यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

छह घंटे तक सुलगता रहा सहारनपुर, अंबेडकर शोभायात्रा को लेकर विवाद


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 21 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

अंबेडकर शोभायात्र निकालने को लेकर गांव सड़क दूधली सुलग उठा। दो संप्रदाय के लोगों के बीच पथराव, फायरिंग, आगजनी और लूटपाट हुई। आधा दर्जन से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ता चोटिल हो गए। मंडलायुक्त की गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। छह घंटे तक गांव से लेकर एसएसपी आवास तक उपद्रव होता रहा। पुलिस ने हालात पर बमुश्किल काबू पाया।

छह घंटे तक सुलगता रहा सहारनपुर, अंबेडकर शोभायात्रा को लेकर विवाद

सहारनपुर शहर में भी सन्नाटा पसर गया। पूरे जिले में हाईअलर्ट घोषित कर दिया गया है। मेरठ जोन के आइजी अजय आनंद भी मौके पर पहुंच गए हैं। गांव में पुलिस बल तैनात है। उधर, पत्थर लगने से घायल हुए एसएसपी लवकुमार ने देर शाम अपना मेडिकल कराया। गुरुवार की सुबह भाजपा सांसद राघव लखनपाल शर्मा, पूर्व विधायक राजीव गुंबर व प्रशासनिक अधिकारियों के बीच हुई वार्ता में तय हुआ कि अंबेडकर शोभायात्र सड़क दूधली गांव के बाहर से निकाली जाएगी।

दोपहर करीब 12 बजे शोभायात्रा शुरू हुई तो भाजपाई अफसरों को धक्का देकर गांव में घुस गए। इससे अफसरों के हाथ-पांच फूल गए। मस्जिद के निकट से संप्रदाय विशेष के लोगों ने छतों से शोभायात्र पर पथराव व फायरिंग शुरू कर दी। मौके पर पहुंचे डीएम एमएस कमाल व एसएसपी लवकुमार ने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन बात नहीं बनी।

सांसद गांव के अंदर से ही यात्रा निकाले जाने पर अड़ गए। संप्रदाय विशेष के लोगों ने रास्ते में ट्राली खड़ी कर दी। इसके बाद फिर पथराव शुरू हो गया। दुकानों में तोड़फोड़ शुरू हो गई। दून हाईवे पर आगजनी की गई। पुलिस ने शोभायात्रा का रथ व बैंड सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।एसएसपी आवास में तोड़फोड़: सांसद राघव लखनपाल, विधायक कुंवर बृजेश सिंह व प्रदीप चौधरी एसएसपी आवास पर धरना देकर बैठ गए। लोगों ने सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए, नेम प्लेट उखाड़ दी। यहां एक व्यक्ति से मारपीट कर उसकी बाइक फूंक दी गई। बीच-बचाव में आए सिपाही राजबीर का हाथ तोड़ दिया।

क्या कहते हैं सांसद और पुलिस: सांसद राघव लखन पाल का कहना है, 'एसएसपी ने जानबूझ कर शोभायात्र की अनुमति नहीं दी। एसएसपी उपद्रवियों को रोकने के बजाए वहां से चले गए। उन्होंने खुद ही अपने आवास में तोड़फोड़ कराई है। शासन से अनुमति के बाद यात्र निकाली जाएगी।' वहीं आइजी मेरठ जोन, अजय आनंद कहते हैं, 'उपद्रवियों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कहीं भी फायरिंग नहीं हुई है। शासन की अनुमति के बाद ही शोभायात्र निकलवाई जाएगी। फिलहाल सहारनपुर में शांति है।'

सहारनपुर से अन्य समाचार व लेख

» प्रिया प्रकाश के गाने पर दारुल उलूम देवबंद का ऐतराज

» सहारनपुर में शादी से चंद घंटे पहले युवती ने प्रेमी संग दी जान

» उलमा ने नकवी के आरती व जलाभिषेक करने को बताया सियासी ढोंग

» दारुल उलूम का फतवा- गैर मर्दों के हाथ से मुस्लिम महिलाओं का चूड़ी पहनना गुनाह

» तीन तलाक: मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के मॉडल निकाहनामे को देवबंदी उलेमा का समर्थन

 

नवीन समाचार व लेख

» एफआइयू की रिपोर्टों को गंभीरता से लेते, तो इतना बड़ा नहीं होता पीएनबी घोटाला

» नीरव मोदी के मुंबई के आलीशान बंगले तक पहुंची सीबीआइ, जब्त हो सकता है बंगला

» राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में अहंकार की कोई जगह नहीं : मोहन भागवत

» अनपरा के मुख्य महाप्रबंधक के खिलाफ चार्जशीट जारी करने के निर्देश

» कैबिनेट फैसलेः माल के परिवहन और भंडारण को सुविधाओं का संजाल