यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पीलीभीत में बनेगी 'टाइगर सफारी'


🗒 शुक्रवार, सितंबर 01 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

अमरिया क्षेत्र के हिमकरपुर के बाघ से सबक लेते हुए पीलीभीत में टाइगर सफारी बनाने का फैसला किया गया है। इससे बाघ स्वच्छंद रूप से विचरण कर सकेंगे। टाइगर रिजर्व के दो स्थानों को चिन्हित किया गया है। इस कदम से बाघों को टूरिस्ट आसानी से देख सकेंगे तो उन्हें भी प्राकृतिक वासस्थल मिल सकेगा।

पीलीभीत में बनेगी 'टाइगर सफारी'

टाइगर रिजर्व के जंगल से बाहर निकले बाघों को चिड़ियाघर भेजा जाता है, जहां पर कैदनुमा जिंदगी काटनी पड़ती है। वर्तमान में दियोरिया कलां के जंगल से बाहर निकले बाघ को कानपुर चिड़ियाघर भेजा गया था। पीलीभीत से निकले बाघ को रहमानखेड़ा में पकड़कर लखनऊ चिड़ियाघर में भेज दिया गया था।

वर्तमान समय में जनपद से दो बाघ और एक तेंदुआ चिड़ियाघर की शोभा बढ़ा रहे हैं। अमरिया के हिमकरपुर का बाघ वन विभाग को दर्द दे रहा है। इसी के चलते टाइगर रिजर्व के बफर जोन क्षेत्र को कवर्ड करके टाइगर सफारी बनाने का निर्णय लिया गया, जिसमें पर्यटक घूम भी सकेंगे।

जंगल से बाहर निकले बाघों को सफारी में वाटर होल, भोजन समेत सभी सुविधाएं दी जाएंगी। वन संरक्षक बरेली वृत्त विनोद कृष्ण सिंह ने बताया कि जनपद में टाइगर सफारी का प्रस्ताव बनकर तैयार हो चुका है, जो शासन को भेजा जाएगा। टाइगर रिजर्व के दो स्थानों महोफ रेंज के भगा बीट संख्या-56 और बराही रेंज का बरुआ कोठारा चिन्हित किया गया है। इन दोनों स्थानों में से बेहतर आवागमन वाले स्थान को फाइनल किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि अभी तक उप्र में टाइगर सफारी नहीं है। इटावा में लॉयन सफारी है। देश के रायपुर, तनोवा में टाइगर सफारी हैं। इस संबंध में शासन स्तर से बातचीत हो चुकी है। टाइगर सफारी को रेस्क्यू एंड रीहैबिलीटेशन सेंटर भी कह सकते हैं। टाइगर सफारी के लिए जू अथॉरिटी से परमीशन ली जाएगी। टाइगर सफारी में पर्यटकों को घूमने की सुविधा दी जाएगी, जो बारह माह खुला रहेगा।

पीलीभीत से अन्य समाचार व लेख

» पीलीभीत मे प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने पति पर फेंका तेजाब, झुलसा

» पीलीभीत जिला न्यायालय ने नाबालिग से मुंह काला कर हत्या करने वाले को दी मौत की सजा

» पीलीभीत मे डेढ़ दर्जन को निवाला बना चुका था तेंदुआ, पिंजरे में फंसा

» पीलीभीत जिले में फर्जी बैंककर्मी गैंग का खुलासा, बैंक प्रतिनिधि बनकर लोगों से करते थे धोखाधड़ी

» जनपद पीलीभीत मे भाजपा विधायक का एसडीएम को पैसे देने का ऑडियो वायरल

 

नवीन समाचार व लेख

» सुप्रीम कोर्ट में अपील पर सुनवाई से पहले सज्जन कुमार को जाना होगा जेल

» कल्याणपुर में एसटीएफ ने रेलवे परीक्षा में दो सॉल्वर समेत तीन शातिरों को किया गिरफ्तार

» बुलंदशहर हिंसा के आरोपी विशाल त्यागी ने किया कोर्ट में सरेंडर

» प्रदेश सरकार ने महिला सश्कतीकरण योजनाओं का सच जानने 1.39 करोड़ महिलाओं तक पहुंची सरकार

» उत्तर प्रदेश जल निगम अध्यक्ष अब लाभ का पद होगा12 प्रस्तावों को मंजूरी