यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

इस्लाम में हराम है इच्छामृत्यु, फैसले पर पुनर्विचार करे सुप्रीम कोर्ट: देवबंदी उलेमा


🗒 बुधवार, मार्च 14 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सुप्रीम कोर्ट द्वारा इच्छामृत्यु की इजाजत के फैसले पर देवबंदी उलेमा इसे न सिर्फ इस्लाम के खिलाफ, बल्कि इसे आत्महत्या बता रहे हैं. इतना ही नहीं उलेमा ने बताया कि इस्लाम में इच्छामृत्यु नाजायज ही नहीं हराम भी है.

इस्लाम में हराम है इच्छामृत्यु, फैसले पर पुनर्विचार करे सुप्रीम कोर्ट: देवबंदी उलेमा

मुफ़्ती ने बताया कि बीमारी या मुसीबत में भी मौत की दुआ करने की भी इस्लाम में इजाजत नहीं है. जीवन और मृत्यु अल्लाह के हाथ में है. इसमें मनुष्य का कोई हस्तक्षेप नहीं. लिहाजा सुप्रीम कोर्ट को अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए.
बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसले में मरणासन्न व्यक्ति द्वारा इच्छामृत्यु के लिए लिखी गई वसीयत (लिविंग विल) को गाइडलाइन्स के साथ कानूनी मान्यता दे दी है. कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा कि मरणासन्न व्यक्ति को यह अधिकार होगा कि कब वह आखिरी सांस ले. कोर्ट ने कहा कि लोगों को सम्मान से मरने का पूरा हक है.
ज्ञात हो कि 'लिविंग विल' एक लिखित दस्तावेज होता है. जिसमें कोई मरीज पहले से यह निर्देश देता है कि मरणासन्न स्थिति में पहुंचने या रजामंदी नहीं दे पाने की स्थिति में पहुंचने पर उसे किस तरह का इलाज दिया जाए. 'पैसिव यूथेनेशिया' (इच्छामृत्यु) वह स्थिति है जब किसी मरणासन्न व्यक्ति की मौत की तरफ बढ़ाने की मंशा से उसे इलाज देना बंद कर दिया जाता है.
मौलाना सलिम अशरफ कासमी ने कहा कि इस्लाम में ये जायज नहीं है. ऐसी स्थिति ही पैदा नहीं होनी चाहिए, जिससे किसी को आत्महत्या करनी पड़े. समाज में सभी को सिर उठाकर जीने का हक मिला हुआ है.

सहारनपुर से अन्य समाचार व लेख

» सपा विधायक के खिलाफ सहारनपुर में मुकदमा

» सहारनपुर जिले मे मामूली विवाद में बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या

» सहारनपुर मे भाभी के साथ अवैध संबंध के लिए टोकने वाली पत्नी को चाकू मारा

» सहारनपुर में रोडवेज बस ने स्कूली बच्चों को ले जा रहे ई-रिक्शा को टक्कर एक छात्रा की मौत, आठ घायल

» सपा विधायक नाहिद हसन ने सहारनपुर में दुष्कर्म पीडि़ता के पिता को दी धमकी

 

नवीन समाचार व लेख

» अब महागठबंधन का सियासी मंच सजने से पहले ही पीएम उम्मीदवारी पर शह-मात का खेल शुरू

» सीएम योगी ने माब लिंचिंग को लेकर चल रहे बवाल पर कहा मनुष्य और गाय दोनों ही महत्वपूर्ण

» लोकसेवा आयोग से एक अभ्यर्थी को दो प्रवेशपत्र

» मुख्यमंत्री योगी का प्रशिक्षु आरक्षियों को पहली वर्चुअल क्लास में अनुशासन पाठ

» फतेहगढ़ सेंट्रल जेल में बंद राठी की वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी