रायबरेली मे श्रीमद्भागवत कथा में बही रसधार

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

रायबरेली मे श्रीमद्भागवत कथा में बही रसधार


🗒 मंगलवार, फरवरी 13 2018
🖋 पंकज जैसवाल, ब्यूरो प्रमुख रायबरेली

रायबरेलीः-मझिगवां राव में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में कथा प्रवक्ता पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने श्रीमद्भागवत की व्युत्पत्ति करते हुए कहा कि भागवत किसी एक धर्म अथवा देश के लिए नहीं अपितु समग्र विश्व का कल्याण करने वाला एक ग्रंथ के साथ ही साथ आध्यात्मिक शांति जागृति का एक माध्यम है। भागवत की कथा श्रवण तथा सिद्धांतो को जीवन में उतारने पर जोर देते हुये प्रवक्ता ने बताया कि भक्ति ज्ञान और वैराग्य तीनों एक साथ पोषित करने और विवेक बुद्धि को बढ़ाने वाला ग्रंथ है। पांचवे दिन की कथा में बताया कि भागवत कथा का प्राण गोपी गीत का विवेचन करते हुए कहा कि गोपी रूपी जीव का कृष्ण परमात्मा से योग होना ही रास है।आज के परिपेक्ष में कथा के बड़े-बड़े योगी ध्यानी जो जीवन में साधना करते हुए भी कृष्ण को नहीं पा सकते उसे गोपियों ने प्रेम के माध्यम से पा लिया। कृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन करते हुए पंचमहाभूतों का शोधन करने की बात कही। गोवर्धन की कथा करते हुए गाय की रक्षा संवर्धन की आवश्यकता पर बल दिया और बताया कि शरीर रूपी पर्वत को कृष्ण रुपी परमात्मा अपने हाथ पर सात दिनों तक धारण रखते है।ं

रायबरेली मे श्रीमद्भागवत कथा में बही रसधार

रायबरेली से अन्य समाचार व लेख

» रायबरेली के बछरांवा थाना क्षेत्र मे फ्लाईओवर से गिरा ट्रक हादसा

» रायबरेली जेल से गवाहों को धमकी

» नसा उन्मूलन के लिये संकल्प लेते ग्रामीण

» रायबरेली जिले के लालगंज कोतवाली क्षेत्र मे सड़क हादसा

» मंडी समिति के द्वारा किसानो को दी गयी खलिहान बीमा योजना की चेके

 

नवीन समाचार व लेख

» जुआ खेलते 4 गिरफ्तार

» यंग इंडियन व नेशनल हेराल्ड मामले में आज होगी सुनवाई सोनिया व ऑस्कर फर्नाडिस ने भी दी IT के नोटिस को चुनौती

» अब थर्मोकोल व प्लास्टिक के कप-प्लेट व ग्लास पर प्रतिबंध कल से

» सीएम योगी आदित्यनाथ अयोध्या में आज रामचंद्रदास परमहंस को श्रद्धांजलि देंगे

» जिला प्रतापगढ़ में सपा के सेक्टर प्रभारी की हत्या, विरोध में हाइ-वे जाम