा अफवाह फैलाने वाले हैं। पिछले पांच सालों में जहां इस प्रकार की घटनाएं हुई हैं, उन क्षेत्रों व स्थानों को भी सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया गया है। थानावार इन सूचनाओं का ब्योरा समान प्रारूप में जुटाया जाएगा। इसके साथ ही कार्रवाई के लिए कई अन्य महत्वूपर्ण निर्देश दिए गए। 

हमारी पुलिस से अन्य समाचार व लेख

» अब UP COP app के जरिये अब घर बैठे एफआइआर दर्ज कराने लगे पीडि़त, 27 सुविधाएं और भी

» UP पुलिस की साप्ताहिक अवकाश योजना ‘छुट्टी’ पर है

» अभी भी यूपी पुलिस के 1.30 लाख पद हैं खाली ऐसे कैसे अपराध पर लगाम लगा पाएगी यूपी पुलिस

» बड़ा बदलाव ला सकता है पुलिस सुधार आयोग

» राजधानी में 21 साल पहले शहीद हुए दारोगा आरके सिंह की जांबाजी और शौर्य की याद AK 47 को देख भी नहीं हिले थे कदम, छह गोलियां खाने के बाद भी डॉन को दबोचे रहे

 

नवीन समाचार व लेख

» मथुरा मैं 11 को आ सकते हैं पीएम नरेंद्र मोदी

» मथुरा मे यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी के कार्यालय पर विदाई समारोह कार्यक्रम का हुआ आयोजन

» मथुरा में जिला कलेक्ट्रेट पर हुआ विदाई समारोह, दिखा जश्न का माहौल

» मथुरा में चाणक्य युवा संगठन द्वारा गोष्टी का किया गया आयोजन

» मथुरा मे एंटी रोमियो स्क्वायड को लेकर की गई गोष्ठी